Monday, June 17, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइजरायल पर रॉकेट छूटता देख खुशी से चिल्लाए इस्लामी कट्टरपंथी: भूले 'इंसानियत' वाला ज्ञान,...

इजरायल पर रॉकेट छूटता देख खुशी से चिल्लाए इस्लामी कट्टरपंथी: भूले ‘इंसानियत’ वाला ज्ञान, आतंकी संगठन हमास की तारीफ में जुटे

इजरायल पर हुए इस हमले के बाद कट्टरपंथियों ने जश्न मनाया है। किसी ने चिल्लाकर अपनी खुशी जताई और किसी ने सोशल मीडिया पर। इस दौरान वह अपना 'मानवाधिकार और इंसानियत' वाला ज्ञान भूल गए, जो कि इजरायल की जवाबी कार्रवाई में वो जगह-जगह देते दिखते हैं।

हमास ने इजरायल की राजधानी तेल अवीव को निशाना बना कर कई रॉकेट दागे हैं। रविवार (26 मई 2024) को ये रॉकेट गाजा पट्टी से दागे गए हैं। हमले की जिम्मेदारी अल कासिम ब्रिगेड ने ली है। एक बयान जारी करते हुए अल कासिम ब्रिगेड ने इसे इजरायल द्वारा किए जा रहे नरसंहार का जवाब बताया है। पिछले 4 महीने में हमास की तरफ से इजरायल पर किया गया ये सबसे बड़ा हमला है। इजरायल पर हुए इस हमले के बाद कट्टरपंथियों ने जश्न मनाया है। साथ ही ‘मानवाधिकार और इंसानियत’ की दुहाई की जगह हमास को सराहा है।

इन हमलों के वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं। वायरल वीडियो में शहर के एक हिस्से में धुँआ उठते देखा जा सकता है। रॉकेट से 12 से अधिक इजरायली शहरों के अलग-अलग हिस्सों को टारगेट किया गया है।

हमास के अल अक्सा टीवी द्वारा इन हमलों की पुष्टि की गई है। बताया जा रहा है कि हमले के बाद तेल अवीव में अलर्ट जारी किया गया है। शहर में सायरन की आवाजें आ रहीं है। तेल अवीव के अलावा इजरायल के अन्य शहरों में भी सुरक्षा बलों को चौकन्ना कर दिया गया है। हालाँकि इजरायल ने आधिकारिक रूप से बताया कि इन हमलों से कोई हताहत नहीं हुआ। यह हमला ऐसे मौके पर हुआ है जब दक्षिणी इस्राइल से गाजा में उन ट्रकों को घुसने की अनुमति मिल गई है जो राहत सामग्री लेकर जा रहे हैं।

इजरायल पर हुए इस हमले के बाद कट्टरपंथियों ने जश्न मनाया है। वायरल हो रहे वीडियो में आसमान से गुजर रहे रॉकेटों को देख कर उन्हें ख़ुशी से चिल्लाते देखा जा सकता है। मोसाब हसन ने एक चित्र अपने X हैंडल पर डालते हुए इन हमलों को ‘माइंड ब्लोइंग’ करार दिया है। हालाँकि ये चित्र असली हैं या एडिटेड इसकी जानकारी अभी तक सामने नहीं आई है।

हालाँकि इजरायल के आयरन ड्रोम ने अधिकतर रॉकेट को हवा में ही मार गिराया है लेकिन कई कट्टरपंथियों ने इसका भी मजाक उड़ाया है। फिलिस्तीन समर्थक @NalCordob नाम के X हैंडल ने इसी आशय से एक एडिटेड तस्वीर शेयर की है।

@HilzFuld नाम के एक X हैंडल ने जश्न मनाते कुछ लोगों की तस्वीर शेयर की है। उन्होंने दावा किया है कि ये तस्वीरें गाजा की है जहाँ लोग इजरायल पर हमास के रॉकेट हमले पर ख़ुशी जाहिर कर रहे हैं। इन लोगों को आतिशबाजी करते भी देखा जा सकता है। हालाँकि इस हैंडल ने यह भी दावा किया है कि जश्न मनाने वाले सोच रहे हैं कि हमास के हमले के इजरायल का काफी नुकसान हुआ है जो कि सही नहीं है।

माना जा रहा है कि हमास द्वारा किए गए इन हमलों के बाद राहत सामग्री वाले ट्रकों वाला समझौता अधर में पड़ सकता है। इस बीच इजरायल ने रफा इलाके में हमास के आतंकियों के छिपे होने की आशंका जताई है। तमाम वैश्विक दबाव के बावजूद इसी वजह से इजरायल रफा पर लगातार हमले कर रहा है। 1 दिन पहले ही इजरायल के हवाई हमले में 5 फिलिस्तीनियों की मौत हो गई थी। माना यह भी जा रहा है कि रॉकेटों से हुए हमले के बाद इजरायल गाजा में अपने हमलों में तेजी भी ला सकता है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -