Monday, November 29, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपाक में नाबालिग हिंदू लड़की के जबरन धर्म परिवर्तन पर भारतीयों का लंदन में...

पाक में नाबालिग हिंदू लड़की के जबरन धर्म परिवर्तन पर भारतीयों का लंदन में इंसाफ दिलाने के लिए प्रदर्शन जारी

15 जनवरी को सिंध प्रांत के जकोबाबाद निवासी विजय कुमार की 15 वर्षीय बेटी महक कुमारी को अली रजा नाम के एक युवक ने अगवा कर लिया था। जिसके बाद आरोपित युवक ने महक कुमारी को जबरन इस्लाम धर्म कबूल कराकर उससे निकाह कर लिया।

ब्रिटेन के लंदन में भारतीय प्रवासियों ने संयुक्त राष्ट्र (UN) कार्यालय के बाहर पाकिस्तान के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। भारतीय प्रवासियों ने पाकिस्तान में एक नाबालिग हिंदू लड़की महक कुमारी, जिसे जबरन इस्लाम में परिवर्तित किया गया था और सिंध में मुस्लिम व्यक्ति से शादी कराई गई थी, के लिए न्याय की माँग की।

प्रदर्शन के दौरान प्रदर्शनकारियों ने ‘जस्टिस फॉर महक कुमारी’, ‘स्टैंड अप फॉर ह्यूमन राइट्स’ जैसे पोस्टर लेकर नारे लगाते दिखे। बता दें कि महक कुमारी को इंसाफ दिलाने के लंदन में पाकिस्तान के खिलाफ लगातार विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं।

बीते 15 जनवरी को सिंध प्रांत के जकोबाबाद निवासी विजय कुमार की 15 वर्षीय बेटी महक कुमारी को अली रजा नाम के एक युवक ने अगवा कर लिया था। जिसके बाद आरोपित युवक ने महक कुमारी को जबरन इस्लाम धर्म कबूल कराकर उससे निकाह कर लिया।

इस घटना में आरोपित दो बार शादी कर चुका है और उसके 4 बच्चे भी है, उसके बाद उसने ऐसी घिनौनी हरकत को अंजाम दिया था। मामला कोर्ट में पहुँचने के बाद महक ने जज के सामने कहा कि उसे इस्लाम धर्म में नहीं रहना, ना ही उसे किसी मुस्लिम युवक के साथ रहना है। पीड़ित महक कुमारी ने कहा था कि उसे अपने घर जाना है और अपने माता-पिता के साथ रहना है।

महक के इस बयान के बाद पाकिस्तानी मौलवियों ने उसे मौत के घाट उतारने का फतवा भी जारी किया था। अभी हाल ही में जकोबाबाद सेशन कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा कि महक कुमारी को चाइल्ड शेल्टर होम में दो साल तक रखा जाएगा। हालाँकि, कोर्ट के इस फैसले से कोई भी खुश नहीं है। ज्ञात हो कि इससे पहले बीते 17 और 18 फरवरी को भी प्रवासी भारतीयों ने महक को इंसाफ दिलाने के लिए लंदन स्थित पाकिस्तानी दूतावास के बाहर विरोध प्रदर्शन किया था।

‘इस्लाम कबूल नहीं, डर कर किया था निकाह’ – नाबालिग हिन्दू लड़की के लिए कट्टरपंथियों ने माँगी मौत की सजा

मैं अली के साथ नहीं रहना चाहती, मुझे इस्लाम कबूल नहीं: 15 साल की लड़की ने कोर्ट में लगाई गुहार

15 साल की हिन्दू लड़की ने अमरोत शरीफ में क़बूल किया इस्लाम, 4 बच्चों के बाप से हुआ निक़ाह

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बेचारा लोकतंत्र! विपक्ष के मन का हुआ तो मजबूत वर्ना सीधे हत्या: नारे, निलंबन के बीच हंगामेदार रहा वार्म अप सेशन

संसद में परंपरा के अनुरूप आचरण न करने से लोकतंत्र मजबूत होता है और उस आचरण के लिए निलंबन पर लोकतंत्र की हत्या हो जाती है।

‘जिनके घर शीशे के होते हैं, वे दूसरों पर पत्थर नहीं फेंका करते’: केजरीवाल के चुनावी वादों पर बरसे सिद्धू, दागे कई सवाल

''अपने 2015 के घोषणापत्र में 'आप' ने दिल्ली में 8 लाख नई नौकरियों और 20 नए कॉलेजों का वादा किया था। नौकरियाँ और कॉलेज कहाँ हैं?"

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
140,506FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe