Monday, April 22, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइजराइली शराब की बोतलों पर महात्मा गाँधी, PM मोदी और नेतन्याहू को पत्र लिख...

इजराइली शराब की बोतलों पर महात्मा गाँधी, PM मोदी और नेतन्याहू को पत्र लिख जताई गई आपत्ति

इस तस्वीर में महात्मा गाँधी को टी-शर्ट, स्टाइलिश काला चश्मा और ओवरकोट पहने हुए दिखाया गया है, जिस पर गाँधीवाड़ी संस्था ने आपत्ति जताई है। जोस का कहना है कि गाँधी की तस्वीर को यह सब पहनाना उनका मज़ाक बनाने के समान है।

इजराइल की एक कम्पनी द्वारा शराब की बोतलों पर राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की तस्वीर लगा कर बेचे जाने का मामला सामने आया है। माका ब्रेवरी नामक कम्पनी द्वारा शराब की बोतल पर गाँधीजी की तस्वीर लगाने का मामला सामने आने के बाद कई लोगों ने आपत्ति जताई है। केरल स्थित महात्मा गाँधी नेशनल फाउंडेशन के चेयरमैन एबी जे जोस ने इस मामले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से शिकायत दर्ज कराई है। जोस ने इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू को भी पत्र लिख कर इस मामले से अवगत कराया है। उन्होंने शराब की बोतलों से गाँधीजी की तस्वीरों को हटाए जाने के साथ-साथ कम्पनी पर भी कड़ी कार्रवाई करने की माँग की है

इस तस्वीर में महात्मा गाँधी को टी-शर्ट, स्टाइलिश काला चश्मा और ओवरकोट पहने हुए दिखाया गया है, जिस पर गाँधीवाड़ी संस्था ने आपत्ति जताई है। जोस का कहना है कि गाँधी की तस्वीर को यह सब पहनाना उनका मज़ाक बनाने के समान है। अमित की वेबसाइट ‘हिपस्ट्रॉरी डॉट कॉम’ पर भी इस तस्वीर को दिखाया गया है और कहा जा रहा है कि इसे अमित द्वारा ही डिज़ाइन किया गया है। जोस ने दावा किया कि इस वेबसाइट पर कई ऐसी चीजें बिक रही हैं, जिसमें गाँधीजी का मज़ाक उड़ाया गया है।

बता दें कि गाँधीजी शराब के प्रयोग के ख़िलाफ़ थे और शराब पीने के ख़िलाफ़ उन्होंने अभियान भी चलाया था। 30 जनवरी को उनकी पुण्यतिथि पर और 2 अक्टूबर को उनके जन्मदिवस पर पूरे भारत में शराबबंदी रहती है और शराब के सारे दुकानों को बंद रखा जाता है। ऐसे में गाँधी की तस्वीर लगा कर शराब बेचना सचमुच ग़लत है। महात्मा गाँधी पूरे देश में शराब पर प्रतिबन्ध की वकालत करते रहे थे। गाँधी जी का कहना था कि अल्कोहल लेने के बाद व्यक्ति किसी जानवर की तरह हो जाता है और वो अपनी पत्नी और बहन में भी फ़र्क़ महसूस करने में विफल होता है। इसीलिए, यह ग़लत है।

बिहार और छत्तीसगढ़ में शराब के ख़िलाफ़ चले अभियानों में गाँधीजी की शिक्षा का हवाला दिया गया। ऐसे में, सोशल मीडिया पर लोगों ने उनकी तस्वीर लगा कर शराब बेचने को अनुचित बताया। दरअसल, कम्पनी ने कई ऐतिहासिक महान व्यक्तित्व के तस्वीर लगा कर अलग-अलग बियर की बोतलें जारी की, जिनमें से एक में महात्मा गाँधी की भी तस्वीर है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिमों के लिए आरक्षण माँग रही हैं माधवी लता’: News24 ने चलाई खबर, BJP प्रत्याशी ने खोली पोल तो डिलीट कर माँगी माफ़ी

"अरब, सैयद और शिया मुस्लिमों को आरक्षण का लाभ नहीं मिलता है। हम तो सभी मुस्लिमों के लिए रिजर्वेशन माँग रहे हैं।" - माधवी लता का बयान फर्जी, News24 ने डिलीट की फेक खबर।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe