Friday, June 21, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयरमजान में बाजार में खा रहे थे खाना, पुलिस ने रोजा नहीं रखने पर...

रमजान में बाजार में खा रहे थे खाना, पुलिस ने रोजा नहीं रखने पर 11 को किया गिरफ्तार: गैर मुस्लिमों से कहा- खाना बनाते दिखे तो मिलेगी सजा

नाइजीरिया का कानो राज्य एक मुस्लिम बहुसंख्यक आबादी वाला राज्य है जहाँ इस्लामी कानून शरिया के हिसाब के चीजें संचालित होती हैं। यहाँ की पुलिस को हिस्बाह के नाम से जाना जाता है।

नाइजीरिया में रमजान के महीने में रोजा न रखने वालों को पुलिस गिरफ्तार कर रही है। मामला वहाँ के उत्तरी कानो का है। वहाँ 11 मुस्लिमों को रमजान में रोजा रखने के समय पर मार्केट में खाना खाता देखे जाने पर यह कार्रवाई हुई।

जानकारी के मुताबिक कानो एक मुस्लिम बहुसंख्यक आबादी वाला राज्य है जहाँ इस्लामी कानून शरिया के हिसाब के चीजें संचालित होती हैं। यहाँ की पुलिस को हिस्बाह के नाम से जाना जाता है।

ये पुलिस हर साल रमजान के दौरान होटल, रेस्टोरेंट और मार्केट वाली जगहों पर तलाशी लेती है और जो कोई उन्हें रोजे की जगह ऐसे खाता-पीता मिलता है उन्हें गिरफ्तार कर लेती है।

12 मार्च 2024 को भी ऐसा ही हुआ। मार्केट प्लेस में जाँच करने निकली पुलिस को ऐसे 11 लोग मिले, जिसके बाद फौरन उन्होंने उनको गिरफ्तार कर लिया। बाद में इन लोगों को एक कसम दिलवाई गई कि वह दोबारा जानबूझकर अपना रोजा नहीं छोड़ेंगे। ये कसम दिलाकर उन्हें छोड़ दिया गया।

इन 11 लोगों में 1 मूँगफली बेचने वाली महिला भी शामिल थी। पुलिस की नजर जब उसपर पड़ी तब वो अपने ही सामान से निकालकर कुछ-कुछ खा रही थी। पुलिस ने उसे भी गिफ्तार करके रोजा न तोड़ने की कसम दिलाई।

बता दें कि कानो की इस्लामिक पुलिस हिस्बाह ने साफ कहा है कि उनके यहाँ पर रमजान के समय ऐसा तलाशी अभियान जारी रहेगा। केवल गैर मुस्लिमों को इसमें छूट दी जाएगी कि वो रोजे के समय में खा पी सकते हैं। उन्हें सजा तब मिलेगी जब पता चलेगा कि वो रोजाधारी मुसलमानों के रोजे के समय कुछ पका कर बेच रहे हैं जिससे मुसलमानों को लालच आए।

मालूम हो कि इस बार रमजाम 11 मार्च से 9 अप्रैल के बीच में हैं। इस दौरान नाइजीरिया की इस्लामिक पुलिस हर सार्वजनिक स्थानों पर सक्रिय होकर रोजा न रखने वालों को पकड़ने के लिए घूम रही है। जानकारी के मुताबिक रमजान के महीने में मुस्लिमों के लिए रोजे के वक्त, खाना-पीना, सेक्स करना, धूम्रपान करना सब वर्जित होता है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अभी तिहाड़ जेल से बाहर नहीं आ पाएँगे दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल, हाई कोर्ट ने बेल पर लगाई रोक: ED ने बताया- अब...

दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट से बेल मिलने के बाद भी अभी सीएम केजरीवाल जेल से रिहा नहीं होंगे। ईडी के विरोध पर दिल्ली हाई कोर्ट ने बेल पर रोक लगा दी है।

साल भर में 70% कम हुआ स्विस बैंकों में रखा धन, 2019 से भारत के साथ जानकारी साझा कर रहा है स्विट्जरलैंड: जानिए क्यों...

भारत में ग्राहक जमा खातों और अन्य बैंक शाखाओं के माध्यम से रखी गई धनराशि में भी काफी गिरावट आई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -