Friday, July 19, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपरमाणु हथियारों का जखीरा बढ़ाएगा उत्तर कोरिया: मिसाइलें दाग कर की नए साल की...

परमाणु हथियारों का जखीरा बढ़ाएगा उत्तर कोरिया: मिसाइलें दाग कर की नए साल की शुरुआत, किम जोंग उन ने कहा- हम होंगे सबसे बड़े न्यूक्लियर पॉवर

किम ने शनिवार (31 दिसंबर 2022) को एक सुपुर्दगी समारोह में कहा, "हमने परमाणु के लिए परमाणु से जवाब देने और चौतरफा टकराव के लिए चौतरफा संघर्ष करने की अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति की घोषणा की है।" उन्होंने कहा कि नए साल में उनका लक्ष्य सबसे शक्तिशाली परमाणु शक्ति संपन्न राष्ट्र बनना है।

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन (North Korean leader Kim Jong Un) ने मिसाइल परीक्षण के साथ नए साल की शुरुआत की है। उत्तर कोरिया ने रविवार (1 जनवरी 2023) की सुबह जो मिसाइल टेस्ट की, उसकी मारक क्षमता करीब 400 किलोमीटर है। उस दौरान किम जोंग नए साल में परमाणु हथियारों की संख्या बढ़ाने संकल्प लिया।

सत्तारूढ़ वर्कर्स पार्टी की एक बैठक में किम जोंग उन ने उत्तर कोरिया संप्रभुता और सुरक्षा के लिए सैन्य क्षमता में जबरदस्त बढ़ोतरी की बात कही है। उन्होंने कहा कि इस पूरे साल अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइलों का विकास एवं निर्माण तथा एक बड़े परमाणु शस्त्रागार को विकसित करने का आह्वान किया।

उत्तर कोरिया के तानाशाह का यह बयान उस वक्त आया है, जब अमेरिकी सहयोग वाले उसके पड़ोसी देश दक्षिण कोरिया के साथ संबंधों में तनाव बढ़ रहा है। किम ने आरोप लगाया कि अमेरिका दक्षिण कोरिया में लगातार अपने परमाणु हथियारों की तैनाती कर रहा है और उत्तर कोरिया पर हमले कर उसे अलग-थलग करना चाहता है।

कोरियन सेंट्रल न्यूज़ एजेंसी’ (KCNA) के मुताबिक, किम ने कहा कि उत्तर कोरिया के अंतरमहाद्विपीय बैलिस्टिक मिसाइल सिस्टम और परमाणु हथियारों में वृद्धि का उद्देश्य किसी पर हमला करना नहीं, बल्कि परमाणु हमले का त्वरित जवाब देना है।

केसीएनए ने कहा कि उत्तर कोरिया एक अलग डिस्पैच में परमाणु हथियार ले जाने में सक्षम 600 मिमी सुपर-लार्ज मल्टीपल रॉकेट लॉन्चर का परीक्षण कर रहा है। किम ने सिस्टम की 30 इकाइयों को वितरित करने के लिए युद्ध सामग्री उद्योग की सराहना की।

किम ने शनिवार (31 दिसंबर 2022) को एक सुपुर्दगी समारोह में कहा, “हमने परमाणु के लिए परमाणु से जवाब देने और चौतरफा टकराव के लिए चौतरफा संघर्ष करने की अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति की घोषणा की है।” उन्होंने कहा कि नए साल में उनका लक्ष्य सबसे शक्तिशाली परमाणु शक्ति संपन्न राष्ट्र बनना है।

बता दें कि पिछले कई महीनों में उत्तर कोरिया ने एक बैलिस्टिक मिसाइलों का परीक्षण किया है। इसके पहले 30 दिसंबर 2022 को भी उत्तर कोरिया ने एक बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण किया था।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुस्लिम फल विक्रेताओं एवं काँवड़ियों वाले विवाद में ‘थूक’ व ‘हलाल’ के अलावा एक और पहलू: समझिए सच्चर कमिटी की रिपोर्ट और असंगठित क्षेत्र...

काँवड़ियों के पास ये विकल्प क्यों नहीं होना चाहिए, अगर वो सिर्फ हिन्दू विक्रेताओं से ही सामान खरीदना चाहते हैं तो? मुस्लिम भी तो लेते हैं हलाल?

पुरी के जगन्नाथ मंदिर का 46 साल बाद खुला रत्न भंडार: 7 अलमारी-संदूकों में भरे मिले सोने-चाँदी, जानिए कहाँ से आए इतने रत्न एवं...

ओडिशा के पुरी स्थित महाप्रभु जगन्नाथ मंदिर के भीतरी रत्न भंडार में रखा खजाना गुरुवार (18 जुलाई) को महाराजा गजपति की निगरानी में निकाल गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -