Sunday, October 17, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयदिशा रवि पर इंडियन मीडिया की रिपोर्टिंग और प्रोपेगेंडा को मिला पाकिस्तान का साथ,...

दिशा रवि पर इंडियन मीडिया की रिपोर्टिंग और प्रोपेगेंडा को मिला पाकिस्तान का साथ, खुल कर आई इमरान सरकार

The Wire से लेकर BBC तक, प्रियंका गाँधी से लेकर केजरीवाल तक... टूलकिट मामले में चल रहे देश-विरोधी प्रोपेगेंडा को अब पाकिस्तान से मिल रही हवा। इमरान खान की पार्टी ने PM मोदी और RSS पर निशाना साधते हुए...

टूलकित मामले में पूछताछ के लिए हिरासत में ली गई पर्यावरण ‘एक्टिविस्ट’ दिशा रवि को लेकर वामपंथी मीडिया गिरोह हर तरह से चिंता जाहिर कर रहा है। बीबीसी से लेकर द वायर जैसे डिजिटल प्लेटफॉर्मों के जरिए सवाल खड़ा किया जा रहा है कि आखिर इस तरह की गिरफ्तारी लोकतंत्र के लिए कितना बड़ा खतरा है। वहीं विपक्षी नेता भी पूरा दम खम लगा कर इस मामले पर अपना प्रोपगेंडा फैला रहे हैं।

अब इसी क्रम में और इसी बिंदु पर पड़ोसी मुल्क की सत्ताधारी पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए -इंसाफ ने इस गिरोह को समर्थन दिया है। ट्विटर पर PTI के हैंडल से नरेंद्र मोदी और आरएसएस पर निशाना साधा गया। साथ ही दिशा रवि को हिरासत में लिए जाने पर सवाल उठाया गया

पीटीआई ने लिखा, “मोदी/आरएसएस शासन में भारत अपने खिलाफ सभी आवाजों को चुप कराने में विश्वास रखता है… अब, उन्होंने दिशा रवि को भी ट्विटर टूलकिट मामले में हिरासत में ले लिया है।”

मालूम हो कि एक ओर जहाँ किसान आंदोलन के नाम पर चल रहे प्रोपगेंडे को पहले ही वामपंथी मीडिया और विपक्ष हवा देने में जुटा है, वहीं अब दिशा रवि की खबर के जरिए भी यह गिरोह देश की छवि को मटियामेट करने में कोई कसर नहीं छोड़ रहा।

दरअसल, पिछले दिनों पर्यावरण ‘एक्टिविस्ट’ ग्रेटा थनबर्ग द्वारा ट्विटर पर शेयर किए गए टूलकिट सामने आने के बाद किसान आंदोलन से जुड़े पूरे वैश्विक षड्यंत्र का खुलासा हुआ था। पुलिस तभी से इस केस में जाँच कर रही थी। अब हाल में जब पुलिस ने दिशा को पकड़ा तो बातें प्रोपेगेंडा का आकर लेकर देश के लोकतंत्र तक आ गईं।

द वायर ने तो इस गिरफ्तारी को सबके मुँह पर सत्ता का बूट बताया। इसी वेबसाइट ने ये भी कहा कि भाजपा के पास अपने कठोर आलोचकों के लिए अपना टूलकिट है, जिसे उसने भूतकाल में खूब इस्तेमाल किया है।

इसी तरह बीबीसी की एक रिपोर्ट है। इसमें तमाम ट्वीट इकट्ठा करके पहले इस बात पर रिपोर्ट हुई है कि कैसे 21 साल की एक बीबीए छात्रा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया, फिर ये बताया गया है कि ट्विटर पर कौन उसे लेकर प्रश्न उठा रहा है।

बता दें कि मीडिया गिरोह की भाँति कई विपक्षी राजनीतिक दल भी इस गिरफ्तारी के विरोध में दिशा को लेकर अपनी भावनाएँ प्रकट कर रहे हैं। प्रियंका गाँधी लिखती हैं, “डरते हैं बंदूकों वाले एक निहत्थी लड़की से… फैले हैं हिम्मत के उजाले एक निहत्थी लड़की से।”

आम आदमी पार्टी के अरविंद केजरीवाल लिखते हैं, “21 साल की दिशा रवि की गिरफ्तारी लोकतंत्र पर एक अभूतपूर्व हमला है। हमारे किसानों का समर्थन करना कोई अपराध नहीं है।”

इसी प्रकार कपिल सिब्बल ने लिखा, “दिशा रवि, जलवायु कार्यकर्ता। क्या देश इतना कमजोर है कि एक ट्वीट से उसकी सुरक्षा को खतरा है? क्या देश इतना कमजोर है कि 22 साल की कार्यकर्ता से राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा है? क्या देश इतना असहिष्णु है कि वह किसानों के साथ खड़े युवाओं को बर्दाश्त नहीं कर सकता है? क्या यह ‘बदलाव’ मोदीजी चाहते थे?”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हम देश को जाति-क्षेत्र और मजहब के आधार पर बँटने नहीं देंगे, दंगा किया…तो सात पुश्तें भरेंगी’: योगी आदित्यनाथ

पिछड़ा वर्ग सम्मेलन में सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा दंगा करोगे तो सात पुश्तों को इसकी भरपाई करनी पड़ेगी। मूर्ति कला उद्योग बना रोजगार का साधन।

‘और गिरफ़्तारी की बात मत करो, वरना सरेंडर करने वाले साथियों को भी छुड़ा लेंगे’: निहंगों की पुलिस को धमकी, दलित लखबीर को बताया...

दलित लखबीर की हत्या पर निहंग बाबा राजा राम सिंह ने कहा कि हमारे साथियों को मजबूरन सज़ा देनी पड़ी, क्योंकि किसी ने कोई कार्रवाई नहीं की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,325FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe