Thursday, July 7, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइमरान खान को सच सुनना पसंद नहीं: नजम सेठी ने PM इमरान खान पर...

इमरान खान को सच सुनना पसंद नहीं: नजम सेठी ने PM इमरान खान पर साधा निशाना

नजीम सेठी ने सरकार की प्रामाणिकता और विश्वसनीयता पर भी बात की। उन्होंने पाक सेना की तरफ इशारा करते हुए पाकिस्तानी सरकार को उनकी कठपुतली बताया। उन्होंने कहा कि हुकूमत एक कठपुतली है और जो कुछ भी हो रहा है, वो उन्हें पीछे से बताया जा रहा है कि क्या करना है और क्या नहीं करना है।

एक तरफ जहाँ पाकिस्तान के पीएम जम्मू कश्मीर को लेकर तथाकथित सूचनाओं को दबाने का और मीडिया की आजादी पर सवाल उठाकर भारत निशाना साधने की कोशिश कर रहा है, वहीं दूसरी तरफ उनके अपने ही देश की प्रमुख हस्तियाँ उन पर मीडिया पर दबाव बनाने का आरोप लगा रही हैं। बता दें कि, पाकिस्तानी न्यूज़ चैनल ’24 न्यूज़ ‘पर अपने टॉक शो को बंद करने को लेकर पाकिस्तान के पूर्व पत्रकार, पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) के अध्यक्ष और पाकिस्तानी प्रांत के पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री ने के लिए पाक प्रधानमंत्री इमरान खान को फटकार लगाई है।

नजम सेठी ने अपने यूट्यूब चैनल में इमरान खान सरकार और उसकी नीतियों पर आलोचना की है। नजम सेठी ने पाकिस्तानी सरकार की तरफ से मीडिया को सेंसर करने के इस कदम को रूढ़िवादी बताया है। उन्होंने कहा कि उनके शो को टेलीविजन से इसलिए प्रतिबंधित कर दिया गया था, क्योंकि वो सच बोल रहे थे और इमरान खान को सच सुनना पसंद नहीं है। 

दरअसल, नजम सेठी के यूट्यूब चैनल के वीडियो में लोग उनसे कुछ सवाल पूछ रहे होते हैं। जिसका वो जवाब देते हैं। इस वीडियो में 21 मिनट के आस-पास आप देख सकते हैं कि कुछ लोग उनसे उनके शो के बंद होने की वजह के बारे में पूछते हैं और कहते हैं कि इमरान खान इस तरह से पत्रकारों का मुँह बंद कराकर खुद की आवाज दबा रहे हैं।

नजीम सेठी ने इसका जवाब देते हुए कहा, “जब किसी चैनल पर किसी शो को बंद किया जाता है, तो ये बात वही चैनल भली-भाँति जानता है, कि उन ऊपर किस तरह का प्रेशर होता है। न्यूज़ चैनल 24 न्यूज़ ये नहीं बता पाएँगे कि उन पर किस किस्म का और किसकी तरफ से प्रेशर था। अगर वो ये बता देंगे तो हो सकता है कि उनका चैनल भी बंद हो जाए। इसलिए मैं ही आपको बताता हूँ कि मेरे ख्याल में मेरा शो क्यों बंद किया गया।” उन्होंने कहा कि वो कुछ मुद्दे पर खरी-खरी यानी कि सच बोल देते थे। इसलिए उनके शो को बंद कर दिया गया।

इस दौरान वो वह पाकिस्तान में इमरान खान के प्रधानमंत्री बनने के बाद से हुई कई राजनीतिक गिरफ्तारियों का जिक्र करते हुए नज़र आ रहे हैं। जिनमें पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ, बेटी मरियम शरीफ और पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी का नाम शामिल है। 

नजीम सेठी ने सरकार की प्रामाणिकता और विश्वसनीयता पर भी बात की। उन्होंने पाक सेना की तरफ इशारा करते हुए पाकिस्तानी सरकार को उनकी कठपुतली बताया। उन्होंने कहा कि हुकूमत एक कठपुतली है और जो कुछ भी हो रहा है, वो उन्हें पीछे से बताया जा रहा है कि क्या करना है और क्या नहीं करना है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ह्यूमैनिटी टूर’ पर प्रोपेगेंडा, कश्मीर फाइल्स ‘इस्लामोफोबिक’: द क्विंट को विवेक अग्निहोत्री ने किया बेनकाब

"हम इन फे​क FACT-CHECKERS को नजरअंदाज करते थे, लेकिन सच्ची देशभक्ति इन देशद्रोही Urban Naxals (अर्बन नक्सलियों) को बेनकाब करना और हराना है।”

राजस्थान पुलिस की कस्टडी में मुस्कुराता दिखा नूपुर शर्मा का गर्दन माँगने वाला अजमेर दरगाह का खादिम, जिस CO ने ‘नशे की बात’ पर...

राजस्थान के अजमेर शरीफ दरगाह के CO संदीप सारस्वत को उनके पद से हटा दिया गया है। अजमेर SP ने बताया कि उन्हें लाइन हाजिर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
204,341FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe