Wednesday, September 28, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय'5 अगस्त से नाम होगा श्रीनगर': 370 हटने का दर्द कम करने के लिए...

‘5 अगस्त से नाम होगा श्रीनगर’: 370 हटने का दर्द कम करने के लिए हाइवे का नाम बदलेगा पाकिस्तान

पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा, "हमारी मंजिल श्रीनगर है इंशाल्लाह... 5 अगस्त से अब कश्मीर हाइवे का नाम बदल कर श्रीनगर हाइवे कर रहे हैं। ये हमें हमारे लक्ष्य तक ले जाएगा ।"

पिछले साल भारत सरकार ने 5 अगस्त को ऐतिहासिक फैसला लेते हुए जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 को निरस्त कर दिया था। इसके बाद जम्मू-कश्मीर दो केंद्र शासित देशों में तब्दील हो गया। 

पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान इस फैसले से सकपका गया। उसने इस दिन को ‘काला दिवस’ के तौर पर मनाने का निर्णय लिया और अब कश्मीर पर कब्जे के मंसूबों को चकनाचूर होने के बाद अपने एक हाइवे का नाम श्रीनगर करने का फैसला किया है।

पाकिस्तान सरकार पिछले 70 सालों से जम्मू-कश्मीर को अपना हिस्सा बताकर उस पर कब्जा करने के झूठे सपने देखती रही। लेकिन, राज्य से अनुच्छेद 370 हटते ही सभी उम्मीदों पर पानी फिर गया। ऐसे में अब जब भारत 5 अगस्त को भारत में जम्मू और कश्मीर के एकीकरण की पहली वर्षगाँठ पूरी कर रहा है, तब पाकिस्तान ने एक प्रतीकात्मक कार्रवाई करने का फैसला किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शुक्रवार को विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा, “हमारी मंजिल श्रीनगर है इंशाल्लाह… 5 अगस्त से अब कश्मीर हाइवे का नाम बदल कर श्रीनगर हाइवे कर रहे हैं। ये हमें हमारे लक्ष्य तक ले जाएगा ।”

अपने बयान में कुरैशी ने कहा कि उनकी सरकार अंतर्राष्ट्रीय पत्रकारों, सांसदों को नियंत्रण रेखा पर ले जाएगी और भारत की क्रूरता के कथित ‘पीड़ितों’ से बात करेगी। उन्होंने कहा कि दुनिया भर के पाकिस्तानी जम्मू-कश्मीर के लोगों के साथ एकजुटता से खड़े होंगे और घाटी में भारत के कथित अत्याचारों को उजागर करेंगे।

गौरतलब है कि ये पहली बार नहीं है कि पाकिस्तान ने इस प्रकार की प्रतिकात्मक रूप से प्रतिक्रिया दी हो। पिछले साल भी पाकिस्तान और चीन मिलकर इस मामले को UNSC ले गए थे। हालाँकि, वहाँ के सदस्यों ने इसे द्विपक्षीय मामला बताकर इसे दोनों देशों पर छोड़ दिया। अब उन्होंने इसी प्रतीकात्मक प्रतिक्रिया के रूप में कश्मीर हाइवे को आधार बनाया है।

बता दें कि पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद के प्रमुख रास्तों में कश्मीर हाइवे को गिना जाता है। यह रास्ता इस्लामाबाद के पश्चिम में स्थित पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरपोर्ट को पूर्व में स्थित ई-75 एक्सप्रेसवे से कनेक्ट करता है। इस हाइवे की कुल लंबाई 25 किलोमीटर है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘UPA के समय ही IB ने किया था आगाह, फिर भी PFI को बढ़ने दिया गया’: पूर्व मेजर जनरल का बड़ा खुलासा, कहा –...

PFI पर बैन का स्वागत करते हुए मेजर जनरल SP सिन्हा (रिटायर्ड) ने ऑपइंडिया को बताया कि ये संगठन भारतीय सेना के समांतर अपनी फ़ौज खड़ी कर रहा था।

‘सारे मुस्लिम युवकों को जेल में डाल दिया जाएगा, UAPA है काला कानून’: PFI बैन पर भड़के ओवैसी, लालू यादव और कॉन्ग्रेस MP

असदुद्दीन ओवैसी के लिए UAPA 'काला कानून' है। लालू यादव ने RSS को 'PFI सभी बदतर' कह दिया। कॉन्ग्रेसी कोडिकुन्नील सुरेश ने RSS को बैन करने की माँग की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,793FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe