Sunday, July 14, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीय317 कमरों का महल, सोने का प्लेन, प्राइवेट क्रूज: जानिए कौन हैं एलन मस्क...

317 कमरों का महल, सोने का प्लेन, प्राइवेट क्रूज: जानिए कौन हैं एलन मस्क के ‘ट्विटर स्वप्न’ में खलल डाल रहे सऊदी प्रिंस अलवलीद

एलन मस्क के ऑफर पर सऊदी के प्रिंस ने कहा “मुझे एलन मस्क के प्रस्ताव पर पूरी तरह विश्वास नहीं है, जो कि ट्विटर की आंतरिक वैल्यू 54.20 डॉलर शेयर के साथ आई है।"

दुनिया के सबसे अमीर लोगों में शुमार टेस्ला कंपनी के मालिक एलन मस्क अब ट्विटर को खरीदना चाहते हैं। उन्होंने हाल में ट्विटर में 9.2% फीसदी हिस्सेदारी खरीदने के बाद कंपनी को अपना ऑफर दिया कि वो ट्विटर के बदले 41.39 अरब डॉलर (3.2 लाख करोड़ रुपए ) देने को तैयार हैं। इस ऑफर के बाद ट्विटर ने अपनी प्रतिक्रिया दी और ऑफर की समीक्षा करने को कहा। इसी बीच सऊदी के प्रिंस जिनके पास ट्विटर में शेयर है उन्होंने मस्क के ऑफर को ठुकरा दिया।

बता दें कि गुरुवार को एलन मस्क ने ट्विटर खरीदने की इच्छा को जगजाहिर किया था। उन्होंने सोशल मीडिया पर कंपनी के शेयरधारकों के लिए बोली लगाते हुए अपना प्रस्ताव रखा था। जिसके बाद ट्विटर की ओर से इस संबंध में बयान जारी किया गया। ट्विटर ने कहा कि ट्विटर का बोर्ड टेस्ला प्रमुख मस्क के सोशल मीडिया कंपनी के अधिग्रहण के लिए अवांछित, गैर-बाध्यकारी प्रस्ताव का मूल्यांकन करेगा। इसके बाद ही वह इस बारे में विस्तार से कुछ कह सकते हैं।

वहीं सऊदी के प्रिंस अल वलीद बिन तलाल (Al-Waleed bin Tala) ने एलन मस्क के ऑफर को ठुकरा दिया। उन्होंने कहा कि मंच के विकास की संभावना देखते हुए, फर्म की लागत बहुत अधिक है। उन्होंने प्रतिक्रिया दी, “मुझे एलन मस्क के प्रस्ताव पर पूरी तरह विश्वास नहीं है, जो कि ट्विटर की आंतरिक वैल्यू 54.20 डॉलर शेयर के साथ आई है।” अल वलीद बिन तलाल ने कहा, “ट्विटर के सबसे बड़े लंबे समय तक रहने वाले शेयरहोल्डर में से एक होने के नाते, @Kingdom_KHC और मैं इस प्रस्ताव को अस्वीकार करते हैं।”

बता दें कि सऊदी प्रिंस अलवलीद बिन तलाल अल सऊद ने 2011 में ट्विटर के कुछ शेयर्स खरीदे थे। बाद में 2015 में इसे 5.2% हिस्सेदारी तक बढ़ा दिया गया। जिसके बाद ट्विटर में उनके ओनरशिप की मार्केट वैल्यू 3.75 बिलियन रियाल (1 बिलियन डॉलर) हो गई। हालाँकि आज के समय में कंपनी में उनके स्टेक बचे हैं या नहीं ये नहीं कहा जा सकता।

जानकारी के अनुसार सऊदी के अरबपति प्रिंस की किंगडम होल्डिंग कंपनी के पास फोर सीजन्स होटल सीरीज, उबेर लिफ्ट और सिटिग्रुप में भी अहम स्टॉक है। उनके द्वारा एलन मस्क का ऑफर ठुकराए जाने के बाद एलन मस्क ने इस पर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने प्रिंस पर तंज कसते हुए पूछा कि उनका प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से ट्विटर में कितना स्वामित्व है। इसके बाद उन्होंने प्रिंस से ये भी कहा कि उनका पत्रकारिता की अभिव्यक्ति की आजादी पर उनका क्या विचार है।

उल्लेखनीय है कि सऊदी प्रिंस और एलन मस्क के बीच ट्विटर पर हुई इस कहासुनी के बीच ये जानना दिलचस्प है कि सऊदी के प्रिंस कौन हैं जिनकी ट्विटर में 5.2 फीसद की हिस्सेदारी है।

कितने अमीर हैं सऊदी प्रिंस अलवलीद?

फोर्ब्स मैग्जीन के मुताबिक अलवलीद दुनिया के सबसे अमीर लोगों में से एक हैं। उनके पास लंदन के सेवॉय होटल का मालिकाना अधिकार है। कथिततौर पर उनके पास ट्विटर के अलावा एप्पल, सिटी ग्रुप बैंक, फोर सीजन्स होटल और रूपर्ट मरडॉक के स्टेक हैं। उनकी कंपनियाँ दो तिहाई से ज्यादा महिला कर्मचारियों को नौकरी देने के लिए जानी जाती हैं। 2017 में सऊदी अरब में एक नई भ्रष्टाचार निरोधक एजेंसी ने 22 राजकुमारों समेत 4 मंत्रियों और दर्जनों पूर्व मंत्रियों को हिरासत में लिया था इसमें अलवलीद बिन तलाल भी शामिल थे। तलाल को लेकर बताया जाता है कि उन्होंने डोनाल्ड ट्रंप से दुनिया का 65वाँ सबसे लंबा प्राइवेट क्रूज खरीदा था। इस क्रूज की लंबाई 85.9 मीटर है। ट्रंप ने इस क्रूज को ट्रंप प्रिंसेज का नाम दिया था जिसे प्रिंस ने किंगडम 5 केआर कर लिया।

तलाल के पास दुनिया का सबसे महंगा प्लेन है। ये प्लेन सोने का बना है जिसे उड़ता महल कहा जाता है। इसके अलावा उनके पास 321 एयरक्राफ्ट, 300 महंगी गाड़ियाँ भी हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि उनके पास ऐसी मर्सेडीज है जिस पर हीरे जड़े हुए हैं। इसकी कीमत 32 करोड़ रुपए बताई जाती है। तलाल के पास तीन बड़े महल हैं। उनके एक महल का नाम किंग रिजॉर्ट है जो कि 50 लाख वर्ग मीटर में फैला है। महल के अंदर सुंदर बगीचा और तीन झीलें हैं। दूसरे महल का नाम प्रोमोशन पैलेस है जिसकी कीमत 300 मिलियन डॉलर है। इस महल के अंदर 317 कमरे हैं। कथिततौर पर इस महल को तैयार करने में 15 हजार टन इटैलियन मार्बल का इस्तेमाल किया गया। बताया जाता है कि तलाल दुनिया के सबसे बड़े दानदाताओं में से एक हैं। उन्होंने 22 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का दान सामाजिक संस्थाओं को दिया हुआ है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -