Sunday, July 3, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयतकिए के नीचे कुरान बना सेक्स वर्कर की मौत का कारण: अबूबकर, मंसूर और...

तकिए के नीचे कुरान बना सेक्स वर्कर की मौत का कारण: अबूबकर, मंसूर और युसूफ ने चाकुओं से गोदा, फिर ज़िंदा जला डाला

रिपोर्ट के अनुसार, तकिए के नीचे कुरान मिलने के बाद आरोपित महिला सेक्स वर्कर से पूछने लगे कि एक वेश्या होकर भी उसके लिए कुरान का क्या उपयोग है। आरोपितों के अनुसार, जिस तरह का वह काम कर रही थी उसके हिसाब से उन्हें अपने पास कुरान नहीं रखना चाहिए था।

अफ्रीकी देश नाइजीरिया में एक महिला सेक्स वर्कर (Sex Worker) को कुरान पढ़ना उसकी मौत का कारण बन गया। दरअसल, सेक्स वर्कर अपने कमरे में तकिए के नीचे मुस्लिमों की मजहबी किताब कुरान रखा था। उसके एक ग्राहक ने उसे देख लिया। इसके बाद उस ग्राहक ने महिला को को पीटा, फिर चाकू मारा और अंत में जिंदा आग के हवाले कर मार दिया।

घटना नाइजीरिया के लागोस (Lagos) शहर के अलाबा रागो की है। यहाँ हन्ना सलिउ (Hannah Saliu) नाम की एक महिला सेक्स वर्कर का काम करती थी। वहाँ एक आदमी संबंध बनाने के लिए आया। इसके बदले में उसने हन्ना को 1,000 नाइरा (लगभग 187 रुपया) दिया।

ग्राहक के जाने के बाद हन्ना ने देखा कि उसके पास रखा 5,000 नाइरा गायब है। इसके बाद हन्ना ने अपने ग्राहक का पीछा किया और गायब हुए पैसे के बारे में बताते हुए उस पर चोरी करने का आरोप लगाया। इसको लेकर दोनों के बीच बहस होने लगी।

हालाँकि, ग्राहक ने पैसे चुराने से मना किया और कहा कि वह अपने दोस्तों के साथ उसके कमरे में रखा पैसे खोजेगा। हन्ना के साथ आकर ग्राहक अपने दोस्तों के साथ कमरे में पैसे खोजने लगा। इसी दौरान उसने देखा कि तकिए के नीचे कुरान रखा हुआ है। इसके बाद वे लोग महिला को बुरी तरह पीटने लगे।

ग्राहक और उसके दोस्तों ने सेक्स वर्कर को बुरी तरह पीटने के बाद उसके शरीर पर चाकू से कई वार किए। इसके बाद उसे बाहर लाकर जिंदा ही आग के हवाले कर दिया। इस तरह इन लोगों ने चोरी का आरोप लगाने वाली उस सेक्स वर्कर को मौत के घाट उतार दिया।

pulp.ng की खबर के अनुसार, तकिए के नीचे कुरान मिलने के बाद आरोपित महिला सेक्स वर्कर से पूछने लगे कि एक वेश्या होकर भी उसके लिए कुरान का क्या उपयोग है। आरोपितों के अनुसार, जिस तरह का वह काम कर रही थी उसके हिसाब से उसे अपने पास कुरान नहीं रखना चाहिए था।

महिला सेक्स वर्कर नाइजीरिया के उत्तरी इलाके की रहने वाली थी और आरोपित भी उत्तरी हिस्से से आए थे। जहाँ यह घटना हुई है उस इलाके में मुल्क के इस हिस्से बहुत सारे लोग बसे हैं। पुलिस ने बताया कि आरोपितों की पहचान अबूबकर मूसा, सरौता मंसूर और सुराजो युसूफ के रूप में हुई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

8 लोग थे निशाने पर, एक डॉक्टर को वीडियो बना माँगनी पड़ी थी माफ़ी: उमेश कोल्हे के गले पर 5 इंच चौड़ा, 7 इंच...

उमेश कोल्हे के गले पर जख्म 5 इंच चौड़ा, 5 इंच लंबा और 5 इंच गहरा था। साँस वाली नली, भोजन निगलने वाली नली और आँखों की नसों पर भी वार किए गए थे।

सिर कलम करने में जिस डॉ युसूफ का हाथ, वो 16 साल से था दोस्त: अमरावती हत्याकांड में कश्मीर नरसंहार वाला पैटर्न, उदयपुर में...

अमरावती में उमेश कोल्हे की हत्या में उनका 16 साल पुराना वेटेनरी डॉक्टर दोस्त यूसुफ खान भी शामिल था। उसी ने कोल्हे की पोस्ट को वायरल किया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,752FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe