Thursday, May 30, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयइंग्लैंड में कोरोना वायरस का नया प्रकार Out of Control: कई देशों की फ्लाइट-बॉर्डर...

इंग्लैंड में कोरोना वायरस का नया प्रकार Out of Control: कई देशों की फ्लाइट-बॉर्डर बंद, भारत में इमरजेंसी मीटिंग

भारत में इस नए खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है। यह मीटिंग जॉइंट मॉनिटरिंग ग्रुप के साथ होगी। WHO के भारतीय प्रतिनिधि डॉक्टर रॉडरिको एच ऑफरिन भी...

इंग्लैंड (यूनाइटेड किंग्डम) में कोरोना वायरस के एक नए प्रकार का पता चला है। कोरोना वायरस के इस नए प्रकार का संक्रमण दर बहुत ज्यादा है। इस कारण से वहाँ एक बार फिर सख्ती के साथ लॉकडाउन लागू किया गया है।

इंग्लैंड के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि कोरोना वायरस के इस नए प्रकार का संक्रमण लगभग 70% तेज दर (पहले मिले कोरोना वायरस की तुलना में) से फैलता है। इंग्लैंड की दूसरी संस्थाओं ने तो इसे आउट ऑफ कंट्रोल करार दे दिया है।

प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने सख्त लॉकडाउन की घोषणा की। इस कारण से ‘क्रिसमस बबल’ को भी रद्द कर दिया गया। इससे पहले क्रिसमस के कार्यक्रमों के लिए ढील देने का निर्णय लिया गया था लेकिन अब उस पर भी सख्ती रहेगी।

इंग्लैंड के अलावा कोरोना वायरस के इस नए प्रकार का संक्रमण नीदरलैंड, डेनमार्क, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका में भी पाया गया है। नीदरलैंड और बेल्जियम ने कोरोना वायरस के नए प्रकार का पता चलने के बाद इंग्लैंड से आने वाली उड़ानों पर रोक लगा दी है। इनके अलावा कई अन्य देश भी इंग्लैंड की उड़ानों पर रोक को लेकर सोच-विचार कर रहे हैं। यूरोप के कई देशों ने इंग्लैंड बॉर्डर को सील कर दिया है।

भारत में इस नए खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय ने इमरजेंसी मीटिंग बुलाई है। यह मीटिंग सोमवार (21 दिसंबर 2020) को जॉइंट मॉनिटरिंग ग्रुप के साथ होनी है। जॉइंट मॉनिटरिंग ग्रुप की मीटिंग की अध्यक्षता डायरेक्टर जेनलर ऑफ हेल्थ सर्विसेज (DGHS) करेंगे। WHO के भारतीय प्रतिनिधि डॉक्टर रॉडरिको एच ऑफरिन भी जॉइंट मॉनिटरिंग ग्रुप के सदस्य हैं। इस इमरजेंसी मीटिंग में उनके भी रहने की संभावना है।

इंग्लैंड के मुख्य चिकित्सा अधिकारी प्रोफेसर क्रिस विट्टी ने कोरोना वायरस के नए प्रकार के बारे में कहा, “हमने विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) को बता दिया है। साथ ही कोरोना वायरस के नए प्रकार के बारे में समझने के लिए उपलब्ध जानकारी का अध्ययन कर रहे हैं। हालाँकि फिलहाल इस बात को साबित करने का कोई साक्ष्य मौजूद नहीं है कि वायरस का यह नया प्रकार अधिक घातक है या नहीं।”

कोरोना वायरस के नए प्रकार और इसके खतरे को देखते हुए WHO ने ट्वीट करते हुए कहा कि वो इंग्लैंड के अधिकारियों के साथ मिल कर काम कर रहे हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जो पुराना फोन आप यूज नहीं करते उसके बारे में मुझे बताइए… कहीं अपनी ‘दुकानदारी’ में आपकी गर्दन न नपवा दे न्यूजलॉन्ड्री वाला ‘झबरा’

अभिनंदन सेखरी ने बताया है कि वह फोन यहाँ बेघर लोगों को देने जा रहा है। ऐसे में फोन देने वाले को नहीं पता होगा कि फोन किसके पास जा रहा है।

कौन हैं पुणे के रईसजादे को बेल देने वाले एलएन दावड़े, अब मीडिया से रहे भाग: जिसने 2 को कुचल कर मार डाला उसे...

पुणे पोर्श कार के आरोपित को बेल देने वाले डॉक्टर एल एन दावड़े की एक वीडियो सामने आई है इसमें वो मीडिया से भाग रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -