Thursday, June 13, 2024
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयसंयुक्त राष्ट्र ने तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के सरगना मुफ्ती नूर वली महसूद को घोषित किया...

संयुक्त राष्ट्र ने तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के सरगना मुफ्ती नूर वली महसूद को घोषित किया ‘वैश्विक आतंकवादी’

संयुक्त राज्य सुरक्षा परिषद् 1267 अलक़ायदा प्रतिबन्ध समिति ने अपनी आईएसआईएल और और अलक़ायदा प्रतिबंध सूची में नूर वली महसूद का नाम शामिल किया है। पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन के इस नेता को अनुवर्ती 2368 (2017) के पैराग्राफ 2 और 4 के तहत सूची का हिस्सा बनाया गया है।

आतंकवाद पर बड़ी चोट करते हुए संयुक्त राष्ट्र ने वैश्विक स्तर पर इसके विरुद्ध कदम उठाया है। संयुक्त राष्ट्र ने पाकिस्तान के आतंकवादी संगठन तहरीक-ए-तालिबान, पाकिस्तान के आतंकी मुफ़्ती नूर वली महसूद (Mufti Noor Wali Mehsud) को वैश्विक स्तर का आतंकवादी घोषित कर दिया है। आतंकवाद के क्षेत्र में संयुक्त राष्ट्र के इस कदम को एक बड़ी कार्रवाई के तौर पर देखा जा रहा है।  

संयुक्त राज्य सुरक्षा परिषद् 1267 अलक़ायदा प्रतिबन्ध समिति ने अपनी आईएसआईएल और और अलक़ायदा प्रतिबंध सूची में नूर वली महसूद का नाम शामिल किया है। पाकिस्तानी आतंकवादी संगठन के इस नेता को अनुवर्ती 2368 (2017) के पैराग्राफ 2 और 4 के तहत सूची का हिस्सा बनाया गया है।  

दुनिया के कई देशों सहित अमेरिका ने संयुक्त राष्ट्र के इस फैसले की प्रशंसा की है। अमेरिका के स्टेट विभाग ने इस मामले पर ट्वीट करके प्रतिक्रिया दी है। ट्वीट में लिखा था, “यह ख़बर स्वागत करने योग्य है कि संयुक्त राष्ट्र ने तहरीक-ए-तालिबान, पाकिस्तान के नेता मुफ़्ती नूर वली महसूद को वैश्विक स्तर का आतंकवादी करार दिया है। यह संगठन पाकिस्तान में हुए तमाम बड़े आतंकवादी हमलों के लिए ज़िम्मेदार है। पिछले साल 2019 में संयुक्त राष्ट्र ने सितम्बर महीने के दौरान वली महसूद को आतंकवादी घोषित किया था।” 

तहरीक-ए-तालिबान, पाकिस्तान ऐसा संगठन है जिसने पाकिस्तान के भीतर पिछले कुछ समय में कई बड़े आतंकवादी हमले अंजाम दिए हैं। इस संगठन ने पाकिस्तान में कई आत्मघाती हमले भी करवाए हैं जिसकी वजह से सैकड़ों लोगों ने अपनी जान गँवाई है। जून 2018 के दौरान वली महसूद, तहरीक-ए-तालिबान के नेता मुल्ला फजलुल्लाह की मौत के बाद संगठन का नेता बन गया था। उसने बीते कुछ समय में अपने नेतृत्व में पाकिस्तान के भीतर कई बड़े आतंकवादी हमले कराए हैं।    

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जम्मू-कश्मीर में 4 दिनों के अंदर चौथा आतंकी हमला… डोडा में सुरक्षा बलों पर फिर चली गोलियाँ: 1 जवान घायल, पूरे इलाके की घेराबंदी

जम्मू-कश्मीर में 4 दिनों के अंदर चौथा आतंकी हमला हुआ है। वहीं डोडा जिले में 2 दिन में दूसरी बार आतंकियों द्वारा फायरिंग करके सुरक्षाबलों को निशाना बनाया गया है।

लड़की हिंदू, सहेली मुस्लिम… कॉलेज में कहा, ‘इस्लाम सबसे अच्छा, छोड़ दो सनातन, अमीर कश्मीरी से कराऊँगी निकाह’: देहरादून के लॉ कॉलेज में The...

थर्ड ईयर की हिंदू लड़की पर 'इस्लाम' का बखान कर धर्म परिवर्तन के लिए प्रेरित किया गया और न मानने पर उसकी तस्वीरों को सोशल मीडिया पर वायरल करने की धमकी दी गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -