Tuesday, October 19, 2021
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयअमेरिका में टिकटॉक पर आज से बैन संभव, ट्रंप ने दिए संकेत: सौदे पर...

अमेरिका में टिकटॉक पर आज से बैन संभव, ट्रंप ने दिए संकेत: सौदे पर माइक्रोसॉफ्ट से चीनी कंपनी की हो रही बात

भारत सरकार ने जून के अंत में टिकटॉक समेत कुल 59 चीनी ऐप्स को बैन कर दिया था। चीनी ऐप्स पर बैन लगाने के फैसले पर भारत सरकार का कहना था कि सुरक्षा के मद्देनजर ये कदम उठाया गया है। इसके बाद पिछले दिनों चीन के 47 और ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया गया था।

चीनी ऐप टिकटॉक की मुश्किलें खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। भारत के बाद अमेरिका ने भी इस वीडियो शेयरिंग ऐप को बैन करने के संकेत दिए हैं।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने चीन के साथ बढ़ते तनाव और जासूसी के आरोपों के बीच इसके संकेत दिए हैं। इधर बाइटडांस (ByteDance) और माइक्रोसॉफ्ट के बीच सौदे को लेकर बातचीत चलने की भी खबर है। बाइटडांस टिकटॉक की पैरंट कंपनी है।  

ट्रंप ने कहा, “जहाँ तक टिकटॉक की बात है, उस पर अमेरिका में प्रतिबंध लगा दिया जाएगा। हो सकता है यह कार्रवाई शनिवार के दिन पूरी हो जाए।” इसके पहले ट्रंप ने कहा था, “हम कुछ कदम उठा ही सकते हैं, हमारे पास कई विकल्प हैं। लेकिन ठीक इस वक्त बहुत कुछ एक साथ हो रहा है। फ़िलहाल हम टिकटॉक के लिए कई विकल्प तलाश रहे हैं। जल्द से जल्द कोई नतीजा हासिल करेंगे।”

ऐसी ख़बरें भी सामने आ रही हैं जिनके मुताबिक़ माइक्रोसॉफ्ट, अमेरिका में टिकटॉक का कारोबार खरीद सकती है। ब्लूमबर्ग न्यूज़ और वाल स्ट्रीट जर्नल ने अपनी रिपोर्ट्स में इस बात का ज़िक्र किया है कि अमेरिकी सरकार बाइटडांस को कड़े कदम उठाने के निर्देश दे सकती है। इसके बाद माइक्रोसॉफ्ट ने टिकटॉक को खरीदने या इसमें निवेश करने की इच्छा जताई थी।  

इस बारे में न्यूयॉर्क टाइम्स और फॉक्स बिज़नेस ने ख़बर भी प्रकाशित की थी। इसके मुताबिक़ माइक्रोसॉफ्ट टिकटॉक को खरीदने के लिए बात शुरू कर चुका है। अरबों डॉलर का यह समझौता सोमवार तक पूरा हो सकता है। आगामी एक दो दिनों में इस मुद्दे पर ह्वाइट हाउस के प्रतिनिधियों और टिकटॉक- इक्रोसॉफ्ट की बैठक हो सकती है। हालाँकि माइक्रोसॉफ्ट ने इस मामले पर टिप्पणी करने से इनकार किया है।   

टिकटॉक के वर्तमान के निवेशक सॉफ़्ट बैंक, सिक्वॉअ कैपिटल और जेनरल अटलांटिक जैसी कम्पनियाँ हैं। वह टिकटॉक को बचाने के लिए इसमें एक बड़ा शेयर लेने के लिए सोच रही हैं, ताकि इसका चीनी होने का ठप्पा ख़त्म किया जा सके। लेकिन टिकटॉक की मार्केट वैल्यू 100 बिलियन डॉलर पहुँचने के बाद निवेशकों के लिए एक बड़ा शेयर लेना भी काफ़ी महँगा समझौता साबित हो सकता है। ब्लूमबर्ग ने लिखा है कि ट्रम्प विशेष अधिकार का प्रयोग करके बाइटडांस को इस बात के लिए फ़ोर्स कर सकते हैं कि वह अपना US ऑपरेशन बेचकर उनके देश से सम्मानपूर्वक निकल जाए।

US ऑपरेशन बेचने का तात्पर्य यह है कि टिकटॉक अमेरिका और टिकटोक टिकटॉक दो अलग-अलग इंडिपेंडेंट ईकाई हो जाएँगी। अमेरिका में टिकटॉक का कारोबार लगभग 20 से 40 बिलियन डॉलर का है। इसके अलावा अमेरिका में टिकटॉक के 165 मिलियन यूज़र हैं।

भारत सरकार ने जून के अंत में टिकटॉक समेत कुल 59 चीनी ऐप्स को बैन कर दिया था। चीनी ऐप्स पर बैन लगाने के फैसले पर भारत सरकार का कहना था कि सुरक्षा के मद्देनजर ये कदम उठाया गया है। इसके बाद पिछले दिनों चीन के 47 और ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया गया था। इसके अलावा बताया गया था कि PUBG समेत 250 ज्यादा ऐप्स की केंद्र सरकार समीक्षा भी कर रही है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,820FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe