Tuesday, May 17, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयपैगंबर मुहम्मद एक व्यापारी थे... BJP के सत्ता में रहते मैं भारत नहीं आऊँगा:...

पैगंबर मुहम्मद एक व्यापारी थे… BJP के सत्ता में रहते मैं भारत नहीं आऊँगा: भगोड़ा ज़ाकिर नाइक

"पैगंबर मुहम्मद भी एक व्यापारी थे और ऐसा कहीं नहीं लिखा है कि एक उपदेशक व्यापारी नहीं हो सकता। कई देशों के राष्ट्राध्यक्षों के पास मेरी सीडी और डीवीडी पड़ी हुई है। उसे देखने के बाद लोग प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति बनते हैं।"

न्यूज़ पोर्टल ‘द वीक’ को दिए गए इंटरव्यू में ज़ाकिर नाइक ने कहा है कि जब तक भाजपा सत्ता में है, तब तक वह भारत नहीं आएगा। इस्लामिक उपदेशक ज़ाकिर ने नम्रता आहूजा को दिए गए इंटरव्यू में कहा कि आज का मीडिया ‘जिहाद’ शब्द का ग़लत प्रयोग कर रहा है। इसका अर्थ बुराई के ख़िलाफ़ संघर्ष करना होता है जबकि मीडिया में इसे ‘पवित्र युद्ध’ की तरह पेश किया जा रहा है। ज़ाकिर के अनुसार, ‘पवित्र युद्ध (Holy War)’ का कॉन्सेप्ट कई सौ साल पहले आया था, जब ईसाईयों ने अपने धर्म को फैलाने के लिए ज़ोर-ज़बरदस्ती की और हज़ारों लोगों के ख़ून बहाए। ज़ाकिर नाइक ने इस दौरान कॉन्ग्रेस से अपने संबंधों से जुड़े सवालों के भी जवाब दिए। उसने कहा कि वह पिछले कुछ सालों से भारत में चल रही राजनीतिक गतिविधियों से अनजान है। ज़ाकिर के अनुसार, पैगंबर मुहम्मद भी एक व्यापारी थे और ऐसा कहीं नहीं लिखा है कि एक उपदेशक व्यापारी नहीं हो सकता।

ज़ाकिर नाइक ने ‘द वीक’ को बताया कि उसे अपनी लोकप्रियता की वजह से कई भारतीय नेताओं व मंत्रियों से मिलने का मौक़ा मिला है। उसे हैदराबाद में आतंक-रोध पर आयोजित सेमीनार में बोलने का मौक़ा मिला और उसे आईपीएस अधिकारियों को सम्बोधित करने का मौक़ा मिला, इसे कॉन्ग्रेस के ख़िलाफ़ नहीं देखा जाना चाहिए। ज़ाकिर ने मोदी के बारे में कहा कि क्या वो उन सभी देशों को आतंक समर्थक मानते हैं, जिन्होंने उसे अपने यहाँ प्रवचन करने को बुलाया? उसने कहा कि सऊदी के किंग सलमान ने उसे इस्लामिक वर्ल्ड का सबसे बड़ा अवॉर्ड दिया। दुबई के शासक शेख मोहम्मद ने उसे ‘साल के सर्वश्रेष्ठ व्यक्तित्व’ का अवॉर्ड दिया, ज़ाकिर ने पूछा कि क्या मोदी इन सभी पर आरोप लगाएँगे?

‘द वीक’ पत्रिका ने लिया ज़ाकिर नाइक का इंटरव्यू (साभार: The Week)

ज़ाकिर ने कहा कि मोदी सिर्फ़ दिग्विजय पर ही क्यों आरोप लगा रहे हैं, दिग्विजय सिंह मेरे मित्र नहीं हैं। उसने कहा कि मोदी वोट बैंक के लिए ऐसा कर रहे हैं। ज़ाकिर ने कहा कि मोदी को यह जानना चाहिए कि कई देशों के राष्ट्राध्यक्षों के पास उनकी सीडी और डीवीडी पड़ी हुई हैं, तो मोदी सिर्फ़ यह क्यों कहते हैं कि उसे देखने के बाद लोग आतंकी बनते हैं। ज़ाकिर ने कहा कि मोदी को यह भी कहना चाहिए कि उसे देखने के बाद लोग प्रधानमंत्री और राष्ट्रपति बनते हैं। ज़ाकिर ने कहा कि फेसबुक और सोशल मीडिया पर उसके करोड़ों फैंस हैं और उसमें 100% सही नहीं हो सकते, कुछ ग़लत भी होते हैं। उसने अपने ख़िलाफ़ प्रवर्तन निदेशालय के आरोपों को वोट बैंक की राजनीति बताया। ज़ाकिर नाइक ने कॉन्ग्रेस को लाखों रुपए देने की बात स्वीकारी। उसने दावा किया कि वह भाजपा को भी कई बार वित्तीय मदद दे चुका है।

ज़ाकिर नाइक ने ‘द वीक’ को कहा कि उसे सिर्फ़ इसीलिए निशाना बनाया जा रहा है क्योंकि सभी उपदेशकों में वह सबसे ज्यादा लोकप्रिय है और उसके वीडियोज सबसे ज्यादा देखे जाते हैं – सभी हिन्दू, ईसाई और मुस्लिम प्रवचनकर्ताओं में। उसने कहा कि उसे भारत सहित कई देशों की सरकारों द्वारा शांति का प्रचार करने और आतंकवाद के ख़िलाफ़ बोलने के लिए बुलाया जाता रहा है। उसने दावा किया कि उसे ‘नेशनल अकादमी ऑफ पुलिस, हैदराबाद’ द्वारा 2009 एवं 2013 में आमंत्रित किया जा चुका है। उसने कहा कि इस्लाम के कुछ दुश्मन सम्प्रदाय विशेष के लोगों को बहका कर आतंकी बना रहे हैं ताकि इस्लाम को बदनाम किया जा सके।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ज्ञानवापी मामले में ‘हिन्दू सेना’ भी पहुँचा सुप्रीम कोर्ट, सुनवाई कर रहे दोनों जजों का ‘राम मंदिर कनेक्शन’: 1991 के एक्ट पर सवाल

ज्ञानवापी केस में सुप्रीम कोर्ट पहुँचे 'हिन्दू सेना' ने कहा कि 'Ancient Monuments' में गिने जाने वाले स्थल 1991 'वर्शिप एक्ट' के तहत नहीं आते।

मथुरा के शाही ईदगाह में साक्ष्य मिटाए जाने की आशंका, मस्जिद को तुरंत सील करने के लिए नई याचिका दायर: ज्ञानवापी का दिया हवाला

ज्ञानवापी विवादित ढाँचे में शिवलिंग मिलने के बाद अब मथुरा के शाही ईदगाह मस्जिद को लेकर नई याचिका दायर हुई है, जिसमें इसे सील करने की माँग की गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,366FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe