Thursday, January 27, 2022
Homeरिपोर्टअंतरराष्ट्रीयतुम एकदम कन्फ्यूज़्ड हो, नेहरू की तरह सेकुलरिज्म का प्रतीक बनो: पाक मंत्री की...

तुम एकदम कन्फ्यूज़्ड हो, नेहरू की तरह सेकुलरिज्म का प्रतीक बनो: पाक मंत्री की राहुल गाँधी को सलाह

फवाद चौधरी ने राहुल गाँधी की इस ट्वीट के जवाब में लिखा कि उनकी राजनीति कन्फ्यूजन वाली है। फवाद ने राहुल गाँधी को 'वास्तविकता के क़रीब रुख अखितयार करने' की सलाह दी।

पाकिस्तान के विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री चौधरी फवाद हुसैन ने राहुल गाँधी को कन्फ्यूज्ड बताया है। पाकिस्तानी मंत्री ने यह बयान पूर्व कॉन्ग्रेस अध्यक्ष के उस ट्वीट की प्रतिक्रिया में दिया जिसमें उन्होंने भारत का आंतरिक मसला बताया था। राहुल गाँधी ने पाकिस्तान या किसी भी अन्य देश द्वारा जम्मू कश्मीर में दखल दिए जाने को अस्वीकार्य बताया। उन्होंने लिखा था कि वे मोदी सरकार से कई मतभेद रखते हैं लेकिन जम्मू कश्मीर को लेकर उनकी राय स्पष्ट है।

फवाद चौधरी ने राहुल गाँधी की इस ट्वीट के जवाब में लिखा कि उनकी राजनीति कन्फ्यूजन वाली है। फवाद ने राहुल गाँधी को ‘वास्तविकता के क़रीब रुख अखितयार करने’ की सलाह दी। पाकिस्तान के मंत्री ने राहुल गाँधी को जवाहरलाल नेहरू जैसा बनने की सलाह दी। फवाद ने लिखा कि नेहरू भारतीय सेकुलरिज्म और लिबरल सोच के प्रतीक थे। इसके बाद उन्होंने फ़ैज़ अहमद फ़ैज़ की इस शायरी का ज़िक्र किया:

ये दाग़ दाग़ उजाला, ये शबगज़ीदा सहर
वो इन्तज़ार था जिस का, ये वो सहर तो नहीं

बता दें कि पाकिस्तान ने यूएन को पत्र लिख कर जम्मू कश्मीर पर अपना रोना रोया है। इस पत्र में पाकिस्तान ने राहुल गाँधी के बयानों का जिक्र करते हुए संयुक्त राष्ट्र को यह बताना चाहा कि भारत ‘कश्मीर में अत्याचार’ कर रहा है। पाकिस्तान ने राहुल गाँधी के उस बयान को अपना सहारा बनाया जिसमें उन्होंने कहा था कि जम्मू कश्मीर में लोग मर रहे हैं। इसके अलावा राहुल ने यह भी कहा था कि राज्य में चीजें ठीक नहीं चल रही हैं। पाकिस्तान ने उनके इस बयान को भी लपकते हुए यूएन को भेजे पत्र में शामिल कर दिया।

फजीहत होने के बाद राहुल गाँधी ने ट्विटर पर पाकिस्तान को आतंकवाद का समर्थक बताते हुए लिखा कि जम्मू कश्मीर में हो रही हिंसा के लिए पाकिस्तान ही ज़िम्मेदार है। लोगों ने उन्हें जवाब दिया कि अब तो डैमेज हो चुका है और वह कुछ भी लिख कर उसे बदल नहीं सकते। राहुल ने अपनी ट्वीट्स में लिखा कि दुनिया पाकिस्तान को आतंकवाद के प्रमुख समर्थक के रूप में पहचानती है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

धर्मांतरण के दबाव से मर गई लावण्या, अब पर्दा डाल रही मीडिया: न्यूज मिनट ने पूछा- केवल एक वीडियो में ही कन्वर्जन की बात...

लावण्या की आत्महत्या पर द न्यूज मिनट कहता है कि वॉर्डन ने अधिक काम दे दिया था, जिससे लावण्या पढ़ाई में पिछड़ गई थी और उसने ऐसा किया।

आजम खान एंड फैमिली पर टोटल 165 क्रिमिनल केस: सपा ने शेयर की पूरी लिस्ट, सबको ‘झूठे आरोप’ बता क्लीनचिट भी दे दी

समाजवादी पार्टी ने आजम खान, उनकी पत्नी तज़ीन फातिमा और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम खान का आपराधिक रिकॉर्ड शेयर किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
153,853FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe