Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजJ&K: खानाबदोश गुज्जरों को आतंकियों ने किया अगवा, 1 को गोलियों से छलनी किया

J&K: खानाबदोश गुज्जरों को आतंकियों ने किया अगवा, 1 को गोलियों से छलनी किया

आर्टिकल 370 के प्रावधानों को निरस्त किए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में इस तरह की यह पहली घटना है। इससे पहले पत्थरबाजों के हमले में एक स्थानीय ट्रक ड्राइवर की मौत हो गई थी।

जम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने खानाबदोश गुज्जर समुदाय के जिन दो लोगों को अगवा किया था, उनमें से एक की गोली मार कर हत्या कर दी है। दोनों सोमवार को अगवा किए गए थे। दूसरे व्यक्ति की तलाशा जारी है।

आर्टिकल 370 के प्रावधानों को निरस्त किए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में इस तरह की यह पहली घटना है। इससे पहले पत्थरबाजों के हमले में एक स्थानीय ट्रक ड्राइवर की मौत हो गई थी।

ख़बर के अनुसार, जम्मू-कश्मीर के पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि राजौरी ज़िले के अब्दुल क़ादिर कोहली और श्रीनगर के खोनमोह इलाक़े के मंजूर अहमद का त्राल के जंगलों से शाम को 7:30 बजे अपहरण कर लिया। इसके बाद सुरक्षा बलों ने दोनों की तलाश शुरू कर दी। तलाश करने पर एक शख़्स का शव मिला है, जबकि दूसरे की तलाश अभी भी जारी है।

बता दें कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 तो हटाए जाने के बाद प्रदेश में यह इस तरह की पहली घटना है। इससे पहले, 20 अगस्त को उत्तरी-कश्मीर के बारामूला ज़िले में हुई मुछभेड़ में लश्कर-ए-तैयबा का एक आतंकवादी ढेर हो गया था और एक विशेष अधिकारी की भी मृत्यु हो गई गई थी। इसके अलावा एक पुलिस उप-निरीक्षक भी घायल हो गए थे।  

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

6 साल के जुड़वा भाई, अगवा कर ₹20 लाख फिरौती ली; फिर भी हाथ-पैर बाँध यमुना में फेंका: ढाई साल बाद इंसाफ

मध्य प्रदेश स्थित सतना जिले के चित्रकूट में दो जुड़वा भाइयों के अपहरण और हत्या के मामले में 5 दोषियों को आजीवन कारावास की सज़ा सुनाई गई है।

‘अपनी मौत के लिए दानिश सिद्दीकी खुद जिम्मेदार, नहीं माँगेंगे माफ़ी, वो दुश्मन की टैंक पर था’: ‘दैनिक भास्कर’ से बोला तालिबान

तालिबान प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने कहा कि दानिश सिद्दीकी का शव युद्धक्षेत्र में पड़ा था, जिसकी बाद में पहचान हुई तो रेडक्रॉस के हवाले किया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,381FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe