Saturday, July 31, 2021
Homeरिपोर्टमीडियाभगवान श्रीकृष्ण को 'व्यभिचारी' बताने वाली पत्रकार सृष्टि जसवाल को हिन्दुस्तान टाइम्स ने किया...

भगवान श्रीकृष्ण को ‘व्यभिचारी’ बताने वाली पत्रकार सृष्टि जसवाल को हिन्दुस्तान टाइम्स ने किया निलंबित

"हिंदुस्तान टाइम्स सृष्टि जसवाल की टिप्पणियों का समर्थन नहीं करता है जो उनके निजी ट्विटर हैंडल और उनके द्वारा व्यक्तिगत तौर पर की गई थीं। उसे तत्काल प्रभाव से कार्य से निलंबित कर दिया गया है और मामले को देखने के लिए एक आचार समिति का गठन किया गया है।"

भगवान श्रीकृष्ण को व्यभिचारी, Fuckboy और फोबिया ग्रसित पागल (उन्मत्त) बताने वाली हिन्दुस्तान टाइम्स समाचार की पत्रकार सृष्टि जसवाल (Srishti Jaswal) को हिन्दुस्तान टाइम्स समूह ने निष्काषित कर दिया है। इसके साथ ही सृष्टि जसवाल ने अपने ट्विटर और इन्स्टाग्राम एकाउंट भी डिलीट कर दिए हैं।

सृष्टी जसवाल के खिलाफ कार्रवाई कर उसे निकालने की सूचना देते हुए हिंदुस्तान टाइम्स (HT) ने एक ट्वीट के माध्यम से लिखा है – “हिंदुस्तान टाइम्स सृष्टि जसवाल की टिप्पणियों का समर्थन नहीं करता है जो उनके निजी ट्विटर हैंडल और उनके द्वारा व्यक्तिगत तौर पर की गई थीं। उसे तत्काल प्रभाव से कार्य से निलंबित कर दिया गया है और मामले को देखने के लिए एक आचार समिति का गठन किया गया है।”

सृष्टी जसवाल को लेकर हिन्दुस्तान टाइम्स द्वारा यह स्पष्टीकरण सोशल मीडिया पर सृष्टि जसवाल के इस ट्वीट पर लोगों के कड़े आक्रोश के बाद आई है। इस मामले के प्रकाश में आने के बाद सृष्टि जसवाल ने अपने सोशल मीडिया एकाउंट्स डिलीट कर दिए।

ज्ञात हो कि हिन्दुस्तान टाइम्स की पत्रकार सृष्टि जसवाल (Srishti Jaswal) के खिलाफ भगवान श्रीकृष्ण का अपमान करने के लिए भाजपा नेता गौतम अग्रवाल ने शिकायत भी दर्ज कराई है। हिन्दुस्तान टाइम्स की पत्रकार सृष्टि जसवाल ने भगवान श्रीकृष्ण का सार्वजनिक तौर पर अपमान किया है।

उन्होंने श्रीकृष्ण को व्यभिचारी, फक़ बॉय और फोबिया ग्रसित पागल (उन्मत्त) करार दिया था। HT की सृष्टि जसवाल का कहना है कि भगवान श्रीकृष्ण के बारे में ये सब उन्होंने हिन्दू माइथोलॉजी में पढ़ा है।

भाजपा नेता गौतम अग्रवाल ने ट्विटर पर सृष्टि के खिलाफ शिकायत दर्ज कराए जाने की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि HT की पत्रकार ने भगवान श्रीकृष्ण का अपमान कर के हिन्दुओं की भावनाओं को ठेस पहुँचाई है, इसीलिए उन्होंने उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।

अपनी शिकायत में खुद को हिन्दू आईटी सेल का सदस्य बताते हुए गौतम ने लिखा कि सृष्टि जसवाल HT से जुड़ी हुई हैं, जो देश-विदेश में लाखों लोगों पर प्रभाव डालता है। साथ ही उनकी ट्वीट को ‘भड़काऊ और आपत्तिजनक’ करार दिया। उन्होंने अंदेशा जताया कि ऐसे बयानों को सोशल मीडिया में डालने से सांप्रदायिक द्वेष और मजहबी दुश्मनी को बढ़ावा मिलता है। उन्होंने इस मामले में कड़ी कार्रवाई की माँग की।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शिवाजी से सीखा, 60 साल तक मुगलों को हराते रहे: यमुना से नर्मदा, चंबल से टोंस तक औरंगज़ेब से आज़ादी दिलाने वाले बुंदेले की...

उनके बारे में कहते हैं, "यमुना से नर्मदा तक और चम्बल नदी से टोंस तक महाराजा छत्रसाल का राज्य है। उनसे लड़ने का हौसला अब किसी में नहीं बचा।"

हिंदू मंदिरों की संपत्तियों का दूसरे धर्म के कार्यों में नहीं होगा उपयोग, कर्नाटक में HRCE ने लगाई रोक

कर्नाटक के हिन्दू रिलीजियस एण्ड चैरिटेबल एंडोवमेंट्स (HRCE) विभाग द्वारा जारी किए गए आदेश में यह कहा गया है कि हिन्दू मंदिर से प्राप्त किए गए फंड और संपत्तियों का उपयोग किसी भी तरह के गैर -हिन्दू कार्य अथवा गैर-हिन्दू संस्था के लिए नहीं किया जाएगा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,211FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe