Sunday, October 17, 2021
Homeरिपोर्टमीडियाधोखा, बेशर्म, पाखंड... विलाप कर रहे लिबरल गैंग की बहुत बुरी जली, शब्दों से...

धोखा, बेशर्म, पाखंड… विलाप कर रहे लिबरल गैंग की बहुत बुरी जली, शब्दों से दे रहे खुद को तसल्ली

"कल देर रात उन्होंने (NCP) हमें (कॉन्ग्रेस) बताया कि हम आज दोपहर को मिलेंगे... NCP ने हमारी पीठ में छुरा घोंपा है।"

महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर लंबे समय से चल रही उठा-पटक पर अब विराम लग गया है। भाजपा के देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री और NCP के अजित पवार ने उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। इस बीच, महाराष्ट्र में सरकार गठन को लेकर चारों ओर से प्रतिक्रियाओं का दौर भी चल निकला है। 

इसी कड़ी में जहाँ एक तरफ़ राजनीतिक गलियारे में आरोप-प्रत्यारोप का माहौल देखने को मिल रहा है, तो वहीं दूसरी तरफ़ ‘लिबरल गैंग’ ने भी अपना विलाप करना शुरू कर दिया है।

फ़ेक न्यूज़ फैलाने को लेकर हमेशा ट्रोल होने वाली पत्रकार स्वाति चतुर्वेदी ने NCP नेता अजित पवार (अब डिप्टी सीएम) पर निशाना साधते हुए लिखा कि महाराष्ट्र में सरकार गठन के सन्दर्भ में लिखा, “हो गया, पवार ने उद्धव ठाकरे और कॉन्ग्रेस को धोखा दिया।”

भाजपा-विरोधी और उसमें भी मोदी-विरोधी पत्रकारिता करके नाम कमाने वाले राजदीप सरदेसाई ने ट्विटर पर लिखा कि देवेन्द्र फडणवीस ने ‘अजीत पवार’ के कथित सिंचाई विभाग के भ्रष्टाचार को उजागर करके एक भ्रष्टाचार विरोधी धर्मयुद्ध के रूप में अपनी प्रतिष्ठा बनाई थी। आज फडणवीस सीएम और अजीत पवार उनके डिप्टी के रूप में !! यह एक महा ट्विस्ट है !! अब देखना यह है कि शरद पवार क्या कहते हैं !!

पत्रकारिता के समुदाय विशेष का हिस्से के रूप में ख्याति प्राप्त निखिल वागले ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए लिखा, “सलाम @narendramodi पूरी तरह से बेशर्म राजनीति को बढ़ावा देने के लिए!”

अपने एक अन्य ट्वीट में निखिल वागले ने मुख्यमंत्री फडणवीस को घेरते हुए लिखा, “प्रिय देवेन्द्र फडणवीस, आपने सिंचाई घोटाले को लेकर अजित पवार और NCP के ख़िलाफ़ एक अभियान चलाया था। अब आप उन्हीं पर भरोसा कर रहे हैं। क्या आपने अपनी तथाकथित नैतिकता और भ्रष्टाचार विरोधी मुद्दे को डुबो दिया? क्या यह पाखंड नहीं है?”

हमेशा कॉन्ग्रेस का गुणगान करने की ताक में रहने वाली वरिष्ठ राजनीतिक पत्रकार पल्लवी घोष ने कॉन्ग्रेस के सूत्रों के हवाले से ट्वीट किया, “कल देर रात उन्होंने (NCP) हमें (कॉन्ग्रेस) बताया कि हम आज दोपहर को मिलेंगे.. NCP ने हमारी पीठ में छुरा घोंपा है।”

पत्रकार वीर सांघवी ने सोनिया गाँधी पर चुटकी लेते हुए लिखा कि छ: साल पहले राहुल गाँधी के कॉन्ग्रेस उपाध्यक्ष बनने से पहले उनकी माँ ने उन्हें चेतावनी दी थी कि ‘पवार ज़हर हैं’। लेकिन, राहुल गाँधी ने उनकी चेतावनी को ठीक से न समझते हुए ‘पावर ज़हर है’ पर भाषण दिया। लेकिन, अब उन्हें पता चल गया होगा।

ग़ौरतलब है कि 288 विधानसभा सीटों वाले महाराष्ट्र में किसकी सरकार बनेगी और किसके साथ सरकार बनेगी, इस पर लंबे समय से सियासी दाँव-पेंच का खेल चल रहा था। लेकिन, आज सुबह एकाएक बदलते राजनीतिक समीकरणों के चलते इस पर विराम लग गया। अंतत: देवेंद्र फडणवीस और अजित पवार ने क्रमश: मुख्यमंत्री और उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते हुए राज्य को नई सरकार दी। और इस तरह शिवसेना के ढाई साल के मुख्यमंत्री पद की शपथ पर अड़े रहने की शर्त और NCP-कॉन्ग्रेस की बैठकों के दौर पर पूरी तरह से विराम लग गया।

…कॉन्ग्रेस का वो डर, जो सही साबित हुआ: महाराष्ट्र से राष्ट्रपति शासन का हटना और CM, डिप्टी सीएम का खेल

शायरी से श्राप तक: क्लर्क से संपादक और नेता बने संजय राउत ने जब फैलाया था रायता, आज खुद फैल गए!

ज़िदगी भर तड़पेंगे अजित पवार, साथ न देते तो आर्थर रोड जेल में होते: संजय राउत ने दिया श्राप

‘शिवसेना ने जनादेश का अपमान किया, जनता को स्थिर सरकार चाहिए’ – महाराष्ट्र CM देवेंद्र फडणवीस

‘किसानों की समस्या हल करने के लिए आए साथ’ – अजित पवार ने बताई BJP संग सरकार बनाने की वजह

महाराष्ट्र में बड़ा उलटफेर: देवेंद्र फडणवीस फिर बने CM, अजित पवार डिप्टी सीएम

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बेअदबी करने वालों को यही सज़ा मिलेगी, हम गुरु की फौज और आदि ग्रन्थ ही हमारा कानून’: हथियारबंद निहंगों को दलित की हत्या पर...

हथियारबंद निहंग सिखों ने खुद को गुरू ग्रंथ साहिब की सेना बताया। साथ ही कहा कि गुरु की फौजें किसानों और पुलिस के बीच की दीवार हैं।

सरकारी नौकरी से निकाला गया सैयद अली शाह गिलानी का पोता, J&K में रिसर्च ऑफिसर बन कर बैठा था: आतंकियों के समर्थन का आरोप

अलगाववादी नेता रहे सैयद अली शाह गिलानी के पोते अनीस-उल-इस्लाम को जम्मू कश्मीर में सरकारी नौकरी से निकाल बाहर किया गया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,107FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe