Wednesday, August 4, 2021
Homeरिपोर्टमीडिया'हमें बार-बार जाना पड़ता है, वो वॉशरूम कब जाती हैं': साक्षी जोशी का PK...

‘हमें बार-बार जाना पड़ता है, वो वॉशरूम कब जाती हैं’: साक्षी जोशी का PK से सवाल- क्या है ममता बनर्जी का टॉयलेट शेड्यूल

“मैं सोच रही थी कि हमें (पत्रकारों को) अधिक गर्मी और अधिक मात्रा में पानी के सेवन के कारण बार-बार (वॉशरूम) जाना पड़ता है। हमें कहीं न कहीं जाना होता है। मैंने कभी उन्हें कोई ब्रेक लेते नहीं देखा।”

पश्चिम बंगाल राज्य में चल रहे विधानसभा चुनावों के बीच, शनिवार (अप्रैल 10, 2021) को लुटियंस के पत्रकारों और चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (PK) के बीच बातचीत का ऑडियो क्लिप ट्विटर पर वायरल है। यह बातचीत एक्सक्लूसिव ऑडियो मैसेजिंग ऐप क्लब हाउस पर हुई।

साक्षी जोशी, आरफ़ा खानम शेरवानी, रोहिणी सिंह, स्वाति चतुर्वेदी, रवीश कुमार और अन्य कई लुटियन पत्रकार समूह इस चैट का हिस्सा थे। इन्हें इस बात का बिल्कुल भी आभास नहीं था कि इनकी बातचीत सार्वजनिक तौर पर सुनी जा रही है। इस बातचीत के दौरान ‘स्वतंत्र पत्रकार’ साक्षी जोशी ने ममता बनर्जी की शौचालय की दिनचर्या के बारे में उनके चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर से पूछताछ की। सत्ता के लिए सच बोलने का दावा करने वाली स्वतंत्र पत्रकार साक्षी जोशी ने ममता बनर्जी के कंट्रोल करने की क्षमता पर आश्चर्य जताया।

उसने पूछा, “मैं एक महिला होने के नाते काफी हैरान हूँ कि ममता बनर्जी हेलीकॉप्टर से उतरती हैं, स्टेज पर जाती हैं। वो वहाँ पर कम से कम 1 घंटा बोलती हैं, फिर हेलीकॉप्टर पर चढ़ जाती हैं और दूसरी जगह पर उतरती हैं। वो वॉशरूम कब जाती हैं? यह मेरा सवाल है।”

लुटियंस पत्रकार ने आगे कहा, “मैं सोच रही थी कि हमें (पत्रकारों को) अधिक गर्मी और अधिक मात्रा में पानी के सेवन के कारण बार-बार (वॉशरूम) जाना पड़ता है। हमें कहीं न कहीं जाना होता है। मैंने कभी उन्हें कोई ब्रेक लेते नहीं देखा।” जोशी के सवाल पर शर्मिंदा प्रशांत किशोर ने मजाकिया लहजे में कहा, “क्या मुझसे इस सवाल का जवाब देने की उम्मीद की जा रही है?”

साक्षी जोशी ने आगे कहा, “उनका (बाथरूम) शेड्यूल क्या है? इसे किस तरह से बनाया गया है? मेरा मतलब है कि वह क्या करती हैं। वह जहाँ भी जाती है, मैंने उन्हें कभी किसी और के घर में ठहरते या ब्रेक लेते हुए नहीं देखा है। वह सीधे कार्यक्रम स्थल पर आती है और फिर चली जाती है।” किशोर ने हँसते हुए इस सवाल को टाल दिया।

बता दें कि पश्चिम बंगाल में आज (अप्रैल 10, 2021) चौथे चरण के तहत 44 विधानसभा सीटों के लिए वोट डाले जा रहे हैं। इसके तहत दक्षिण बंगाल के हावड़ा (भाग दो), दक्षिण 24 परगना (भाग तीन), हुगली (भाग दो) और उत्तर बंगाल के अलीपुरद्वार तथा कूच बिहार में 1,15,81,022 मतदाता 373 उम्मीदवारों के भविष्य का फैसला करेंगे।

आज होने वाले मतदान में हावड़ा की नौ, दक्षिण 24 परगना की 11, अलीपुरद्वार की पाँच, कूच बिहार की नौ और हुगली की 10 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। जिन प्रमुख उम्मीदवारों की किस्मत इस चरण में दाँव पर लगी है उनमें बंगाल रणजी के पूर्व कप्तान मनोज तिवारी (शिबपुर सीट, तृणमूल कॉन्ग्रेस) और राज्य के शिक्षा मंत्री और बेहला पश्चिम सीट से वर्तमान विधायक पार्थ चटर्जी, टॉलीगंज सीट पर भाजपा के केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो, बेहला पूर्व सीट पर भाजपा की उम्मीदवार पायल सरकार, दोमजुर सीट पर हाल ही में भाजपा का दामन थामने वाले पूर्व वन मंत्री राजीव बनर्जी शामिल हैं। इसके अलावा हुगली के चिन्सुराह सीट पर भाजपा सांसद और अभिनेत्री लॉकेट चटर्जी की किस्मत भी इस चरण में ईवीएम में लॉक होगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘धर्म में मेरा भरोसा, कर्म के अनुसार चाहता हूँ परिणाम’: कोरोना से लेकर जनसंख्या नियंत्रण तक, सब पर बोले CM योगी

सपा-बसपा को समाजिक सौहार्द्र के बारे में बात करने का कोई अधिकार नहीं है क्योंकि उनका इतिहास ही सामाजिक द्वेष फैलाने का रहा है।

ईसाई बने तो नहीं ले सकते SC वर्ग के लिए चलाई जा रही केंद्र की योजनाओं का फायदा: संसद में मोदी सरकार

रिपोर्ट्स बताती हैं कि आंध्र प्रदेश में ईसाई धर्म में कन्वर्ट होने वाले 80 प्रतिशत लोग SC वर्ग से आते हैं, जो सभी तरह की योजनाओं का लाभ उठाते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,945FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe