Friday, December 3, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाJ&K में सुरक्षा बलों ने मार गिराए 4 आतंकी: भारतीय सेना की वर्दी...

J&K में सुरक्षा बलों ने मार गिराए 4 आतंकी: भारतीय सेना की वर्दी पहन हमले की फिराक में थे

दूसरी मुठभेड़ गांदरबल इलाके में हुई जो कि नियंत्रण रेखा के निकट है। माना जा रहा है कि मारा गया आतंकी एलओसी के रास्ते गुरेज़ की तरफ से भारत में घुसपैठ करने वाले एक बड़े समूह का हिस्सा था।

जम्मू-कश्मीर में शनिवार (सितंबर 28, 2019) की सुबह दो मुठभेड़ और एक ग्रेनेड हमला हुआ। पहली मुठभेड़ रामबन जिले के बोटोट में शुरू हुई जब 5 आतंकवादियों ने जम्मू-श्रीनगर राजमार्ग पर आम नागरिकों से भरी एक यात्री बस को रोकने की कोशिश की। ऑपरेशन अभी भी जारी है।

जानकारी के मुताबिक, आतंकवादी भारतीय सैनिकों की पोशाक में थे। आतंकवादियों ने ड्राइवर से बस रोकने के लिए कहा, मगर ड्राइवर पहले से सतर्क था। उसने बस नहीं रोकी और वहाँ से तेज़ी से निकल गया। ड्राइवर ने वहाँ से भाग निकलने के बाद इसकी सूचना निकटतम पुलिस चौकी को दी। इसके बाद सुरक्षा बलों ने इलाके को घेर लिया और तलाशी अभियान शुरू किया।

ताज़ा सूचना के अनुसार, सुरक्षा बलों ने 3 आतंकियों को मार गिराया है। वहीं, एक जवान वीरगति को प्राप्त हुआ है। आतंकियों द्वारा बंधक बनाए गए सभी लोगों को छुड़ा लिया गया है। पुलिस ने अपने बयान में बताया कि रामबन में ऑपरेशन ख़त्म हो चुका है। पूरे ऑपरेशन के दौरान सुरक्षा बलों को काफ़ी परेशानी का सामना करना पड़ा।

इलाके में हो रही भारी बारिश के कारण तलाशी अभियान को चलाने में काफी मुश्किलें आ रही थीं। बताया जा रहा है कि 5 आतंकी ग्रेनेड हमला करने के बाद एक घर में घुसकर लोगों को बंधक बना लिया था और कुछ-कुछ देर पर वो सुरक्षाकर्मियों पर फायरिंग कर रहे थे। सुरक्षाबलों ने उनलोगों का पीछा करते हुए पूरे इलाके को घेर लिया था, ताकि आतंकी सेना से बचकर न निकल पाएँ। सेना ने आतंकवादियों से आत्मसमर्पण करने के लिए कहा। अतिरिक्त क्षति से बचने के लिए सुरक्षा बलों द्वारा अत्यधिक सावधानी बरती जा रही थी।

दूसरी घटना, जम्मू-कश्मीर के गांदरबल के इलाके में हुई जो कि नियंत्रण रेखा (एलओसी) के निकट है। सेना के उत्तरी कमांड ने ट्वीट करते हुए बताया कि सुरक्षाबलों के साथ हुए इस मुठभेड़ में एक आतंकवादी को मार गिराया गया। ऐसा अंदेशा जताया जा रहा है कि जिस आतंकवादी को मार गिराया गया, वह एलओसी के रास्ते गुरेज़ की तरफ से भारत में घुसपैठ करने वाले एक बड़े समूह का हिस्सा हो सकता था।

वहीं, तीसरी घटना श्रीनगर की बताई जा रही है। यहाँ आतंकवादियों ने आबादी वाले इलाके में ग्रेनेड फेंका। हालाँकि, इस दौरान किसी के घायल होने की खबर नहीं है, क्योंकि क्षेत्र में वापस से प्रतिबंध लग जाने की वजह से उस समय कम ही लोग सड़कों पर थे। फिलहाल, पुलिस जाँच कर रही है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सियासत होय जब ‘हिंसा’ की, उद्योग-धंधा कहाँ से होय: क्या अडानी-ममता मुलाकात से ही बदल जाएगा बंगाल में निवेश का माहौल

एक उद्योगपति और मुख्यमंत्री की मुलाकात आम बात है। पर जब मुख्यमंत्री ममता बनर्जी हों और उद्योगपति गौतम अडानी तो उसे आम कैसे कहा जा सकता?

पाकिस्तानी मूल की ऑस्ट्रेलियाई सीनेटर मेहरीन फारुकी से मिलिए, सुनिए उनकी हिंदू घृणा- जानिए PM मोदी से उनको कितनी नफरत

मेहरीन फारूकी ने ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन के अच्छे दोस्त PM नरेंद्र मोदी को घेरने के बहाने संघीय सीनेट में घृणा के स्तर तक उतर आईं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
141,299FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe