Wednesday, May 18, 2022
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाचीन ने अरुणाचल से लापता पाँच लोगों को भारतीय सेना को सौंपा, पहले भी...

चीन ने अरुणाचल से लापता पाँच लोगों को भारतीय सेना को सौंपा, पहले भी अनजाने में कई युवाओं ने पार किया है LAC

भारतीय सेना के बयान के अनुसार, सभी औपचारिकाताएँ पूरी करने के बाद सभी पाँचों लोगों को किबितू सीमा के पास वाचा में रिसीव किया गया है। वापस आए सभी लोगों को कोरोना वायरस प्रोटोकॉल के अनुसार 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन किया जाएगा और उसके बाद ही उनके परिवार को सौंपा जाएगा।

सीमा पर भारत और चीन के बढ़ते तनाव के बीच चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) ने अरुणाचल प्रदेश से लापता पाँच युवाओं को शनिवार को रिहा कर दिया है। भारतीय सेना ने एक प्रेस रिलीज जारी कर यह जानकारी दी है।

भारतीय सेना के बयान के अनुसार, सभी औपचारिकाताएँ पूरी करने के बाद सभी पाँचों लोगों को किबितू सीमा के पास वाचा में रिसीव किया गया है। वापस आए सभी लोगों को कोरोना वायरस प्रोटोकॉल के अनुसार 14 दिनों के लिए क्वारंटाइन किया जाएगा और उसके बाद ही उनके परिवार को सौंपा जाएगा।

गौरतलब है शुरू में यह रिपोर्ट किया गया था कि चीनी सैनिकों ने भारतीय जवानों को पकड़ लिया है। वहीं इस अफवाह के बाद भारतीय सेना ने एक बयान जारी कर बताया था कि पकड़े गए लोग अरुणाचल प्रदेश के रहने वाले शिकारी थे। जो शिकार के दौरान अनजाने में एलएसी की दूसरी तरफ भटक गए थे।

बयान में आगे कहा गया कि, LAC को गलती से पार करने की ऐसी घटनाएँ अतीत में बहुत बार हुई हैं और भारतीय सेना लगातार खोए हुए स्थानीय लोगों का पता लगाने और उनको वापस घर लौटाने का काम किया है। इस तरह की लगभग तीन घटनाएँ इस साल हुई है। जिनमें ऊपरी सबनसिरी जिला और पश्चिम सियांग जिला शामिल है। सभी भटके हुए व्यक्तियों को भारतीय सेना द्वारा लगातार प्रयासों और समन्वय के माध्यम से घर वापस लाया गया।

सेना ने बताया, “हालिया ऊपरी सुबनसिरी जिले के पाँच व्यक्तियों ने भी अनजाने में हाल ही में एलएसी पार कर लिया था। भारतीय सेना ने उन्हें ट्रेस किया और वापस करने के लिए हॉटलाइन पर PLA से संपर्क किया। 8 सितंबर को, हॉटलाइन पर प्रतिक्रिया की पुष्टि हुई कि लापता व्यक्तियों का पता लगाया गया था।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सबा नकवी ने एटॉमिक रिएक्टर को बता दिया शिवलिंग, विरोध होने पर डिलीट कर माँगी माफ़ी: लोग बोले रहे – FIR करो

सबा नकवी ने मजाक उड़ाते हुए कहा कि भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर में सबसे बड़े शिवलिंग की खोज हुई। व्हाट्सएप्प फॉरवर्ड बता कर किया शेयर।

गुजरात में बुरी तरह फेल हुई AAP की ‘परिवर्तन यात्रा’, पंजाब से बुलाई गाड़ियाँ और लोग: खाली जगह की ओर हाथ हिलाते रहे नेता

AAP नेता और पूर्व पत्रकार इसुदान गढ़वी रैली में हाथ दिखाकर थक चुके थे लेकिन सामने कोई उनकी बात का जवाब नहीं दे रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,677FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe