Tuesday, October 19, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाकश्मीर का मुनीब जुटाता था पैसा, आतंकी खरीदते थे गोला-बारूद: कतर से लैंड करते...

कश्मीर का मुनीब जुटाता था पैसा, आतंकी खरीदते थे गोला-बारूद: कतर से लैंड करते ही एयरपोर्ट पर गिरफ्तार

"कुलगाम पुलिस ने जैश-ए-मोहम्मद के सहयोगी 'मुनीब सोफी' को इंदिरा गाँधी एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया गया है। वह आज ही कतर से प्रत्यर्पित होकर नई दिल्ली एयरपोर्ट पहुँचा था।"

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने दिल्ली के इंदिरा गाँधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे से जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के आतंकवादी मुनीब सोफी को शुक्रवार (5 फरवरी, 2021) को गिरफ्तार किया। ओवरग्राउंड वर्कर मुनीब जम्मू-कश्मीर के बिजबेहाड़ा का रहने वाला है। कतर से दिल्ली एयरपोर्ट पर उतरते ही उसे पुलिस ने अरेस्ट कर लिया।

खबरों के मुताबिक, सोफी मारे गिराए गए पाकिस्तानी आतंकवादी वलीद भाई के लिए काम कर रहा था।
कश्मीर जोन पुलिस ने मुनीब सोफी के बारे में ट्विटर पर जानकारी साझा करते हुए लिखा है “कुलगाम पुलिस ने जैश ए मोहम्मद के सहयोगी ‘मुनीब सोफी’ को इंदिरा गाँधी एयरपोर्ट से गिरफ्तार कर लिया गया है। वह आज ही कतर से प्रत्यर्पित होकर नई दिल्ली एयरपोर्ट पहुँचा था। वह पाकिस्तान के आतंकी वलीद भाई के लिए काम कर रहा था, जिसे पिछले साल एक एनकाउन्टर में मार गिराया गया था।”

वलीद भाई पाकिस्तान का JeM IED (इम्प्रूव्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस) विशेषज्ञ था, जोकि आतंकवादी घटनाओं को अंजाम देने के लिए घाटी में काम करता था। वह जम्मू-कश्मीर पुलिस के सबसे वांछित आतंकवादियों के लिस्ट में भी शामिल था।

जुलाई 2020 में जम्मू और कश्मीर के दक्षिणी कुलगाम जिले में सुरक्षाबलों ने एक मुठभेड़ में वलीद भाई और जैश-ए-मोहम्मद दो अन्य आतंकियों को मार गिराया था। आईजीपी ने तब कहा था कि वलीद भाई दक्षिण कश्मीर में चार कॉर्डन-एंड-सर्च ऑपरेशन के दौरान बच निकला था।

पुलिस ने एक बयान में कहा है कि गिरफ्तार किए गए ओवरग्राउंड वर्कर की भूमिका प्राथमिकी संख्या 58/2020 में धारा 13, 18, 19, 38, 39 यूएलए (पी) अधिनियम के तहत सामने आई थी। उक्त मामले में गिरफ्तार किए गए अभियुक्त ने पुलिस को बताया था कि वह अन्य ओवरग्राउंड वर्करों के साथ कश्मीर के विभिन्न जिलों से जैश-ए-मोहम्मद के लिए पैसा इकट्ठा कर रहा था।

मुनीब सोफी एकत्रित धन का इस्तेमाल पाकिस्तान में वलीद भाई के लिए हथियार और गोला-बारूद खरीदने के लिए करता था। इससे पहले कुलगाम पुलिस ने मुनीब के खिलाफ एक लुकआउट नोटिस जारी किया गया था और गैर-जमानती वारंट भी निकाला था।

गौरतलब है कि इससे पहले सोमवार को सुरक्षाबलों ने पुलवामा जिले से JeM के दो ओवरग्राउंड वर्कर्स को भी गिरफ्तार किया था। पुलिस अधिकारी ने बताया,“सेना और सीआरपीएफ के साथ पुलिस ने अवंतीपोरा क्षेत्र से अभियुक्त संगठन जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादी साथियों को गिरफ्तार किया जो आतंकियों को रहने और खाने-पीने में मदद करते थे।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,820FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe