Tuesday, April 20, 2021
Home रिपोर्ट राष्ट्रीय सुरक्षा पुलवामा में मिली विस्फोटकों से लदी कार C ग्रेड आतंकी हिदायतुल्ला की, BSF जवान...

पुलवामा में मिली विस्फोटकों से लदी कार C ग्रेड आतंकी हिदायतुल्ला की, BSF जवान की बाइक का लगा रखा था नंबर प्लेट

हिदायतुल्ला मलिक की तलाश में लगातार दबिश दी जा रही है। इस कार का इस्तेमाल कर आतंकी पुलवामा में बीते साल की तरह ही जवानों को निशाना बनाकर आत्मघाती हमला करने की फ़िराक में थे।

सुरक्षा बलों ने करीब 40 किलो विस्फोटक से लदी कार जब्त कर पुलवामा में बड़ी आतंकी साजिश को नाकाम कर दिया था। जम्मू-कश्मीर पुलिस ने इस कार के मालिक की पहचान हिदायतुल्ला मलिक के तौर पर की है।

वह हिज्बुल मुजाहिद्दीन से जुड़ा हुआ है। शोपियॉं के शरदपोरा गॉंव का रहने वाला मलिक सालभर से आतंकी संगठन से जुड़ा हुआ है। दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार उसे इस साल की शुरुआत में सी श्रेणी के आतंकियों में सूचीबद्ध किया गया था। उस पर तीन लाख रुपए का इनाम है।

हिदायतुल्ला मलिक की तलाश में लगातार दबिश दी जा रही है। इस कार का इस्तेमाल कर आतंकी पुलवामा में बीते साल की तरह ही जवानों को निशाना बनाकर आत्मघाती हमला करने की फ़िराक में थे। आतंकियों ने कार पर जो फर्जी नंबर प्लेट लगा रखा था, वह कठुआ जिले के निवासी और श्रीनगर में तैनात बीएसएफ के एक जवान की मोटरसाइकिल का है।

शुरुआती जाँच में इस हमले का रावलपिंडी कनेक्शन का भी खुलासा हुआ है। हमले में जीशान पाशा नाम के एक हिज्बुल कमांडर का नाम भी सामने आया है। यह माना जा रहा है कि इस पूरी साजिश का खाका उसी ने खींचा था।

डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया कि इस बात के सबूत भी मिले हैं कि कश्मीर में किसी बड़े आतंकी हमले की साजिश के लिए हिज्बुल चीफ सैयद सलाहुद्दीन ने हाल ही में एक बड़ी बैठक की थी। मुजफ्फराबाद (पीओके) की इस बैठक में जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर के कई बड़े कमांडरों ने हिस्सा लिया था।

इससे पहले भारतीय सेना ने इस साजिश में शामिल आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन और जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकियों की पहचान को उजागर किया था। सेना की शुरुआती जाँच में आदिल का नाम सामने आया है, जो जैश और हिज्ब दोनों के लिए काम करता है।

बताया जा रहा है कि कार वही चला रहा था। उसके साथ कार में पाकिस्तानी आतंकी फौजी भाई था। वह भी जैश के लिए काम करता है। इतना ही नहीं आईईडी तैयार करने वाले आतंकी के बारे में भी सुरक्षाबल पता लगा चुके हैं।

सुरक्षा एजेंसियों का कहना है कि यह आईईडी पाकिस्तानी आतंकी वलीद ने तैयार की थी। ए-श्रेणी का आतंकवादी वलीद उर्फ मूसा उर्फ इदलीस घाटी में वर्ष 2015 से सक्रिय है। दरअसल यह कार रमजान माह के 17वें दिन यानी जंग-ए-बद्र पर आत्मघाती हमले के लिए तैयार किया गया था।

परंतु सुरक्षाबलों की चौकसी की वजह से वे उस दिन हमले को अंजाम नहीं दे पाए थे। सुरक्षा एजेंसियों, पुलिस, सेना और सीआरपीएफ को पिछले कई दिनों से संभावित फिदायीन हमले के बारे में इनपुट मिल रहे थे।

गौरतलब है कि पुलवामा में 27-28 मई 2020 को एक बड़े आतंकी हमले की साजिश को नाकाम कर दिया था। सुरक्षाबलों ने पुलवामा के पास एक सैंट्रो गाड़ी की पहचान की थी। इसमें IED (इंप्रोवाइज्ड एक्स्प्लोसिव डिवाइस) प्लांट की गई थी। सूचना के आधार पर सुरक्षाबलों ने कार को घेर लिया, लेकिन इसी बीच कार के भीतर से गोलीबारी शुरू हो गई।

गोलीबारी के बीच इस दौरान अंधेरे का फायदा उठाकर आतंकी भाग निकले थे। कार की तलाशी ली गई तो उसमें IED का पता चला। सैंट्रो को पुलवामा के रजपुरा रोड के पास शादीपुरा में पकड़ा गया था। बम डिस्पोजल स्क्वायड ने समय रहते ही इसे डिफ्यूज कर दिया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सरकार पर विश्वास नहीं’: मजदूरों ने केजरीवाल की नहीं सुनी, 5 लाख ने पकड़ी ट्रेन-बस टर्मिनल पर 50000; दिल्ली से घर लौटने की मारामारी

घर वापसी की यह होड़ केजरीवाल सरकार की साख पर सवाल है। यह बताती है कि दिल्ली के सीएम की बातों पर मजदूरों को भरोसा नहीं है।

कोरोना से लड़ाई में मजबूत कदम बढ़ाती मोदी सरकार: फर्जी प्रश्नों के सहारे फिर बेपटरी करने निकली गिद्धों की पाँत

गिद्धों की पाँत फिर से वैसे ही बैठ गई है। फिर से हेडलाइन के आगे प्रश्नवाचक चिन्ह के सहारे वक्तव्य दिए जा रहे हैं। नेताओं द्वारा फ़र्ज़ी प्रश्न उठाए जा रहे हैं। शायद फिर उसी आकाँक्षा के साथ कि भारत कोरोना के ख़िलाफ़ अपनी लड़ाई हार जाएगा।

‘कॉन्ग्रेसी’ साकेत गोखले ने पूर्व CM के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत, शिवसेना नेता कहा- ‘फडणवीस के मुँह में डाल देता कोरोना’

शिवसेना के विधायक संजय गायकवाड़ ने पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को लेकर विवादित बयान दिया है। उन्‍होंने कहा है कि अगर उन्हें कहीं कोरोना वायरस मिल जाता, तो वह उसे भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस के मुँह में डाल देते।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने 26 अप्रैल तक 5 शहरों में लगाए कड़े प्रतिबन्ध, योगी सरकार ने पूर्ण लॉकडाउन से किया इनकार

योगी आदित्यनाथ सरकार ने शहरों में लॉकडाउन लगाने से इंकार कर दिया है। यूपी सरकार ने कहा कि प्रदेश में कई कदम उठाए गए हैं और आगे भी सख्त कदम उठाए जाएँगे। गरीबों की आजीविका को भी बचाने के लिए काम किया जा रहा है।

वामपंथियों के गढ़ जेएनयू में फैला कोरोना, 74 छात्र और स्टाफ संक्रमित: 4 की हालत गंभीर

जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय, दिल्ली में भी कोविड ने एंट्री मार ली है। विश्वविद्यालय के स्वास्थ्य केंद्र से मिली जानकारी के मुताबिक 74 छात्र और स्टाफ संक्रमित पाए गए हैं।

‘मई में दिखेगा कोरोना का सबसे भयंकर रूप’: IIT कानपुर की स्टडी में दावा- दूसरी लहर कुम्भ और रैलियों से नहीं

प्रोफेसर मणिन्द्र और उनकी टीम ने पूरे देश के डेटा का अध्ययन किया। अलग-अलग राज्यों में मिलने वाले कोरोना के साप्ताहिक आँकड़ों को भी परखा।

प्रचलित ख़बरें

‘वाइन की बोतल, पाजामा और मेरा शौहर सैफ’: करीना कपूर खान ने बताया बिस्तर पर उन्हें क्या-क्या चाहिए

करीना कपूर ने कहा है कि वे जब भी बिस्तर पर जाती हैं तो उन्हें 3 चीजें चाहिए होती हैं- पाजामा, वाइन की एक बोतल और शौहर सैफ अली खान।

‘छोटा सा लॉकडाउन, दिल्ली छोड़कर न जाएँ’: इधर केजरीवाल ने किया 26 अप्रैल तक कर्फ्यू का ऐलान, उधर ठेकों पर लगी कतार

केजरीवाल सरकार ने 26 अप्रैल की सुबह 5 बजे तक तक दिल्ली में लॉकडाउन की घोषणा की है। इस दौरान स्वास्थ्य सुविधाओं को दुरुस्त कर लेने का भरोसा दिलाया है।

‘मैं इसे किस करूँगी, हाथ लगा कर दिखा’: मास्क के लिए टोका तो पुलिस पर भड़की महिला, खुद को बताया SI की बेटी-UPSC टॉपर

महिला ने धमकी देते हुए कहा कि उसका बाप पुलिस में SI के पद पर है। साथ ही दिल्ली पुलिस को 'भिखमंगा' कह कर सम्बोधित किया।

नासिर ने बीड़ी सुलगाने के लिए माचिस जलाई, जलती तीली से लाइब्रेरी में आगः 3000 भगवद्गीता समेत 11 हजार पुस्तकें राख

कर्नाटक के मैसूर की एक लाइब्रेरी में आग लगने से 3000 भगवद्गीता समेत 11 हजार पुस्तकें राख हो गई थी। पुलिस ने सैयद नासिर को गिरफ्तार किया है।

पुलिस अधिकारियों को अगवा कर मस्जिद में ले गए, DSP को किया टॉर्चरः सरकार से मोलभाव के बाद पाकिस्तान में छोड़े गए बंधक

पाकिस्तान की पंजाब प्रांत की सरकार के साथ मोलभाव के बाद प्रतिबंधित इस्लामी संगठन TLP ने अगवा किए गए 11 पुलिसकर्मियों को रिहा कर दिया है।

‘F@#k Bhakts!… तुम्हारे पापा और अक्षय कुमार सुंदर सा मंदिर बनवा रहे हैं’: कोरोना पर घृणा की कॉमेडी, जानलेवा दवाई की काटी पर्ची

"Fuck Bhakts! इस परिस्थिति के लिए सीधे वही जिम्मेदार हैं। मैं अब भी देख रहा हूँ कि उनमें से अधिकतर अभी भी उनका (पीएम मोदी) बचाव कर रहे हैं।"
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,985FansLike
82,220FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe