Thursday, April 18, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षासैनिक छावनी महू से 2 सगी बहनें कौसर और हिना जासूसी में गिरफ्तार: पाकिस्तान...

सैनिक छावनी महू से 2 सगी बहनें कौसर और हिना जासूसी में गिरफ्तार: पाकिस्तान भेज रही थी अहम जानकारी

दोनों युवतियाँ सैन्य छावनी क्षेत्र की जानकारी पाकिस्तान पहुँचा रही थी। कुछ दिन पहले ये रोड पर चलते हुए पाकिस्तान में फोन पर बात कर रही थीं। इसी दौरान सेना के गोपनीय विभाग ने उसके फोन पर फ्रीक्वेंसी पकड़ ली थी। तभी से इन पर नजर रखी जा रही थी।

मध्य प्रदेश ​के इंदौर जिले के सैनिक छावनी महू इलाके से दो सगी बहनें कौसर और हिना को गिरफ्तार किया गया है। इन पर सैनिक छावनी की गुप्त सूचनाएँ पाकिस्तान भेजने का संदेह है। बताया जा रहा है कि ये युवतियाँ सोशल मीडिया पर फर्जी आईडी के जरिए पाकिस्तान के पूर्व सैनिक और नागरिकों के सम्पर्क में थीं। बताया जा रहा है कि युवती जिन पाकिस्तानी नागरिकों से बात करती थी, उनका पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई से लिंक है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक इंदौर आईजी हरिनारायण चारी ने दोनों युवतियों को पुलिस द्वारा हिरासत में लेने की पुष्टि की है। युवतियों को हिरासत में लेने के बाद देश भर की एजेंसियाँ सक्रिय हो गई हैं। एटीएस, आईबी, इंदौर पुलिस, मिलिट्री इंटेलिजेंस अपने-अपने स्तर पर जाँच में जुट गई हैं।

खबरों में दावा किया जा रहा है कि दोनों युवतियाँ सैन्य छावनी क्षेत्र की जानकारी पाकिस्तान पहुँचा रही थी। कुछ दिन पहले ये रोड पर चलते हुए पाकिस्तान में फोन पर बात कर रही थीं। इसी दौरान सेना के गोपनीय विभाग ने उसके फोन पर फ्रीक्वेंसी पकड़ ली थी। तभी से इन पर नजर रखी जा रही थी।

जानकारी के मुताबिक कौसर और हिना नाम की इन युवतियों की उम्र 32 और 28 साल है। दोनों बहनें कई जगह नौकरी कर चुकी हैं। वे कहीं ज्यादा दिनों तक नहीं रहती थीं। हिना महू में बिजली कंपनी में कांट्रेक्टर के पोस्ट पर काम करती रही। बिजली कंपनी से मिली सूचना के मुताबिक हिना 6 महीने से कंप्यूटर ऑपरेटर के तौर पर प्राइम वन एजेंसी के जरिए काम कर रही थी।

दूसरी बहन महू में बतौर शिक्षिका काम कर रही थी। उनके फोन व अन्य इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों को जब्त कर लिया गया है। उनसे आगे की पूछताछ की जा रही है। पुलिस ने उनके पास से लैपटॉप, मोबाइल फोन जब्त किया है। यह भी बताया जा रहा है कि इन्हें मॉरीशस से फंडिंग हो रही थी। इनके पिता सेना में नौकरी करने के बाद इंदौर में एसबीआई की एक शाखा में सुरक्षाकर्मी थे, लेकिन उनकी मृत्यु हो चुकी है। दोनो बहनें एक साल से अधिक समय से पाकिस्तान के साथ संपर्क में रहने के लिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर फर्जी आईडी का उपयोग कर रही थी।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक युवतियों को कुछ समय पहले महू में आर्मी की इमारतों और ट्रेनिंग सेंटर के आसपास फोटोग्राफी करते हुए देखा गया था इसके बाद एक फेक आईडी बनाकर इन्हें टारगेट किया गया था। रिपोर्ट्स के मुताबिक, पाकिस्तान के एक एजेंट ने कहा था कि वह बड़ी बहन से शादी करेगा। लड़की ने यह भी कहा कि वह उस आदमी से शादी करना चाहती है जिसके साथ वह सोशल मीडिया के जरिए संपर्क में आई थी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

लोकसभा चुनाव 2024 के पहले चरण में 21 राज्य-केंद्रशासित प्रदेशों के 102 सीटों पर मतदान: 8 केंद्रीय मंत्री, 2 Ex CM और एक पूर्व...

लोकसभा चुनाव 2024 में शुक्रवार (19 अप्रैल 2024) को पहले चरण के लिए 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की 102 संसदीय सीटों पर मतदान होगा।

‘केरल में मॉक ड्रिल के दौरान EVM में सारे वोट BJP को जा रहे थे’: सुप्रीम कोर्ट में प्रशांत भूषण का दावा, चुनाव आयोग...

चुनाव आयोग के आधिकारी ने कोर्ट को बताया कि कासरगोड में ईवीएम में अनियमितता की खबरें गलत और आधारहीन हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe