Wednesday, September 28, 2022
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाNSA अजीत डोवाल की सुरक्षा में चूक पर एक्शन, 3 कमांडो बर्खास्त, DIG और...

NSA अजीत डोवाल की सुरक्षा में चूक पर एक्शन, 3 कमांडो बर्खास्त, DIG और कमांडेंट का ट्रांसफर: जानिए क्या है पूरा मामला

....ये तीनों कमांडो उस वक्त ड्यूटी कर रहे थे, जब NSA अजीत डोवाल के सरकारी बंगले तक एक संदिग्ध गाड़ी पहुँच गई थीं।

भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल (Ajit Doval) की सुरक्षा में हुई चूक के मामले में केंद्र ने अब सख्त कार्रवाई करते हुए 3 कमांडो को निलंबित कर दिया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार यानि NSA अजीत डोवाल की सुरक्षा में हुई चूक से जुड़े एक मामले में कार्रवाई करते हुए केंद्र सरकार (Central Government) ने 3 कमांडो को नौकरी से हमेशा के लिए बर्खास्त कर दिया है। बताया जा रहा है कि ये तीनों कमांडो उस वक्त ड्यूटी कर रहे थे, जब डोवाल के सरकारी बंगले तक एक संदिग्ध गाड़ी पहुँच गई थीं।

वहीं इस मामले में VIP सुरक्षा से जुड़े DIG और कमांडेंट का ट्रांसफर किया गया है। बता दें कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोवाल (National Security Advisor Ajit Doval) की सुरक्षा में चूक का मामला ज्यादा पुराना नहीं है। बल्कि इसी साल फरवरी महीने का है, इस मामले में तब एक व्यक्ति को हिरासत में भी लिया गया था।

अजीत डोवाल की सुरक्षा में हुई चूक का पूरा मामला

16 फरवरी 2022 को NSA अजीत के दिल्ली स्थित सरकारी बंगले के गेट तक एक अनजान व्यक्ति कार लेकर पहुँच गया था। उसकी इस हरकत के बाद सुरक्षा बल के जवानों ने उसे धर-दबोचा। बता दें कि यह व्यक्ति लाल रंग की एसयूवी कार लेकर डोवाल के घर तक आया था। तब उस व्यक्ति ने दिल्ली पुलिस की स्पेशल टीम को बताया कि उसकी बॉडी में चिप लगा दिया गया है और उसे रिमोट कंट्रोल से नियंत्रित किया जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि जाँच में उसके शरीर से कोई भी चिप नहीं पाई गई थी। उसने पूछताछ में यह भी माना कि वह कर्नाटक का रहने वाला है और किराए की कार चला रहा था। वहीं उसकी पहचान बेंगलुरु के शांतनु रेड्डी के तौर पर हुई थी। पुलिस ने भी अपनी आधिकारिक स्टेटमेंट में यह बताया कि वह व्यक्ति मानसिक रूप से कमजोर है।

गौरतलब है कि अजीत डोवाल आजाद भारत के पाँचवें राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार हैं और वे 30 मई 2014 से इस पद पर नियुक्त हैं। वहीं उनका सरकारी आवास दिल्ली के सबसे सुरक्षित इलाके लुटियंस जोन के 5 जनपथ में स्थित हैं। बता दें कि उनसे पहले पहले पूर्व प्रधानमंत्री इंद्र कुमार गुजराल यहीं रहते थे। डोवाल को Z+ कैटेगरी की सुरक्षा मिली है और उनकी सुरक्षा CISF के कमांडो करते हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

बंगाल का एक दुर्गा पूजा पंडाल ऐसा भी: याद उनकी जो चुनाव बाद मार डाले गए, सुनाई देगी माँ की रुदन

दुर्गा पूजा में अलग-अलग थीम के पंडाल के तैयार किए जाते हैं। पश्चिम बंगाल में इस बार एक पूजा पंडाल उन लोगों की याद में तैयार किया गया है जो विधानसभा चुनाव के बाद राजनीतिक हिंसा में मार डाले गए थे।

मूर्तिपूजकों को जहाँ देखो, वहीं लड़ो-काटो… ऐसे बनाओ IED बम: PFI पर 5 साल का बैन क्यों लगा, पढ़िए इसके कुकर्मों की पूरी लिस्ट

भारत सरकार ने पॉपुलर फ्रंट ऑफ़ इंडिया (PFI) और उससे जुड़ी 8 संस्थाओं पर बैन लगा दिया है। PFI की देश विरोधी गतिविधियों के कारण...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,749FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe