Tuesday, May 21, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षापुंछ में वायुसेना जवानों पर हमला करने वाले आतंकियों की पहचान आई सामने, पाक...

पुंछ में वायुसेना जवानों पर हमला करने वाले आतंकियों की पहचान आई सामने, पाक फौज का पूर्व कमांडो भी शामिल

वायुसेना की गाड़ी पर हमला करने वाले तीनों आतंकियों के नाम इलियास फौजी, अबू हमजा और हदून हैं। इनमें से इलियास फौजी पहले पाकिस्तान की फौज में कमांडो था और बाद में वह भारत में आतंक फैलाने आ गया। इसके अलावा अबू हमजा लश्कर-ए-तैयबा का कमांडर है।

4 मई, 2024 को जम्मू कश्मीर के पुंछ में वायुसेना की एक गाड़ी पर हमला करने वाले आतंकियों की पहचान हो गई है। उनकी कुछ फोटो भी सामने आई हैं। पता चला है कि हमला करने वालों में से एक आतंकी पाक फौज का पूर्व जवान है। सुरक्षाबल इनकी तलाश में लगे हुए हैं।

सामने आई जानकारी के अनुसार, पुंछ में वायुसेना के काफिले पर हमला करने वाले तीनों आतंकियों के नाम इलियास फौजी, अबू हमजा और हदून हैं। इनमें से इलियास फौजी पहले पाकिस्तान की फौज में कमांडो था और बाद में वह भारत में आतंक फैलाने आ गया। इसके अलावा अबू हमजा लश्कर-ए-तैयबा का कमांडर है।

यह तीनों आतंकी PAFF नाम के आतंकी संगठन से जुड़े हुए हैं। यह आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मुहम्मद और हिजबुल मुजाहिद्द्दीन पर शिकंजा कसने के बाद बनाया गया था। इन तीनों की तस्वीरें भी सामने आई हैं, जिनमें यह हथियार लिए हुए दिखते हैं। इनकी तलाश में सुरक्षाबल पुंछ और राजौरी के इलाके में बड़ा सर्च अभियान चला रहे हैं।

गौरतलब है कि 4 मई को पुंछ में वायुसेना जवानों की एक गाड़ी पर आतंकी हमला हुआ था। वायुसेना के जवान सीमाई इलाके से एक ट्रक में लौट रहे थे। हमले में आतंकियों ने ट्रक को अचानक घेर कर गोलियाँ बरसाईं थी। इस हमले में पाँच जवान घायल हुए थे। बाद में एक जवान विकी पहाड़े की मौत हो गई थी।

इस हमले के विषय में और भी जानकारी सामने आई है। स्थानीय लोगों ने बताया कि हमले के दिन फायरिंग लगभग 20 मिनट तक जारी रही। इस कारण से बच्चे डर गए। स्थानीयों ने बताया कि इस इलाके में वायुसेना के लोग अकसर आते थे और बच्चों को टॉफ़ी बाँटा करते थे। स्थानीयो ने बताया कि वह आतंकियों को देख नहीं पाए क्योंकि हमला घने जंगल के बीच हुआ।

इन आतंकियों की जानकारी सामने आने से एक दिन पहले मंगलवार (7 मई, 2024) को सुरक्षाबलों को कश्मीर में बड़ी सफलता मिली है। कश्मीर के कुलगाम में दो आतंकियों को सुरक्षाबलों ने मार गिराया। मारे जाने वाले आंतकियों में कमांडर बासित डार भी शामिल था। वह कश्मीरी पंडितों और सिख शिक्षक समेत पुलिस अफसर की हत्या के मामले फरार था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ से लड़ रही लालू की बेटी, वहाँ यूँ ही नहीं हुई हिंसा: रामचरितमानस को गाली और ‘ठाकुर का कुआँ’ से ही शुरू हो...

रामचरितमानस विवाद और 'ठाकुर का कुआँ' विवाद से उपजी जातीय घृणा ने लालू यादव की बेटी के क्षेत्र में जंगलराज की यादों को ताज़ा कर दिया है।

निजी प्रतिशोध के लिए हो रहा SC/ST एक्ट का इस्तेमाल: जानिए इलाहाबाद हाई कोर्ट को क्यों करनी पड़ी ये टिप्पणी, रद्द किया केस

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने एक मामले की सुनवाई करते हुए SC/ST Act के झूठे आरोपों पर चिंता जताई है और इसे कानून प्रक्रिया का दुरुपयोग माना है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -