Wednesday, August 4, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाहाफिज सईद के बेटे ने शुरू किया आतंकी ट्रेनिंग कैंप: डर से ISI ने...

हाफिज सईद के बेटे ने शुरू किया आतंकी ट्रेनिंग कैंप: डर से ISI ने करवाया था बंद

बीते दिनों आईएसआई और आतंकी संगठनों के बीच बैठकें भी हुईं थी। तय किया गया कि ‘कश्मीरी जिहाद’ के कंट्रोल रूम पीओके और पाक-अफगान सीमा पर बनाए जाएँगे। साथ ही आतंकियों की नई भर्ती पर भी जोर दिया जाएगा।

पाकिस्तान के मीरपुर और सियालकोट में आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा का ट्रेनिंग कैंप फिर से शुरू हो गया है। अंतरराष्ट्रीय दबाव के डर से पाकिस्तान की कुख्यात खुफिया एजेंसी आईएसआई ने कुछ समय पहले इसे बंद कर दिया था। दोबारा से इसे शुरू तलहा सईद ने किया है। वह आतंकी सरगना और मुंबई हमले के मास्टरमाइंड हाफिज सईद का बेटा है।

खुफिया रिपोर्टों के आधार पर इंडिया टुडे ने यह जानकारी दी है। खबर के मुताबिक लश्कर के लिए खोला गया यह कैंप मीरपुर के मांगला और सियालकोट के हेड मराल में है। लश्कर ने इन कैंपों के लिए आतंकियों की भर्ती भी शुरू कर दी है। भर्ती स्वात घाटी के पास पाकिस्तान-अफगानिस्तान सीमा से सटे कबीलाई इलाकों, पेशावर, क्वेटा और इलाका-ए-घैर में की जा रही है।

बीते दिनों आईएसआई और आतंकी संगठनों के बीच कई बैठकें भी हुईं थी। इनमें POK में सक्रिय कई आतंकी संगठनों के कमांडरों ने हिस्सा लिया था। इसके बाद तय किया गया कि ‘कश्मीरी जिहाद’ के कंट्रोल रूम पीओके और पाक-अफगान सीमा पर बनाए जाएँगे। साथ ही आतंकियों की नई भर्ती पर भी जोर दिया जाएगा।

रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान अपने संसाधनों को अफगान सीमा से सटे कबीलाई इलाकों को हटा कर जम्मू-कश्मीर की ओर फोकस कर रहा है। साथ ही एलओसी पर भी पाकिस्तानी सेना गतिविधि बढ़ाने में लगी है। अभी हाल ही में इन सबके मद्देनजर जम्मू-कश्मीर में कई जगहों पर आतंकी ग्रुपों की बड़ी हरकत नोटिस की गई थी।

जानकारी के अनुसार ISI के निर्देश पर पाकिस्तान में आर्मी यूनिट्स के बीच ही आतंकियों के लिए बंकर बनाए जा रहे हैं। जिन्हें ’10 बलूच’ की ओर से तैयार किया जाना है। आईएसआई ने ‘कूरियर एंड गाइड’ को रेकी करने, नक्शे तैयार करें और आतंकियों की घुसपैठ के लिए रूट तैयार करने को कहा है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अगर बायोलॉजिकल पुरुषों को महिला खेलों में खेलने पर कुछ कहा तो ब्लॉक कर देंगे: BBC ने लोगों को दी खुलेआम धमकी

बीबीसी के आर्टिकल के बाद लोग सवाल उठाने लगे हैं कि जब लॉरेल पैदा आदमी के तौर पर हुए और बाद में महिला बने, तो यह बराबरी का मुकाबला कैसे हुआ।

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,995FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe