Tuesday, September 27, 2022
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षा'पोस्टर से जुटाओ बड़े हिंदू नेता की जानकारी, फिर हमला कर मार दो' -...

‘पोस्टर से जुटाओ बड़े हिंदू नेता की जानकारी, फिर हमला कर मार दो’ – पकड़ाए 3 आतंकियों का खुलासा

जफर नाम के आतंकी ने पूछताछ में बताया कि वो कई बड़े हिंदू नेताओं की हत्या करने के मकसद से आया था। उसने खुलासा किया कि उसे इन हत्याओं के बाद अपनी शहादत देनी थी।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने आईएसआईएस के तीन संदिग्ध आतंकियों को धर दबोचा। अब खुफिया एजेंसियों से पूछताछ में इन्होंने गुरुवार (जनवरी 9, 2019) को चौंकाने वाले खुलासे किए हैं। इन गिरफ्तार आतंकियों को लोकप्रिय हिंदू नेताओं की हत्या करने की ‘सुपारी’ दी गई थी। इसके साथ ही इनसे सेना और पुलिस के अधिकारियों को भी अपने निशाने पर रखने को कहा गया था।

पकड़े गए तीन संदिग्ध आईएसआईएस आतंकियों में से जफर नाम के आतंकी ने पूछताछ में बताया कि वो कई बड़े हिंदू नेताओं की हत्या करने के मकसद से आया था। उसने खुलासा किया कि उसे इन हत्याओं के बाद अपनी शहादत देनी थी। उसने खुलासा किया कि उसे बड़े और नामी हिंदू नेताओं के मर्डर का लक्ष्य दिया गया था। 

इन आतंकियों को टास्क दिया गया था कि बड़े नेताओं की जानकारी उसे शहर की दीवारों पर लगे पोस्टरों से जुटानी थी। इसके बाद पूरी योजना के साथ उनके ऊपर हमला किया जाता। साथ ही उन्हें उनके आकाओं (हैंडलर) से कहा गया था कि यदि कोई वर्दी पहने हुए बड़ा अधिकारी दिखे तो उसकी हत्या कर दो।

जाँच एजेंसी के मुताबिक तीनों आतंकियों की योजना देश के विभिन्न शहरों में बड़े हमले करने की थी। उनके निशाने पर आरएसएस के कई बड़े नेता भी हैं। पकड़े गए आईएसआईएस आतंकवादियों की योजना में यूपी में भी कई बड़े हमले की साजिश शामिल थी। साथ ही खुफिया एजेंसी द्वारा किए गए पूछताछ में यह भी खुलासा हुआ है कि ये तीनों आतंकी आपस में बातचीत करने के लिए ऐसे ऐप का इस्तेमाल करते थे, जिसमें कम्युनिकेशन खत्म होते ही टेक्स्ट अपने-आप डिलीट हो जाते थे।

गौरतलब है कि गिरफ्तार तीनों तमिलनाडु से फरार चल रहे थे। जिनमें से दो संदिग्ध को प्रसिद्ध हिंदू मुनानी नेता केपी सुरेश कुमार की हत्‍या मामले में कोर्ट से बेल मिली हुई है। बेल के बाद यह लोग तमिलनाडु से नेपाल भाग गए और वहाँ से फिर दिल्‍ली आए। इसके बाद यहाँ से फिर नेपाल और वहाँ से पाकिस्‍तान जाने की फिराक में थे। तीनों आतंकियों पर आरोप है कि ये दिल्ली और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में टेरर स्ट्राइक करने वाले थे। ये आतंकी संगठन आईएसआईए से प्रभावित थे। इन्‍हें पकड़ने के लिए स्‍पेशल सेल की टीम को लगाया गया था।

आतंकियों की गिरफ्तारी का बदला! शमीम और तौफिक ने पूरी प्लानिंग के साथ दिन-दहाड़े सब-इंस्पेक्टर को मार डाला

हिंदू बनकर छिपा था दाऊद इब्राहिम का शूटर एजाज, आधार कार्ड बनवाने जा रहा था दरभंगा

फ्री कश्मीर फ्रॉम इस्लामिक टेररिज़्म: कश्मीरी पंडित ने 15 देशों के राजनयिकों को दिखाई ‘हकीकत’

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पुलकित के रिजॉर्ट में चलता था जिस्मफरोशी, नशे का कारोबार… अंकिता को ज्वाइंट रूम में शिफ्ट करने को कहा था: पूर्व कर्मचारियों का खुलासा

"(पुलकित) आर्य VIP गेस्ट को लाता था और लड़कियों को उन्हें एक्स्ट्रा सर्विस देने के लिए कहता था। यहाँ उन्हें ड्रग्स, महँगी शराब परोसी जाती थी।”

‘भारत जोड़ो यात्रा’ छोड़ कर दिल्ली पहुँचे कॉन्ग्रेस के महासचिव, कमलनाथ-प्रियंका से भी मिलीं सोनिया गाँधी: राजस्थान के बागी बोले- सड़कों पर बहा सकते...

राजस्थान में जारी सियासी घमासान के बीच कॉन्ग्रेस हाईकमान के सामने मुश्किल खड़ी हो गई है। वेणुगोपाल और कमलनाथ दिल्ली पहुँच गए हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,450FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe