Saturday, July 31, 2021
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाजैश-ए-मोहम्मद का 2 आतंकी गिरफ्तार: स्थानीय युवकों का ब्रेनवॉश कर संगठन में करवाता था...

जैश-ए-मोहम्मद का 2 आतंकी गिरफ्तार: स्थानीय युवकों का ब्रेनवॉश कर संगठन में करवाता था शामिल, देता था हथियार

अब्दुल मजीद खान और शौकत अहमद - दोनों आतंकियों का यही नाम है। अब्दुल के पास से पुलिस को हथियार और गोला-बारूद बरामद हुआ है। वह सीमा पार कई हैंडलर्स के साथ संपर्क में था।

जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा में पुलिस ने विश्वसनीय सूत्रों के आधार पर जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकियों को गिरफ्तार किया है। ये दोनों आतंकी इलाके में युवाओं को भड़काने का काम और गलत नैरेटिव से उन्हें प्रभावित कर हिंसा का मार्ग अपनाने को उकसाते थे। इसके अलावा यह उन्हें हथियार, गोला बारूद और अन्य संसाधन भी मुहैया करवाते थे।

समाचार एजेंसी एएनआई ने जानकारी दी कि बांदीपोरा पुलिस और अन्य सुरक्षाबलों ने संयुक्त ऑपरेशन में जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादियों को गिरफ्तार किया।

इनमें एक संदिग्ध का नाम अब्दुल मजीद खान है। दूसरे का नाम शौकत अहमद है। अब्दुल के पास से पुलिस को हथियार और गोला-बारूद बरामद हुए हैं। सेना की 13आरआर और बांदीपोरा पुलिस ने वुलर वेंटेज पार्क अरगाम में संयुक्त तलाशी अभियान चला कर कड़ी मशक्कत के बाद ज्वाइंट ऑपरेशन में अब्दुल को गिरफ्तार किया।

उसके पास से सुरक्षाबलों ने 1 पिस्टल, 3 लाइव हैंड ग्रेनेड और 10 जिंदा कारतूस बरामद किए हैं। प्राथमिक जाँच में अब्दुल ने खुद ही अपने आपको जैश से जुड़ा बताया है। साथ ही यह भी कहा है कि वह सीमा पार कई हैंडलर्स के साथ संपर्क में था। उसका काम मासूम युवाओं को बरगला कर संगठन से जोड़ना व उन्हें हथियार मुहैया करवाना था।

अब्दुल के अलावा जैश का आतंकी शौकत अहमद मलिक भी गिरफ्तार हुआ है। वह सोपोर निवासी है। उसके पास से 1 पिस्टल, 5 हैंड ग्रेनेड और 20 जिंदा कारतूस बरामद हुई है। पुलिस ने इस संबंध में मामला दर्ज कर लिया है और मामले में पड़ताल की जा रही है। इनकी गिरफ्तारी के बाद यह भी दावा हो रहा है कि इन दोनों आरोपितो से पूछताछ के आधार पर और गिरफ्तारियाँ होने की भी संभावना है।

गौरतलब है कि इससे पहले रविवार को सुरक्षाबलों ने जम्मू कश्मीर में लश्कर ए तैयबा के 3 आतंकियों को गिरफ्तार किया था। पुलिस का कहना था कि खूफिया जानकारी के आधार पर ऑपरेशन चलाकर उन्होंने तीन आतंकियों को गिरफ्तार किया। कथिततौर पर इनके पास से सुरक्षाबल को पिस्तौल, तीन मैगजीन और 116 गोलियों समेत संदिग्ध सामग्री, हथियार और गोला-बारूद बरामद हुए थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

फ्लाईओवर के ऊपर ‘पैदा’ हो गया मज़ार, अवैध अतिक्रमण से घंटों लगता है ट्रैफिक जाम: देश की राजधानी की घटना

ताज़ा घटना दिल्ली के आज़ादपुर की है। बड़ी सब्जी मंडी होने की वजह से ये इलाका जाना जाता है। यहाँ के एक फ्लाईओवर पर अवैध मजार बना दिया गया है।

लाल किला के उपद्रवियों को कानूनी सहायता, पैसे भी: पंजाब की कॉन्ग्रेस सरकार ने बनाई कमिटी, चुनावी फायदे पर नजर?

पंजाब की कॉन्ग्रेस सरकार ने लाल किला के उपद्रवियों को कानूनी सहायता के साथ वित्तीय मदद भी देने की योजना बनाई है। 26 जनवरी को हुई थी हिंसा।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,105FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe