Saturday, June 22, 2024
Homeरिपोर्टराष्ट्रीय सुरक्षाबम बनाने के सामान के साथ अब्दुल व निजामुद्दीन गिरफ्तार, पावरफूल बम बनाने का...

बम बनाने के सामान के साथ अब्दुल व निजामुद्दीन गिरफ्तार, पावरफूल बम बनाने का वीडियो भी लैपटॉप में

लैपटॉप के अलावा पुलिस को चार्जर, एक मोबाइल फोन, वायर कटर, टेबल घड़ी, ग्लू स्टिक, कैपेसिटर, छोटे आकार का एलइडी बल्ब, डेटोनेटर और हेक्सा ब्लेड भी मिला है।

कोलकाता पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स टीम ने उत्तर दिनाजपुर से बांग्लादेशी आतंकी संगठन जमात-उल-मुजाहिद्दीन बांग्लादेश (जेएमबी) के 2 आतंकियों, जिनके नाम अब्दुल बारी (28 साल) और निजामुद्दीन खान (19 साल) को गिरफ्तार किया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक एसटीएफ सूत्रों ने बताया कि गिरफ्तारी के बाद इन दोनों से पूछताछ हुई और फिर इन दोनों के घरों की तलाशी ली गई। तलाशी में जो चीजें बरामद हुई, उनसे पता चला कि ये लोग किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने वाले थे।

प्रभात खबर की रिपोर्ट के अनुसार एसटीएफ को निजामुद्दीन के ठिकाने से एक लैपटॉप, चार्जर, एक मोबाइल फोन, वायर कटर, टेबल घड़ी, ग्लू स्टिक, कैपेसिटर, छोटे आकार का एलइडी बल्ब, डेटोनेटर और हेक्सा ब्लेड मिला है। जबकि घर से थोड़ी दूर स्थित इनके दूसके ठिकाने से पुलिस को सिमकार्ड के अलावा एक लैपटॉप और एक चार्जर भी बरामद हुआ हैं। लैपटॉप में High caliber explosive (तीव्र क्षमता वाला विस्फोटक) बनाने संबंधी वीडियो अपलोड था।

अब इसे देखकर कयास लगाए जा रहे हैं कि ये आतंकी अपने नए ऑपरेशन को अंजाम देने के लिए इन चीजों से विस्फोटक बनाने की तैयारी कर रहे थे। एसटीएफ के ज्वायंट सीपी शुभांकर सिन्हा सरकार ने बयान जारी करते हुए बताया है कि जेएमबी के इन संदिग्ध आतंकियों से कई सवालों के जवाब जानने के लिए लगातार पूछताछ की जा रही है। जैसे- इन चीजों से क्या करने वाले थे, उनकी क्या मंसूबे थे? वह कहाँ से वह इन चीजों को लाते थे? इन इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के उपयोग करके वह कितना घातक विस्फोटक बनाने की तैयारी में थे?

गौरतलब है कि अभी कुछ दिन पहले एसटीएफ की टीम ने अबुल काशेम को कोलकाता के नारकेलडांगा से गिरफ्तार किया था। उससे पूछताछ के दौरान ही इन दोनों संदिग्धों के बारे में जानकारी मिली थी। जिसके बाद पुलिस ने गुप्त अभियान चलाकर इन दोनों को गिरफ्तार किया और इनके खतरनाक मंसूबों के बारे में पता लगाने में जुट गई।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -