Tuesday, January 18, 2022
Homeविविध विषयअन्यनर्सों ने नवजात संग नाचते गाते बनाया TikTok वीडियो, अस्पताल ने की कार्रवाई

नर्सों ने नवजात संग नाचते गाते बनाया TikTok वीडियो, अस्पताल ने की कार्रवाई

इस वीडियो में आप नर्सों को नाचते-गाते देख सकते हैं। इस वीडियो में अस्पताल का पलंग भी दिख रहा है जिसमें मरीज़ भी दिख रहे हैं। इतना ही नहीं एक नवजात भी इस वीडियो में नज़र आ रहा है।

ओडिशा के मलकानगिरी ज़िले में चार नर्सों को अस्पताल में टिकटॉक ऐप पर वीडियो बनाना भारी पड़ गया। उनके द्वारा बनाया गया वीडियो जब सोशल मीडिया पर वायरल हो गया तब उनके ख़िलाफ़ कार्रवाई करते हुए उन्हें छुट्टी पर भेज दिया गया और उन्हें कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया।

दरअसल, नर्सों ने ज़िला अस्पताल के विशेष नवजात केयर यूनिट (SNCU) में टिकटॉक वीडियो बनाया था, वो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। इस वीडियो में आप नर्सों को नाचते-गाते देख सकते हैं। इस वीडियो में अस्पताल का पलंग भी दिख रहा है जिसमें मरीज़ भी दिख रहे हैं। इतना ही नहीं एक नवजात भी इस वीडियो में नज़र आ रहा है।

चारों नर्सों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया। मुख्य ज़िला चिकित्सा अधिकारी (सीडीएमओ) अजीत मोहंती की सिफ़ारिश पर ज़िलाधिकारी मनीष अग्रवाल ने चारों नर्सों को छुट्टी पर भेजने का निर्देश दिया।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री नाबा किशोर दास ने कहा था कि उन्होंने इस मुद्दे पर रिपोर्ट माँगी है और उचित कार्रवाई करेंगे। ताजा रिपोर्टों के अनुसार, राज्य सरकार ने इस मुद्दे को गंभीरता से लिया है और वीडियो में देखी गई 4 नर्सों को अनिवार्य छुट्टी पर भेज दिया गया है।

अधिकारियों के अनुसार, इस मामले की जाँच के लिए विशेष समिति बनाई गई थी। इस विशेष समिति की सिफ़ारिश पर ही नर्सों को छुट्टी पर भेजने का निर्णय लिया गया। वहीं, रुबी रे, तापसी बिस्वास, स्वपना बाला और नंदिनी रे का कहना है कि उन्होंने अपनी ड्यूटी समाप्त होने के बाद वो वीडियो बनाया था। हालाँकि, उन्होंने नर्स की यूनिफॉर्म में वीडियो बनाया था, इसके लिए उन्होंने अपनी ग़लती स्वीकार कर ली है। 

फ़िलहाल, नर्सों को वापस ड्यूटी पर रिपोर्ट करने की अनुमति नहीं दी जाएगी, जब तक राज्य सरकार उनके (कर्तव्य के प्रति लापरवाही) ख़िलाफ़ कोई कार्रवाई करने का फ़ैसला न कर ले। सीडीएमओ ने कथित तौर पर अपनी रिपोर्ट राज्य सरकार को सौंप दी है और मामले पर राज्य सरकार के और आदेशों का इंतज़ार है।


 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

हूती आतंकी हमले में 2 भारतीयों की मौत का बदला: कमांडर सहित मारे गए कई, सऊदी अरब ने किया हवाई हमला

सऊदी अरब और उनके गठबंधन की सेना ने यमन पर हमला कर दिया है। हवाई हमले में यमन के हूती विद्रोहियों का कमांडर अब्दुल्ला कासिम अल जुनैद मारा गया।

‘भारत में 60000 स्टार्ट-अप्स, 50 लाख सॉफ्टवेयर डेवेलपर्स’: ‘वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम’ में PM मोदी ने की ‘Pro Planet People’ की वकालत

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार (17 जनवरी, 2022) को 'World Economic Forum (WEF)' के 'दावोस एजेंडा' शिखर सम्मेलन को सम्बोधित किया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
151,917FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe