Thursday, September 16, 2021
Homeदेश-समाज3 महीने पहले इस्लाम छोड़ मोहम्मद अनवर बने थे देव प्रकाश, कट्टरपंथियों ने जला...

3 महीने पहले इस्लाम छोड़ मोहम्मद अनवर बने थे देव प्रकाश, कट्टरपंथियों ने जला डाला घर: एक्शन में UP पुलिस

अनवर के 3 बच्चे रेहान, अली और खुशी का नाम अब देवनाथ, देवी दयाल और दुर्गा देवी है। जब कट्टरपंथियों ने उनके घर में आग लगाया तो तीनों बच्चे वहीं थे। पूरा घर जल कर राख हो गया और...

उत्तर प्रदेश के रायबरेली जिले में सांप्रदायिक सद्भाव बिगाड़ने की घटना हुई है। रायबरेली जिले के रहने वाले एक व्यक्ति ने इस्लाम धर्म त्याग कर हिन्दू धर्म स्वीकार किया था। क्षेत्र के कट्टरपंथियों को यह बात पसंद नहीं आई, इसलिए उन्होंने उसके घर को आग के हवाले कर दिया। इस घटना के दौरान घर में उसके बच्चे भी मौजूद थे। किसी तरह सभी ने अपनी जान बचाई लेकिन घटना में उनका पूरा घर जल कर राख हो गया। 

सितंबर 2020 में रायबरेली, सलोन स्थित रतासो गाँव के निवासी मोहम्मद अनवर ने केकोगना घाट पर हिन्दू धर्म में वापसी की थी। धर्मांतरण के बाद मोहम्मद अनवर ने अपना नाम देव प्रकाश पटेल रख लिया था। धर्मांतरण के बाद उसके तीन बच्चों रेहान, अली और ख़ुशी का नाम देव नाथ, देवी दयाल और दुर्गा देवी कर दिया गया था। देव प्रकाश पटेल ने मुंडन करवाने के बाद पूरे विधि-विधान से हिन्दू धर्म में वापसी की थी। 

लेकिन उसके आस-पास रहने वाले कट्टरपंथियों को यह बात हज़म नहीं हुई। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक़ शनिवार (2 जनवरी 2021) को ग्राम प्रधान ताहिर अहमद ने देव प्रकाश पटेल के घर को आग के हवाले कर दिया। इस घटना के दौरान घर में मौजूद सभी लोग सो रहे थे। देव प्रकाश ने किसी तरह अपनी और अपने बच्चों की जान बचाई। लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद उसका घर पूरी तरह जल कर राख हो गया है। 

सलोन एसएचओ पंकज त्रिपाठी ने ऑपइंडिया से बात करते हुए बताया, “आरोपितों पर एफ़आईआर दर्ज कर ली गई है। पुलिस ने मामले की जाँच शुरू कर दी है, वारदात को अंजाम देने वालों को जल्द से जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।” 

दरअसल देव प्रकाश पटेल धर्मांतरण से पहले फ़कीर बिरादरी से ताल्लुक रखते थे। कुछ साल पहले उनकी पत्नी का निधन हो गया था। उनके दो बेटे और एक बेटी थी। उनके सामने जीवनयापन की बड़ी चुनौती थी।

इस बीच आस-पास रहने वाले हिन्दू परिवारों ने बिना किसी भेदभाव के उनकी काफी मदद की थी। वह इस बात से काफी प्रभावित हुए और उन्होंने इस्लाम धर्म त्याग दिया। देव प्रकाश ने हिन्दू धर्म स्वीकार करने से पहले प्रशासनिक अधिकारियों को भी सूचित किया था। साथ ही यह भी कहा था कि उन्होंने यह कदम अपनी इच्छा से उठाया है।                  

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कोहाट दंगे: खिलाफ़त आंदोलन के लिए हुई ‘डील’ ने कैसे करवाया था हिंदुओं का सफाया? 3000 का हुआ था पलायन

10 सितंबर 1924 को करीबन 4000 की मुस्लिम भीड़ ने 3000 हिंदुओं को इतना मजबूर कर दिया कि उन्हें भाग कर मंदिर में शरण लेनी पड़ी। जो पीछे छूटे उन्हें मार डाला गया।

‘प्रेमिका गाँधी, मायावती या मुख्यमंत्री’: यूपी में प्रियंका का इंतजार कर रहे कॉन्ग्रेस समर्थकों को नहीं पता वह कौन हैं? वीडियो वायरल

कॉन्ग्रेस महासचिव प्रियंका गाँधी का स्वागत करने के लिए एकत्र हुए कॉन्ग्रेसी प्रशंसकों को पता नहीं है कि वह कौन हैं या उनका नाम क्या है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
122,706FollowersFollow
409,000SubscribersSubscribe