Wednesday, May 25, 2022
Homeराजनीतिमुलायम के समधी के बाग़ी तेवर; कहा 'अखिलेश ने माया के सामने घुटने टेके'

मुलायम के समधी के बाग़ी तेवर; कहा ‘अखिलेश ने माया के सामने घुटने टेके’

सपा विधायक हरिओम यादव के महागठबंधन के ख़िलाफ़ सुर लगाने के साथ ही सपा का आंतरिक कलह फिर से सतह पर आ गया है।

समाजवादी पार्टी के विधायक हरिओम यादव ने सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव पर मायावती के सामने घुटने टेकने का आरोप लगाया है। साथ ही, उन्होंने सपा-बसपा गठबंधन का भी विरोध किया है। यादव ने चेतावनी दी है कि फ़िरोज़ाबाद में ये गठबंधन नहीं चलेगा। सिरसागंज से तीसरी बार विधायक बने हरिओम यादव ने कहा कि जब तक अखिलेश यादव बसपा सुप्रीमो मायावती के सामने घुटने टेकते रहेंगे तभी तक ये गठबंधन चलेगा। सिरसागंज उत्तरप्रदेश के फ़िरोज़ाबाद ज़िले में स्थित विधानसभा क्षेत्र है। हरिओम यादव ने रविवार (जनवरी 13, 2019) को एक प्रेस वार्ता में महागठबंधन का विरोध करते हुए कहा:

“सपा-बसपा गठबंधन फ़िरोज़ाबाद में नहीं चल पाएगा। ये यहाँ नहीं सफल होगा। ये गठबंधन तभी तक चल सकता है जब तक हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष (अखिलेश यादव) जी ‘बहन जी’ (मायावती) की हाँ में हाँ मिलाते रहेंगे और घुटने टेकते रहेंगे।”

बता दें कि हरिओम यादव फ़िरोज़ाबाद लोकसभा क्षेत्र से आने वाले एकमात्र सपा विधायक हैं। सिरसागंज के अलावे फ़िरोज़ाबाद के बाक़ी चारों विधानसभा क्षेत्रों पर भारतीय जनता पार्टी का कब्ज़ा है। ऐसे में यादव के बागी तेवर से उस क्षेत्र में सपा-बसपा की मुश्किलें बढ़ सकती है। यही नहीं, उन्होंने 22 जनवरी को शिकोहाबाद में पोल-खोलो सम्मलेन भी बुलाया है जिसमे वो सपा कार्यकर्ताओं को ये बताएंगे कि कैसे पार्टी ने उन सब के साथ अच्छा व्यवहार नहीं किया है।

इसके साथ ही यादव ने सपा के राष्ट्रीय महासचिव रामगोपाल यादव और उनके बेटे अक्षय यादव पर भाजपा से मिले होने का आरोप लगाया। रामगोपाल राज्यसभा में समाजवादी पार्टी संसदीय दल के नेता हैं जबकि अक्षय यादव फ़िरोज़ाबाद से संसद हैं। महागठबंधन के खिलाफ बोलते हुए हरिओम यादव ने आगे कहा:

“नेताजी (मुलायम सिंह यादव) जैसे विशाल हृदय वाले व्यक्ति के साथ गठबंधन नहीं चला तो इनके साथ कैसे चलेगा?”

हरिओम यादव ने कहा कि उन्होंने अखिलेश यादव के सहयोग से अपने विधानसभा क्षेत्र का ख़ूब विकास कराया लेकिन सांसद (अक्षय यादव) और उनके पिता क्षेत्र की जनता को गुमराह कर रहे हैं। रामगोपाल यादव पर आरोपों की बौछाड़ करते हुए हरिओम कहा कि वो उनके बेटे विजय प्रताप के ख़िलाफ़ साज़िश रच रहे हैं। उन्होंने कहा कि अबकी फ़िरोज़ाबाद लोकसभा क्षेत्र से शिवपाल सिंह यादव चुनाव लड़ेंगे और अगर ऐसा नहीं होता है तो जनता जो फ़ैसला लेगी वही होगा।

बता दें कि हरिओम यादव के बेटे विजय प्रताप यादव उर्फ़ छोटू को सपा से पहले ही निष्काषित किया जा चुका है। फ़िरोज़ाबाद के जिला पंचायत अध्यक्ष रहे विजय ने अपने निष्कासन के पीछे भी प्रोफ़ेसर रामगोपाल का हाथ बताया था। दोनों पिता-पुत्र के ख़िलाफ़ 2012 में तत्कालीन मुख्यमंत्री मायावती की सरकार ने हिस्ट्रीशीट खोली थी और उन पर कई मुक़दमे दर्ज हुए थे लेकिन सपा की सरकार बदलते ही पास पलट गया था। दोनों पर तत्कालीन अधिकारियों से साँठ-गाँठ कर हिस्ट्रीशीट को नष्ट करवाने का भी आरोप है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आतंकियों ने कश्मीरी अभिनेत्री की गोली मार कर हत्या की, 10 साल का भतीजा भी घायल: यासीन मलिक को सज़ा मिलने के बाद वारदात

जम्मू कश्मीर में आतंकियों ने कश्मीरी अभिनेत्री अमरीना भट्ट की गोली मार कर हत्या कर दी है। ये वारदात केंद्र शासित प्रदेश के चाडूरा इलाके में हुई, बडगाम जिले में स्थित है।

यासीन मलिक के घर के बाहर जमा हुई मुस्लिम भीड़, ‘अल्लाहु अकबर’ नारे के साथ सुरक्षा बलों पर हमला, पत्थरबाजी: श्रीनगर में बढ़ाई गई...

यासीन मलिक को सजा सुनाए जाने के बाद श्रीनगर स्थित उसके घर के बाहर उसके समर्थकों ने अल्लाहु अकबर की नारेबाजी की। पत्थर भी बरसाए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
188,823FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe