Sunday, May 19, 2024
Homeदेश-समाजबरेली: शौहर नईम ने उठाया लॉकडाउन का फायदा, मायके में फँसी बीवी तो कर...

बरेली: शौहर नईम ने उठाया लॉकडाउन का फायदा, मायके में फँसी बीवी तो कर लिया मौसेरी बहन से दूसरा निकाह

आवाजाही बंद होने की वजह से युवती मायके में ही फँस गई। जिसका फायदा उठाते हुए नईम मंसूरी ने इसी बीच अपने मौसी की लड़की से निकाह कर लिया। हैरानी की बात यह हैं कि शौहर के दूसरे निकाह की जानकारी उसके 4 साल के बच्चें ने दी जिसे वह मायके अपने साथ नहीं ले गई थी।

लॉकडाउन की वज़ह से आए दिन अजीबो गरीब खबरें सुनने को मिल रही है। इस बार मामला उत्तर प्रदेश के बरेली का है। जहाँ लॉकडाउन के चलते मायके में फँसी महिला के शौहर ने इसका अलग ही तरह से फायदा उठाते हुए अपनी मौसेरी बहन से दूसरा निकाह कर लिया।

बता दें कोहाड़ापीर की रहने वाली नसीम का निकाह नगरिया तालाब निवासी नईम मंसूरी के साथ 2013 को हुआ था। इनके तीन बच्चें भी हैं। मिली जानकारी के अनुसार 19 मार्च को युवती का पति उसे और 2 बच्चों को मायके छोड़ आया था। जिसके बाद 22 मार्च को जनता कर्फ्यू लगा और उसके तुरंत बाद ही लॉक डाउन की घोषणा कर दी गई।

आवाजाही बंद होने की वजह से युवती मायके में ही फँस गई। जिसका फायदा उठाते हुए नईम मंसूरी ने इसी बीच अपने मौसी की लड़की से निकाह कर लिया। हैरानी की बात यह हैं कि शौहर के दूसरे निकाह की जानकारी उसके 4 साल के बच्चें ने दी जिसे वह मायके अपने साथ नहीं ले गई थी।

आनन फानन में महिला किसी तरह अपने ससुराल भाग कर आई और उसने देखा कि उसका शौहर और रिश्ते में बहन लगने वाली उसकी दूसरी बीवी दोनों साथ-साथ रह रहे थे। जिसको देख बौखलाई महिला ने इसका विरोध किया। जिसपर उसके शौहर नईम ने दोनों ही बीवियों को साथ रखने की बात कही। मगर नसीम इस बात के लिए तैयार नही हुई साथ ही शौहर नईम मंसूरी के खिलाफ़ क़ानूनी कार्यवाही की बात कही।

पीड़ित महिला ने अब समाजसेवी संस्था ‘मेरा हक फाउंडेशन’ की अध्यक्ष फरहत नकवी से मदद की गुहार लगाई है। फरहत नकवी केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन हैं। उन्होंने कहा, इस मामले पर वो पुलिस से शिकायत के साथ सख्त कार्यवाही की माँग करेंगी और पीड़िता को इंसाफ दिलाएँगी।

,

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

120 लोगों की हुई घर-वापसी, छत्तीसगढ़ में ‘श्री वनवासी राम कथा’ में जुटी श्रद्धालुओं की भारी भीड़: जशपुर राजघराने के लाल ने पाँव पखार...

प्रबल प्रताप सिंह जूदेव द्वारा मुख्य अतिथि के रूप में 50 परिवारों की घर-वापसी का कार्यक्रम कराया गया। उन्होंने इन लोगों के पाँव भी पखारे।

निशा हुईं राधिका, निदा बनीं निधि: 2 मुस्लिम लड़कियों की घरवापसी, हिन्दू युवकों से विवाह – एक की शादी के बाद धमकी, दूसरी का...

UP के बरेली और सीतापुर में 2 मुस्लिम लड़कियों ने घर वापसी कर हिन्दू युवकों से किया विवाह। निशा बनीं राधिका और निदा हुईं निधि।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -