Monday, August 2, 2021
Homeविविध विषयअन्य₹1850 में दिल्ली से वाराणसी: 15 फरवरी से 'वन्दे भारत एक्सप्रेस' आपकी सेवा में

₹1850 में दिल्ली से वाराणसी: 15 फरवरी से ‘वन्दे भारत एक्सप्रेस’ आपकी सेवा में

वन्दे भारत एक्सप्रेस एक लक्ज़री ट्रेन है। इसमें यात्रा के दौरान वाई-फाई, जीपीएस आधारित यात्री सूचना प्रणाली, स्पर्श मुक्त जैव शौचालय और उपस्थित यात्रियों तथा मौसम के अनुसार तापमान को कम ज्यादा करने में सक्षम मौसम नियंत्रण प्रणाली जैसी सुविधाएँ उपलब्ध रहेंगी।

भारत की पहली नई दिल्ली से वाराणसी के बीच सेमी हाई स्पीड ट्रेन “वन्दे भारत एक्सप्रेस” लॉन्चिंग के लिए तैयार है। इस ट्रेन की आने जाने की दरों में मामूली अंतर है। दिल्ली से वाराणसी तक की सेमी हाई स्पीड ट्रेन “वन्दे भारत एक्सप्रेस” के एयर कंडीशन चेयरकार की टिकेट 1850 रुपए और एग्जीक्यूटिव क्लास की टिकेट 3520 रुपए रिर्धारित की गई है, जिसमें कैटरिंग चार्ज भी शामिल है।

वापसी में वाराणसी से दिल्ली आते वक़्त चेयर कार की दर 1795 रुपए और एग्जीक्यूटिव क्लास का टिकेट 3470 रुपए तय की गई है। सेमी हाई स्पीड ट्रेन का किराया शताब्दी से थोड़ा ही ज़्यादा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 15 फ़रवरी को इस ट्रेन को हरी झंडी दिखाएँगे।

चेयरकार और एग्जीक्यूटिव क्लास में सुबह का चाय, नाश्ता और लंच की दर दोनों श्रेणियों के लिए अलग-अलग है। दिल्ली से वाराणसी की यात्रा में एग्जीक्यूटिव क्लास के लिए यह 399 रुपए है जबकि चेयर कार के लिए यह 344 रुपए। वाराणसी से नई दिल्ली की यात्रा में यह दर घट कर 349 रुपए और 288 रुपए ही है। कम दूरी की यात्रा जैसे नई दिल्ली से कानपुर और प्रयागराज तक के लिए यह दर क्रमशः 155 रुपए और 122 रुपए है। उपरोक्त सभी दरें किराए में शामिल हैं।

ज्ञात हो कि वन्दे भारत एक्सप्रेस के निर्माण में करीब सौ करोड़ रुपये खर्च हुए हैं और इसे महज डेढ़ साल में ही तैयार कर लिया गया है। पिछले दिनों दिल्ली-प्रयागराज रूट पर इसका ट्रायल रन सफल रहा। याद हो कि इसी महीने इसका दिल्ली-आगरा रूट पर भी ट्रायल रन किया गया था जिस दौरान कुछ असामाजिक तत्वों ने पत्थर फेंक कर इसे नुकसान पहुँचाया था और खिड़कियाँ तोड़ दी थी।

ट्रेन 18 अर्थात वन्दे भारत एक्सप्रेस एक लक्ज़री ट्रेन है जिसमे यात्रा के दौरान वाई-फाई, जीपीएस आधारित यात्री सूचना प्रणाली, स्पर्श मुक्त जैव शौचालय, एलईडी लाइट, मोबाइल चार्जिंग प्‍वाइंट और उपस्थित यात्रियों तथा मौसम के अनुसार तापमान को कम ज्यादा करने में सक्षम मौसम नियंत्रण प्रणाली जैसी सुविधाएँ उपलब्ध रहेंगी। इस ट्रेन के बीच में दो एक्जिक्यूटिव कंपार्टमेंट भी होंगे, प्रत्येक में 52 सीट होंगी, वहीं सामान्य कोच में 78 सीटें होंगी। पहले इस ट्रेन का नाम ट्रेन 18 रखा गया था क्योंकि इसे रेलवे ने 2018 में लॉन्च किया था। अब इसे वन्दे भारत एक्सप्रेस नाम दिया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘एक गोल्ड मेडल अनवर सरदार को भी’: उधर टोक्यो ओलंपिक में इजरायल का राष्ट्रगान बजा, इधर सोशल मीडिया पर अनु मलिक की धुनाई

उधर टोक्यो ओलंपिक में इजरायल का राष्ट्रगान बजा, इधर सोशल मीडिया पर बॉलीवुड के बड़े संगीतकारों में से एक अनु मलिक की लोगों ने धुनाई चालू कर दी।

इंडिया जीता… लेकिन सब गोल पंजाबी खिलाड़ियों ने किया: CM अमरिंदर सिंह के ट्वीट में भारत-पंजाब अलग-अलग क्यों?

पंजाब मुख्यमंत्री ने ट्वीट में कहा, ”इस बात को जानकर खुश हूँ कि सभी 3 गोल पंजाब के खिलाड़ी दिलप्रीत सिंह, गुरजंत सिंह और हार्दिक सिंह ने किए।”

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,620FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe