भाई को जान से मारने की धमकी देकर महबूब ने दिया धोखे से ट्रिपल तलाक, फरार

शौहर ने बीवी के भाई यानि अपने साले को जान से मारने की धमकी देकर बेगम से तलाक के पेपर पर साइन करवा लिए। इसके बाद उसने तीन तलाक बोलकर मज़हबी रूप से भी संबंध विच्छेद कर लिया और इसके बाद वह भाग खड़ा हुआ।

इस साल जुलाई के मानसून सत्र में संसद द्वारा जुर्म बना दिए जाने और सुप्रीम कोर्ट से प्रतिबंधित होने के बावजूद तीन तलाक के मामले लगातार सामने आते ही जा रहे हैं। हाल ही में उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में तीन तलाक का मामला सामने आया है। मामले में शौहर द्वारा पत्नी को तीन तलाक देने के लिए धोखे का रास्ता अपनाने की बात सामने आ रही है।

मीडिया खबरों के मुताबिक शौहर महबूब ने बीवी के भाई यानि अपने साले को जान से मारने की धमकी देकर बेगम से तलाक के पेपर पर साइन करवा लिए। इसके बाद उसने तीन तलाक बोलकर मज़हबी रूप से भी संबंध विच्छेद कर लिया और इसके बाद वह भाग खड़ा हुआ। पीड़िता द्वारा शौहर और दो अन्य के विरुद्ध ग्रेटर नोएडा के दादरी थाने में तहरीर देने की बात कही गई है।

जानकारी के अनुसार मामला दादरी के नई आबादी क्षेत्र का है। मामले की पुलिस जाँच में पता चला है कि पीड़िता का निकाह लगभग 4 साल पहले (9 जनवरी, 2016 को) नई आबादी निवासी आरोपित महबूब से हुआ था। शादी से पीड़िता का दो साल का बेटा होने की बात भी मीडिया में कही जा रही है

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

आरोपित का नाम अमर उजाला की रिपोर्ट में महबूब बताया गया है, साथ ही उसका निवास स्थान दादरी का दौलतराम मार्केट, कटहेरा रोड होने का दावा किया गया है। पीड़िता का नाम मुस्कान बताया गया है।

विवाद की दैनिक जागरण की कवरेज में महिला को पति की प्रताड़ना से परेशान बताया जा रहा है। रिपोर्ट के अनुसार महिला पिछले दो महीने से अपनी माँ और भाई के साथ रह रही थी। कथित तौर पर जब महिला परसों (मंगलवार, 7 नवंबर, 2019 को) अपनी माँ के साथ घर से बाजार की ओर जा रही थी, तभी आरोपित ने उन्हें डराते धमकाते हुए महिला को कुछ स्टाम्प पेपरों पर हस्ताक्षर के लिए मजबूर कर दिया। आरोप है कि उसने महिला के भाई को जान से मारने की धमकी भी दी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार महिला डर कर उनके साथ सूरजपुर के अदालती परिसर गई तो वहाँ उससे उन कागजों पर जबरन साइन कराया गया जिसमें लिखा था कि वह स्वेच्छा से ₹50000 के बदले इस संबंध से अलग हो रही है। इस दौरान आरोपित शौहर महबूब के साथ उसके दो भाई भी थे। और जब महिला ने मजबूरी में कागजों पर साइन कर दिए तो वह तीन बार तलाक बोलने के बाद भाग खड़ा हुआ।

मामले को लेकर पुलिस का कहना है कि वह मामले की जाँच कर रही है और जाँच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी। दादरी के पुलिस क्षेत्राधिकारी (सर्किल अफसर) सतीश कुमार ने मीडिया से इस विषय पर बात करते हुए मामले के अपने संज्ञान में आने की पुष्टि की है।

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

मोदी, उद्धव ठाकरे
इस मुलाकात की वजह नहीं बताई गई है। लेकिन, सीएम बनने के बाद दिल्ली की अपनी पहली यात्रा पर उद्धव ऐसे वक्त में आ रहे हैं जब एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के साथ अनबन की खबरें चर्चा में हैं। इससे महाराष्ट्र में राजनीतिक सरगर्मियॉं अचानक से तेज हो गई हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

153,868फैंसलाइक करें
42,158फॉलोवर्सफॉलो करें
179,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: