Monday, August 2, 2021
Homeराजनीतिअखिलेश-मायावती करेंगे 'देवबंद' से प्रचार की शुरुआत, तो CM योगी देंगे 'शाकम्भरी पीठ' से...

अखिलेश-मायावती करेंगे ‘देवबंद’ से प्रचार की शुरुआत, तो CM योगी देंगे ‘शाकम्भरी पीठ’ से जवाब

प्रियंका गाँधी के गंगा में नाव यात्रा पर जाने पर योगी ने कहा कि यह अच्छी बात है वहाँ सबको जाना चाहिए, प्रियंका को पीएम मोदी का शुक्रिया अदा करना चाहिए जिन्होंने वहाँ के लिए वाटर वे शुरू किया।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऐलान किया है कि वह लोकसभा चुनाव के लिए प्रचार का आरंभ ‘शाकम्भरी पीठ’ से करेंगे। मुख्यमंत्री योगी ने बसपा अध्यक्ष मायावती और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव के देवबंद से लोकसभा चुनाव प्रचार करने की शुरुआत करने पर तंज कसा। उन्होंने कहा कि दोनों पार्टियों (सपा-बसपा) का चुनाव प्रचार ‘देवबंद’ से शुरू होना दर्शाता है कि उनकी नीति और प्राथमिकताएँ क्या हैं।

ख़बरे हैं कि महागठबंधन की नीतियों से उलट बीजेपी के भगवाधारी योगी आदित्यनाथ नाम वापसी की आखिरी तारीख़ के बाद 25 मार्च के आसपास शाकम्भरी पीठ पहुँचेंगे। एक तरफ़ जहाँ ‘देवबंद’ में इस्लामिक शिक्षण संस्थान दारुल उलूम स्थित है। वहीं शाकम्भरी पीठ पौराणिक हिन्दू मान्यता का केंद्र है, जहाँ देवी शाकम्भरी ने महिषासुर का वध किया था। देवी के यहाँ ध्यान लगाने की वजह से उनका मंदिर बनाया गया।

रविवार (मार्च 17, 2019) को एक कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि लोकसभा चुनावों में भाजपा सरकार फिर से प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाएगी। उनकी मानें तो वे इस बार 74+ का लक्ष्य लेकर चल रहे हैं। उनका कहना है कि वह इस दफा गोरखपुर, कैराना, आजमगढ़ और अमेठी में भी जीत दर्ज करेंगे।

योगी आदित्यनाथ के मुताबिक इस बार भाजपा के लिए चुनाव जीतना आसान है क्योंकि सपा-बसपा के कारनामों के बारे में सब अच्छे से जानते हैं। प्रियंका गाँधी के चुनाव में आने पर उन्होंने कहा कि इससे बीजेपी को कोई नुकसान नहीं होने वाला है। क्योंकि 2017 में भी दो लड़के (राहुल गाँधी-अखिलेश यादव) आए थे, जिन्हें जनता द्वारा स्वीकारा नहीं गया था। वहीं प्रियंका गाँधी के गंगा में नाव यात्रा पर जाने पर योगी ने कहा कि यह अच्छी बात है वहाँ सबको जाना चाहिए, प्रियंका को पीएम मोदी का शुक्रिया अदा करना चाहिए जिन्होंने वहाँ के लिए वाटर वे शुरू किया। उनके मुताबिक अगर राहुल, अखिलेश, मायावती भी नाव यात्रा पर जाएँगे तो उन्हें बहुत खुशी होगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मुहर्रम पर यूपी में ना ताजिया ना जुलूस: योगी सरकार ने लगाई रोक, जारी गाइडलाइन पर भड़के मौलाना

उत्तर प्रदेश में डीजीपी ने मुहर्रम को लेकर गाइडलाइन जारी कर दी हैं। इस बार ताजिया का न जुलूस निकलेगा और ना ही कर्बला में मेला लगेगा। दो-तीन की संख्या में लोग ताजिया की मिट्टी ले जाकर कर्बला में ठंडा करेंगे।

हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद दोहराया इतिहास, टोक्यो ओलंपिक के सेमीफाइनल में पहुँची: अब पदक से एक कदम दूर

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने टोक्यो ओलिंपिक 2020 के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। 41 साल बाद टीम सेमीफाइनल में पहुँची है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,549FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe