Sunday, July 14, 2024
Homeसोशल ट्रेंडजलील कुणाल कामरा अर्णब को कर रहा है पर्सनल मैसेज भेजकर परेशान, ट्वीट में...

जलील कुणाल कामरा अर्णब को कर रहा है पर्सनल मैसेज भेजकर परेशान, ट्वीट में बताया खुद को बुद्ध का अनुयाई

कामरा के इस ट्वीट के बाद ट्विटर पर कुणाल कामरा के जबरन किसी व्यक्ति का मोबाइल नंबर निकालकर उसे परेशान करने और उसका पीछा किए जाने को लेकर कामरा की निंदा की जा रही है क्योंकि यह आईटी अधिनियमों का उलंघन है।

रिपब्लिक न्यूज़ चैनल के एडिटर अर्णब गोस्वामी से इंडिगो की फ़्लाइट में बदतमीजी करने के बाद कुणाल कामरा के अर्नब गोस्वामी पर व्यक्तिगत हमले बढ़ते जा रहे हैं। कुणाल कामरा ने अपने ट्विटर अकाउंट से एक स्क्रीनशॉट ट्वीट करते हुए लिखा है- “मुझे अर्णब का नंबर मिला, मैं अभी भी उन्हें डिबेट करने के लिए पूछ रहा हूँ लेकिन वो जवाब नहीं दे रहे हैं।” इसी ट्वीट में रिपब्लिक न्यूज़ चैनल को टैग करते हुए कामरा ने लिखा है क्या उनके एडिटर कायर हैं या राष्ट्रवादी?

कुणाल कामरा द्वारा शेयर किए गए स्क्रीनशॉट में लिखा है- “मिस्टर गोस्वामी, यह मेरा नंबर है और जब भी आपको लगे कि आप मुझसे राष्ट्रवाद और राष्ट्र के विचार पर डिबेट कर सकते हैं तो मुझसे इसी नंबर पर सम्पर्क कर सकते हैं। आपके प्रति मेरी सारी नाराजगी का कारण मेरा भूतकाल है। मैं बुद्ध और महावीर का अनुयाई हूँ और आपसे शांतिपूर्वक बहस करना चाहता हूँ। यही बात मैं शुरू से कहता आया हूँ। मैं कुणाल कामरा हूँ और मुझे कोई खेद नहीं है।”

कामरा के इस ट्वीट के बाद ट्विटर पर कुणाल कामरा के जबरन किसी व्यक्ति का मोबाइल नंबर निकालकर उसे परेशान करने और उसका पीछा किए जाने को लेकर कामरा की निंदा की जा रही है क्योंकि यह आईटी अधिनियमों का उलंघन है। और इसके लिए कुणाल कामरा पर कार्रवाई की जा सकती है।

ज्ञात हो कि NDTV के प्रोपेगैंडा पत्रकार रवीश कुमार भी अक्सर हर जगह शिकायत करते देखे जाते हैं कि उन्हें उनके वॉट्सएप नंबर पर अनजान लोग सन्देश भेजते हैं। हो सकता है कि कुणाल कामरा जैसे ही कुछ अन्य बुद्ध और भगवान् महावीर के अनुयाई रवीश कुमार के साथ भी एक शांतिपूर्ण बहस करना चाहते हों।

गौरतलब है कि कुणाल कामरा ने रिपब्लिक न्यूज़ के संस्थापक अर्णब गोस्वामी के साथ बदसलूकी की थी। इसके बाद इंडिगो सहित अन्य विमान सेवा कंपनियों ने भी फ्लाइट में उड़ान भरने के लिए 6 महीनों के लिए प्रतिबंधित कर दिया है। इसी बौखलाहट में अब कुणाल कामरा व्यक्तिगत हमलों पर उतर आया है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -