Wednesday, August 4, 2021
Homeदेश-समाजकुणाल कामरा को इंडिगो ने किया सस्पेंड; बाकी एयरलाइन्स भी करे बैन: केंद्रीय मंत्री

कुणाल कामरा को इंडिगो ने किया सस्पेंड; बाकी एयरलाइन्स भी करे बैन: केंद्रीय मंत्री

इंडिगो ने अपने यात्रियों को सलाह दी है कि दूसरे यात्रियों पर व्यक्तिगत टिप्पणी करने वाली किसी भी गतिविधि में संलिप्त न हों। इंडिगो ने यात्रियों को अपने सहयात्रियों से भी दुर्व्यवहार करने से मना किया है, जिससे उनकी सुरक्षा को खतरा पहुँचे।

इंडिगो एयरलाइन्स ने उपद्रवी यात्री कुणाल कामरा को 6 महीने के लिए प्रतिबंधित कर दिया है। बता दें कि 6E 5317 फ्लाइट में कुणाल कामरा ने रिपब्लिक न्यूज़ के संस्थापक अर्नब गोस्वामी के साथ बदसलूकी की थी। इंडिगो ने कहा कि कुणाल कामरा का ये व्यवहार अस्वीकार्य है और उन्हें फ्लाइट में उड़ान भरने के लिए 6 महीनों के लिए प्रतिबंधित किया जाता है।

साथ ही इंडिगो ने अपने यात्रियों को सलाह दी है कि दूसरे यात्रियों पर व्यक्तिगत टिप्पणी करने वाली किसी भी गतिविधि में संलिप्त न हों। इंडिगो ने यात्रियों को अपने सहयात्रियों से भी दुर्व्यवहार करने से मना किया है, जिससे उनकी सुरक्षा को खतरा पहुँचे।

वीडियो में कुणाल कामरा कहता दिख रहा था कि जब उसने ‘डरपोक’ अर्नब गोस्वामी से उनकी पत्रकारिता को लेकर सवाल पूछा तो उन्होंने कामरा को ‘मानसिक रूप से विक्षिप्त’ बताया और बाद में कहा कि वो अपने लैपटॉप पर कुछ देखने में व्यस्त हैं। वीडियो में कथित कॉमेडियन कुणाल कामरा ये कहते दिख रहा था कि अर्नब उसके सवालों का जवाब नहीं दे रहे हैं। इस दौरान कामरा ख़ुद को ‘टुकड़े-टुकड़े’ नैरेटिव का अंग बताता है और कहता है कि अर्नब से दर्शक जानना चाहते हैं कि वो ‘राष्ट्रवादी’ हैं, या फिर ‘डरपोक’?

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ईसाई बने तो नहीं ले सकते SC वर्ग के लिए चलाई जा रही केंद्र की योजनाओं का फायदा: संसद में मोदी सरकार

रिपोर्ट्स बताती हैं कि आंध्र प्रदेश में ईसाई धर्म में कन्वर्ट होने वाले 80 प्रतिशत लोग SC वर्ग से आते हैं, जो सभी तरह की योजनाओं का लाभ उठाते हैं।

‘इस महीने का चेक नहीं पहुँचा या पेमेंट रोक दी गई?’: केजरीवाल के 2047 वाले विज्ञापन के बाद ट्रोल हुए ‘क्रांतिकारी पत्रकार’

सोशल मीडिया पर लोग 'क्रांतिकारी पत्रकार' पुण्य प्रसून बाजपेयी को ट्रोल कर रहे हैं। उन्होंने दिल्ली के CM अरविंद केजरीवाल की आलोचना की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,912FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe