Thursday, April 18, 2024
Homeविविध विषयमनोरंजनVideo: स्टार बनते ही रानू मंडल के बदल गए तेवर, फैन ने लेनी चाही...

Video: स्टार बनते ही रानू मंडल के बदल गए तेवर, फैन ने लेनी चाही सेल्फी तो बरस पड़ी, कहा…

इस वीडियो को देखने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स और रानू के फैंस भी भड़क गए और वीडियो पर कमेंट्स करना शुरू कर दिए। किसी ने कहा, “शेम शेम”, तो किसी ने कहा, “कोई मायने नहीं रखता कि आप जिंदगी में कहाँ जाते हैं... हमें अपनी जमीन कभी नहीं भूलना चाहिए।”

कुछ समय पहले सोशल मीडिया पर एक चेहरा काफी लोकप्रिय हुआ था और रातों रात स्टार बन गया था। वह चेहरा था- रेलवे स्टेशन पर गाना गाने वाली रानू मंडल का। इन दिनों सोशल मीडिया पर रानू मंडल का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। जिसमें रानू मंडल का अलग ही रूप नज़र आ रहा है।

इसे देखकर लग रहा है कि रेलवे स्‍टेशन से उठकर सोशल मीडिया पर रातों रात स्‍टार बनीं रानू मंडल के पाँव अब जमीन पर नहीं हैं। वायरल हो रहे इस वीडियो में सीधी और शांत दिखने वाली रानू ने अपने प्रशंसक को एक सेल्फी खिंचवाने के लिए कहा तो वह भड़क उठीं।

दरअसल सोशल मीडिया पर शेयर किए गए वीडियो में रानू एक शॉप में कुछ खरीदारी कर रही थी, तभी रानू की एक फीमेल फैन उनसे सेल्फी के लिए पूछती है। उस फीमेल फैन ने एक हाथ में फोन ले रखा था और दूसरे हाथ से रानू के हाथ को टच करके सेल्फी के लिए बोला। फैन रानू को देखकर इतनी एक्साइटेड थी कि उसका अपने हाथ पर काबू नहीं था और सामान्य तरीके से छूकर पलटने का कहते हुए सेल्फी की गुजारिश की थी।

लेकिन फैन के सेल्फी देने की बजाए रानू गुस्सा हो गई और उस पर भड़क गईं कि छूकर उसने बात क्यों की। फैन से रानू रूखा व्यवहार कर रही थी लेकिन फिर भी फैन कुछ न बोली और बस मुस्कुराती रही।

इस वीडियो को देखने के बाद सोशल मीडिया यूजर्स और रानू के फैंस भी भड़क गए और वीडियो पर कमेंट्स करना शुरू कर दिए। किसी ने कहा, “शेम शेम”, तो किसी ने कहा, “कोई मायने नहीं रखता कि आप जिंदगी में कहाँ जाते हैं… हमें अपनी जमीन कभी नहीं भूलना चाहिए।” किसी ने कहा कि अब रानू मंडल को घमंड आ गया है, तो किसी ने कहा, “बाप रे ऐसा एटिट्यूड।” वहीं एक यूजर ने लिखा, “भैया अब बदल गए मैडम के तेवर।”

बता दें कि हिमेश रेशमिया के जरिए बॉलीवुड में डेब्यू करने के बाद रानू के हर वीडियो और गाने को लोगों का जबरदस्त सपोर्ट और प्यार मिला। रानू मंडल की लोकप्रियता को लेकर लता जी से जब सवाल किया गया था तो उन्होंने खुशी जाहिर की थी। लेकिन उसके साथ ही यह भी बात कही थी कि नकल करना कला नहीं है। 

लता मंगेश्कर ने एक इंटरव्यू के दौरान कहा था, “अगर मेरे नाम और काम से किसी का भला होता है तो मैं अपने आप को खुश किस्मत समझती हूँ। लेकिन मुझे यह भी लगता है कि नकल, सफलता के लिए एक विश्वसनीय और टिकाऊ साथी नहीं है। मेरे, किशोर दा, रफी साहब, मुकेश भैया या आशा के गानों को गाकर आकांक्षी गायकों को कुछ समय के लिए तो अटैंशन मिल सकता है, लेकिन यह लंबा नहीं चलेगा।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सुरक्षा परिषद का स्थायी सदस्य बने भारत: एलन मस्क की डिमांड को अमेरिका का समर्थन, कहा- UNSC में सुधार जरूरी

एलन मस्क द्वारा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता की दावेदारी का समर्थन करने के बाद अमेरिका ने इसका समर्थन किया है।

BJP ने बनाया कैंडिडेट तो मुस्लिमों के लिए ‘गद्दार’ हो गए प्रोफेसर अब्दुल सलाम, बोले- मस्जिद में दुर्व्यव्हार से मेरा दिल टूट गया

डॉ अब्दुल सलाम कहते हैं कि ईद के दिन मदीन मस्जिद में वह नमाज के लिए गए थे, लेकिन वहाँ उन्हें ईद की मुबारकबाद की जगह गद्दार सुनने को मिला।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe