Friday, August 12, 2022
Homeसोशल ट्रेंडRaGa के इस्तीफे से आहत हसीब अहमद ने माँगी इच्छा मृत्यु, लोगों ने कहा...

RaGa के इस्तीफे से आहत हसीब अहमद ने माँगी इच्छा मृत्यु, लोगों ने कहा पहली फुरसत में निकल

नदीम नाम के एक शख्स ने लिखा- "राष्ट्रपति महोदय... कभी-कभी इतिहास भी रच देना चाहिए।" एक अन्य शख्स ने लिखा- "लोकतंत्र है, जिसमें सभी की राय का सम्मान होना ही चाहिए। अतः राष्ट्रपति महोदय बगैर देर किए उनकी इच्छा मृत्यु की माँग मान लें।"

कॉन्ग्रेस अध्यक्ष पद से राहुल गाँधी के इस्तीफे के बाद पार्टी में शुरू हुआ नाटक हर रोज नई शक्ल अख्तियार करता जा रहा है। कोई फाँसी लगाने को तैयार है, तो कोई उन्हें इस्तीफा वापस लेने के लिए खून से पत्र लिख रहा है। वहीं, कुछ लोग आत्मदाह की भी धमकी दे चुके हैं। लेकिन इस बार राहुल गाँधी को अपनी भक्ति साबित करने के लिए सबसे ज्यादा क्रिएटिव तरीका लेकर आए हैं प्रयागराज कॉन्ग्रेस कमेटी के महासचिव हसीब अहमद।

नया नाटक प्रयागराज में सामने आया है। वहाँ कॉन्ग्रेस कमेटी के महासचिव हसीब अहमद ने राहुल गाँधी के इस्तीफे से आहात होकर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिकर इच्छा मृत्यु की अनुमति माँगी है। इस पत्र के सार्वजनिक होते ही सोशल मीडिया पर भी प्रतिक्रियाओं की बाढ़ सी आ गई है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को लिखे पत्र में हसीब अहमद लिखते हैं, “कॉन्ग्रेस अध्यक्ष पद से राहुल गाँधी के इस्तीफे से करोड़ों कॉन्ग्रेस कार्यकर्ता आहत हैं।” उन्होंने आगे लिखा है कि जिस देश में गाँधी विचारधारा का नेतृत्व करने वाले नेता को लोग अनसुना एवं अनदेखा कर दें, उस देश में जीने का कोई मतलब नहीं रह जाता है। इसके साथ ही उन्होंने देश की न्याय प्रणाली पर विश्वास रखते हुए इच्छा मृत्यु की अनुमति देने की माँग की है।

सोशल मीडिया पर आ रही हैं प्रतिक्रियाएँ

कॉन्ग्रेस नेता के इस पत्र के सार्वजनिक होते ही सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाओं की बाढ़ सी आ गई है। हसीम अहमद के फेसबुक अकाउंट पर भी लोग इस संवेदनशील मुद्दे का मजाक बना रहे हैं। नदीम नाम के एक शख्स ने लिखा- “राष्ट्रपति महोदय…कभी-कभी इतिहास भी रच देना चाहिए” एक अन्य शख्स ने लिखा- “लोकतंत्र है, जिसमें सभी की राय का सम्मान होना ही चाहिए। अतः राष्ट्रपति महोदय बगैर देर किए उनकी इच्छा मृत्यु की माँग मान लें।”

हसीब अहमद अपनी फेसबुक वॉल पर बहुत दिन से राहुल गाँधी से इस्तीफ़ा वापस लेने की अपील कर रहे हैं। उनके पोस्ट पढ़कर भी यही महसूस हो रहा है कि वो वास्तव में राहुल गाँधी के इस्तीफे को दिल पर ले चुके हैं और अब किसी गहरे सदमे में हैं, शायद इसी वजह से उन्होंने इच्छा मृत्यु की भी माँग की है। कुछ लोगों ने हसीब अहमद को यह भी नसीहत दी है कि इस्लाम में मौत माँगना गुनाह है।

जिस तरह से हर दिन इस्तीफे के बाद राहुल गाँधी के समर्थकों की प्रतिक्रियाएँ आ रही हैं, उन्हें इस बारे में फिर से विचार करना चाहिए। वरना समर्थकों में दंगों सी स्थिति फैल सकती है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

आशीष नौटियाल
आशीष नौटियाल
पहाड़ी By Birth, PUN-डित By choice

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘द सैटेनिक वर्सेज’ के लेखक सलमान रुश्दी पर जुमे के दिन चाकू से हमला, न्यूयॉर्क में हुई वारदात

'द सैटेनिक वर्सेज' के लेखक उपन्यासकार सलमान रुश्दी को न्यूयॉर्क में भाषण देने से पहले पर चाकू से हमला किया गया है।

‘मानसखण्ड मंदिर माला मिशन’ के जरिए प्राचीन मंदिरों को आपस में जोड़ेंगे CM धामी, माँ वाराही देवी मंदिर में पूजा-अर्चना कर बगवाल में हुए...

सीएम धामी ने कुमाऊँ के प्राचीन मंदिरों को भव्य बनाने और उन्हें आपस में जोड़ने के लिये मानसखण्ड मंदिर माला मिशन की शुरुआत की।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,239FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe