Monday, October 18, 2021
Homeसोशल ट्रेंडभारत विरोधी और ISI समर्थित नेटवर्क चलाने वाले सैकड़ों पाकिस्तानी सोशल मीडिया अकाउंट सस्पेंड

भारत विरोधी और ISI समर्थित नेटवर्क चलाने वाले सैकड़ों पाकिस्तानी सोशल मीडिया अकाउंट सस्पेंड

"भारत की छवि खराब करने के लिए प्रोपेगेंडा चलाया जा रहा है। यहाँ फेक न्यूज और गलत जानकारियाँ फैलाई जा रही हैं। SIO की यह रिपोर्ट पढ़नी चाहिए कि किस तरह जानबूझकर ये फर्जी प्रोपेगेंडा फैलाया जा रहा है। सच्चाई दुनिया के सामने आ चुकी है।"

स्टेन्फोर्ड इंटरनेट ऑब्जर्वेट्री (SIO) की एक रिपोर्ट में पाकिस्तान के फेसबुक और इंस्टाग्राम के एक नेटवर्क को उजागर किया गया है। ये सोशल मीडिया अकाउंट पाकिस्तानी सत्ताधारी प्रतिष्ठान की आलोचना करने वाले फेसबुक पेजों की सामूहिक रूप से रिपोर्टिंग करने में लिप्त थे।

स्टेन्फोर्ड इंटरनेट ऑब्जर्वेट्री की रिपोर्ट में कहा गया है कि 31 अगस्त 2020 को पाकिस्तान से ऑपरेट हो रहे 103 फेसबुक पेज, 78 फेसबुक ग्रुप, 453 फेसबुक अकाउंट और 107 इंस्टाग्राम अकाउंट्स को गलत व्यवहार में शामिल होने के चलते सस्पेंड कर दिया गया।

फेसबुक ने इस कार्रवाई में इस नेटवर्क को बनाने में पाकिस्तानियों के शामिल होने की बात कही। फेसबुक ने 28 अगस्त को SIO के साथ इस नेटवर्क का एक हिस्सा साझा करते हुए जानकारी दी थी, जिसके बाद SIO ने जाँच की और अपनी रिपोर्ट सामने लाई। 

रिपोर्ट में बताया गया है कि कैसे पाकिस्तान में सोशल मीडिया एकाउंट्स के एक नेटवर्क ने पाकिस्तानी राष्ट्रवादी संदेश पोस्ट किए और भारत सरकार की आलोचना की। इसने इस बात पर भी प्रकाश डाला कि कैसे ग्रुप्स और पेज चलाने वालों ने सोशल मीडिया यूजर्स को इस्लाम या पाकिस्तानी सेना/सरकार की आलोचना करने वाले एकाउंट्स को रिपोर्ट करने का नेटवर्क चलाया जा रहा था।

इनमें से कई ग्रुप्स और पेजेज़ के ज़रिए पाकिस्तानी राष्ट्रवादी सामग्री पोस्ट की गई, जिसमें आईएसआई, पाकिस्तान की सत्ताधारी पार्टी तहरीक-ए-इंसाफ की तारीफ भी शामिल है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि उनके पोस्ट भारत में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करने में काफी सक्रिय थे।

Report by SIO

पाकिस्तान के कुछ नेता भी इन ग्रुप्स से जुड़े हुए हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान में इस तरह की गतिविधि का यह पहला मामला नहीं है। अप्रैल 2019 में फेसबुक ने पाकिस्तानी सेना के इंटरसर्विस पब्लिक रिलेशन विंग से जुड़े एकाउंट्स के एक नेटवर्क को निलंबित कर दिया था। पाकिस्तानी राजनेता पाकिस्तान में प्रो-हैशटैग ट्रेंड कराने के लिए प्रमुख सोशल मीडिया ट्रोल के साथ सीधे काम करते हैं।

एसआईओ के एक रिसर्च स्कॉलर शेल्बी ग्रॉसमैन के अनुसार, इन ग्रुप्स ने अपनी सफलताओं के बारे में बार-बार दावा किया और जानबूझकर फर्जी नाम से अकाउंट बनाकर अन्य अकाउंट्स को टारगेट किया, जो कि स्पष्ट रूप से फेसबुक की नीतियों का उल्लंघन है। शेल्बी ग्रॉसमैन ने कहा कि नेटवर्क ने एक साथ ढेर सारे अकाउंट को रिपोर्ट करने के लिए क्रोम एक्सटेंशन ऑटो रिपोर्टर का इस्तेमाल किया, जो संभवत: सीधे रिपोर्टिंग का लिंक जेनरेट करता है।

सोशल मीडिया पर पाकिस्‍तान की फर्जी खबरों को लेकर भारत ने अपनी कड़ी आपत्ति दर्ज की है। खासकर फेसबुक और इंस्‍टाग्राम पर फर्जी सामाचार प्रचारित करने का पाकिस्‍तान को दोषी ठहराया है। संयुक्‍त राष्‍ट्र में भारत के स्‍थाई प्रतिनिधि ने बताया कि फेसबुक और इंस्‍टाग्राम का इस्‍तेमाल दुर्भावनापूर्ण प्रचार, गलत सूचना और फर्जी खबरों के लिए किया जा रहा है। 

संयुक्‍त राष्‍ट्र में भारत के स्‍थाई प्रतिनिधि ने ट्वीट के जरिए पाकिस्‍तान की इस हरकत को संयुक्‍त राष्‍ट्र के समक्ष रखा। स्‍थाई प्रतिनिधि का यह ट्वीट तब आया है, जब फेसबुक और इंस्‍टाग्राम ने पाकिस्‍तान के कई समूहों और व्‍यक्तिगत अकाउंट पर कार्रवाई करते हुए भारत विरोधी कई पोस्‍टों को ब्‍लॉक कर दिया है।

यूएन में भारत के स्थायी प्रतिनिधि ने एक ट्वीट में इस रिपोर्ट को शेयर किया है। यूएन में भारत के परमानेंट मिशन के ट्विटर हैंडल पर कहा गया, “भारत की छवि खराब करने के लिए प्रोपेगेंडा चला जा रहा है। यहाँ फेक न्यूज और गलत जानकारियाँ फैलाई जा रही हैं। एसआईओ की यह रिपोर्ट पढ़नी चाहिए कि किस तरह जानबूझकर ये फर्जी प्रोपेगेंडा फैलाया जा रहा है। सच्चाई दुनिया के सामने आ चुकी है।”

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कश्मीर घाटी में गैर-कश्मीरियों को सुरक्षाबलों के कैंप में शिफ्ट करने की एडवाइजरी, आईजी ने किया खंडन

घाटी में गैर-कश्मीरियों को सुरक्षाबलों के कैंप में शिफ्ट करने की तैयारी। आईजी ने किया खंडन।

दुर्गा पूजा जुलूस में लोगों को कुचलने वाला ड्राइवर मोहम्मद उमर गिरफ्तार, नदीम फरार, भीड़ में कई बार गाड़ी आगे-पीछे किया था

भोपाल में एक कार दुर्गा पूजा विसर्जन में शामिल श्रद्धालुओं को कुचलती हुई निकल गई। ड्राइवर मोहम्मद उमर गिरफ्तार। साथ बैठे नदीम की तलाश जारी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,527FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe