Thursday, June 13, 2024
Homeसंपादक की पसंदगाड़ी पर कंट्रोल न खोएँ, नहीं तो हो सकता है मोए-मोए… जानें भारत में...

गाड़ी पर कंट्रोल न खोएँ, नहीं तो हो सकता है मोए-मोए… जानें भारत में क्यों वायरल है सर्बिया का ये गाना, दिल्ली पुलिस से लेकर इंस्टाग्राम तक पर रील्स की बाढ़

मोए-मोए गाना इन दिनों सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा है और धड़ाधड़ इस पर रील्स बनाई जा रही हैं। दिल्ली पुलिस ने भी एक रील बनाई है। ये गाना एक सरबीरियाई एल्बम से लिया गया है।

ट्विटर पर आज Moye-Moye गाना ट्रेंड पर है। लोग इस हैशटैग के अतर्गत अलग-अलग रील्स डाल रहे हैं। इनमें कुछ ओरिजनल कंटेंट हैं तो कुछ मीम आधारित। इस ट्रेंडिंग ऑडियो पर दिल्ली पुलिस ने भी एक वीडियो बनाई है। इसमें पुलिस ने एक बाइक स्टंट दिखाने वाली वीडियो शेयर की।

इस वीडियो को जनहित में जारी किया गया, लेकिन मजेदार ढंग से। दिल्ली पुलिस ने लिखा है- “गाड़ी पर कंट्रोल न खोएँ, नहीं तो हो सकता है मोए-मोए।”

बता दें कि ‘मोए-मोए’ गाने को तेया डोरा ने गाया है। इसका असली उच्चारण ‘मोजे मोर’ है। इसको तेरा ने सर्बियाई रैपर स्लोबोदान वेल्कोविक कोबी की मदद से लिखा है। म्यूजिक वीडियो को अब तक 57 लाख से अधिक व्यूज मिल चुके हैं। एल्बम का नाम Dzanum है जोकि दर्द भरे इमोशन के साथ गाया गया था। मगर टिकटॉक और इंस्टा पर आते ही इसे मजाकिया अंदाज में शेयर किया जाने लगा।

दिल्ली पुलिस की तरह सामान्य यूजर्स भी इस गाने पर ताबड़तोड़ रील्स बना रहे हैं। जैसे वर्ड कप के मुद्दे पर ये रील बहुत वायरल हो रही है।

एक जुदाई फिल्म की क्लिप शेयर करके दिखाया जा रहा है कि इंजीनियर से शादी करने पर क्या हो सकता है।

कुछ लोग ट्विटर पर मोए-मोए गाने के पीछे शोले फिल्म के गब्बर को भी लगा रही है और कह रहे हैं कि यहाँ से ये ट्रेंड शुरू हुआ था।

जिन्हें नहीं पता है उन्हें बता दें कि ‘मोए-मोए’ गाने पर आजकल एक ही तरह की रील्स डाली जा रही हैं जिसमें मजाकिया अंदाज में दिखाया जाता है कि दूसरे व्यक्ति के पास कोई अंग नहीं है और इसका दुख दिखाने के लिए लोग मोए-मोए गाने पर नाचने लगते हैं।

इस ट्रेंड का हिस्सा होने के लिए कुछ लोग अश्लील वीडियो भी बनाते हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कश्मीर समस्या का इजरायल जैसा समाधान’ वाले आनंद रंगनाथन का JNU में पुतला दहन प्लान: कश्मीरी हिंदू संगठन ने JNUSU को भेजा कानूनी नोटिस

जेएनयू के प्रोफेसर और राजनीतिक विश्लेषक आनंद रंगनाथन ने कश्मीर समस्या को सुलझाने के लिए 'इजरायल जैसे समाधान' की बात कही थी, जिसके बाद से वो लगातार इस्लामिक कट्टरपंथियों के निशाने पर हैं।

शादीशुदा महिला ने ‘यादव’ बता गैर-मर्द से 5 साल तक बनाए शारीरिक संबंध, फिर SC/ST एक्ट और रेप का किया केस: हाई कोर्ट ने...

इलाहाबाद हाई कोर्ट में जस्टिस राहुल चतुर्वेदी और जस्टिस नंद प्रभा शुक्ला की बेंच ने इस मामले की सुनवाई करते हुए कहा कि सबूत पेश करने की जिम्मेदारी सिर्फ आरोपित का ही नहीं है, बल्कि शिकायतकर्ता का भी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -