Thursday, January 20, 2022
Homeसोशल ट्रेंड'टिड्डों का पकवान बनाइए, करी के साथ टिड्डा बिरयानी खाइए' - पाकिस्तान के कृषि...

‘टिड्डों का पकवान बनाइए, करी के साथ टिड्डा बिरयानी खाइए’ – पाकिस्तान के कृषि मंत्री का Viral Video

कृषि मंत्री के Viral Video के बाद एक रेस्तरां के मालिक ने टिड्डों को पकाने का तरीका भी शेयर किया है। उसने बताया है कि पहले टिड्डे साफ करने पड़ते हैं और फिर उसके पैर को शरीर अलग किया जाता है और...

पाकिस्तान के कराची में इन दिनों टिड्डों का कहर भरपाया हुआ है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार वहाँ की जनता टिड्डों की बढ़ती संख्या से काफी परेशान हैं। लेकिन इस बीच पाकिस्तान के एक मंत्री का बड़ा अटपटा बयान आया है। जिसके कारण सोशल मीडिया पर लोगों को पाकिस्तान पर हँसने का एक बार फिर मौका मिल गया।

दरअसल, इन दिनों टिड्डों से परेशान कराची की जनता को समस्या का समाधान बताते हुए सोशल मीडिया पर सिंध के कृषि मंत्री इस्माइल राहू का एक वीडियो क्लिप वायरल हो रहा है। जिसमें वह बताते नजर आ रहे हैं कि कराची के लोगों को टिड्डियों के पकवान बनाने चाहिए। इस वीडियो में वह लोगों कों कीड़ों के साथ बिरयानी और करी खाने की सलाह दे रहे हैं और बता रहे हैं कि इनसे स्वादिष्ट व्यंजन तैयार करके स्थिति का लाभ उठाना चाहिए।

हालाँकि इसके बाद वे अपनी बात को मजाकिया लहजे में कहते हुए भी नजर आते हैं कि आखिर वह टिड्डे इतने दूर से आए हैं। इसलिए यहाँ के लोगों को उन्हें खाना ही चाहिए। लेकिन बाद में लोगों को आश्वस्त करते दिखते हैं कि इन कीड़ों से कराची के मलीर में फसलों को कोई नुकसान नहीं पहुँचा है और साथ ही सरकार इन्हें मारने वाली दवाइयों के छिड़काव पर भी काम कर रही है। इसलिए जनता बेफिक्र रहे।

बता दें इस मामले के संबंध में द न्यूज इंटरनेशनल ने टिड्डों का एक वीडियो भी शेयर किया है, इसमें वह आसमान में उड़ते नजर आए हैं। इसके अलावा एक रेस्तरां के मालिक ने टिड्डों को पकाने का तरीका भी शेयर किया है। उसने बताया है कि पहले टिड्डे साफ करने पड़ते हैं और फिर उसके पैर को शरीर अलग किया जाता है। इतना ही नहीं, वहाँ के स्थानीय लोगों ने टिड्डियों को विटामिन का एक बड़ा स्रोत कहा है।

उल्लेखनीय है कि बीते दिनों टिड्डों के झुंड की वजह से सिंध और नॉर्दन के बीच खेला गया मैच भी रोकना पड़ा था। स्थिति इतनी बिगड़ गई थी कि खिलाड़ियों को टिड्डों से बचने के लिए अपनी आँख और कान कवर करने पड़े।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘सपा सरकार है और सीएम हमारी जेब मैं है, जो चाहेंगे वही होगा’: कॉन्ग्रेस को समर्थन का ऐलान करने वाले तौकीर रजा पर बहू...

निदा खान कॉन्ग्रेस के समर्थक मौलाना तौकीर रजा खान की बहू हैं। उन्हें उनके शौहर ने कहा था कि वो नहीं चाहते कि परिवार की महिलाएं पढ़े।

शहजाद अली के 6 दुकानों पर चला शिवराज सरकार का बुलडोजर, कार्रवाई के बाद सुराना गाँव के हिंदुओं ने हटाई मकान बेचने वाली सूचना

मध्य प्रदेश प्रशासन की कार्रवाई के बाद रतलाम में हिंदू समुदाय ने अपने घरों पर लिखी गई मकान बेचने की सूचना को मिटा दिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
152,413FollowersFollow
413,000SubscribersSubscribe