Wednesday, May 18, 2022
Homeसोशल ट्रेंडAR रहमान का माँ तुझे सलाम और ट्विटर की कॉपीराइट पॉलिसी: आखिर क्यों ब्लॉक...

AR रहमान का माँ तुझे सलाम और ट्विटर की कॉपीराइट पॉलिसी: आखिर क्यों ब्लॉक हुआ रविशंकर प्रसाद का ट्विटर एकाउंट

यह सूचना मिली है कि 2017 में किए गए पोस्ट के कारण रविशंकर प्रसाद के ट्विटर अकाउंट को ब्लॉक कर दिया गया था। यह जानकारी तब सामने आई जब ट्विटर ने लुमेन डेटा प्रकाशित किया जहाँ यह स्पष्ट रूप से बताया गया कि इसी पोस्ट के कारण रविशंकर प्रसाद के ट्विटर हैंडल को ब्लॉक कर दिया गया था।

संयुक्त राज्य अमेरिका के कॉपीराइट अधिनियम का कथित रूप से उल्लंघन करने पर केंद्रीय कानून और न्याय एवं इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद के एकाउंट को ब्लॉक करने के लिए माइक्रो-ब्लॉगिंग साइट ट्विटर एक बार फिर से जाँच के दायरे में आ गया।

केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने एक ट्वीट करते हुए कहा कि उनके एकाउंट के साथ कुछ बहुत ही अजीबोगरीब घटना हुई है। मंत्री ने कहा कि ट्विटर ने संयुक्त राज्य अमेरिका के डिजिटल मिलेनियम कॉपीराइट एक्ट का उल्लंघन होने के कथित आधार पर लगभग एक घंटे तक उनके अकाउंट को ब्लॉक कर दिया था।

हालाँकि मंत्री का ट्विटर अकाउंट सार्वजनिक तौर पर दिखाई दे रहा था लेकिन रिपोर्ट्स के मुताबिक ट्विटर ने किसी भी अधिकृत व्यक्ति को लॉग इन करने या कोई पोस्ट करने की अनुमति नहीं दी।

जब मंत्री रविशंकर प्रसाद ने ट्विटर अकाउंट @rsprasad को एक्सेस करने की कोशिश की तो ट्विटर ने उन्हें यह कहते हुए एक संदेश भेजा, “आपका अकाउंट लॉक कर दिया गया है क्योंकि ट्विटर को आपके अकाउंट पर पोस्ट की गई सामग्री के लिए डिजिटल मिलेनियम कॉपीराइट एक्ट (DMCA) के तहत नोटिस मिला है। DMCA के तहत कॉपीराइट का वास्तविक मालिक ट्विटर को यह दावा करते हुए सूचित कर सकते हैं कि किसी उपयोगकर्ता ने उनके कॉपीराइट कार्यों का उल्लंघन किया है। एक लीगल नोटिस प्राप्त होने पर ट्विटर उस सामग्री को हटा देगा। ट्विटर कॉपीराइट उल्लंघन की नीति बनाए रखता है, जिसके तहत बार-बार उल्लंघन करने वाले एकाउंट्स को निलंबित भी किया जा सकता है।“ यह सूचना मिली है कि 2017 में किए गए पोस्ट के कारण रविशंकर प्रसाद के ट्विटर अकाउंट को ब्लॉक कर दिया गया था।

16 दिसंबर 2017 को जब भारत विजय दिवस मना रहा था तब रविशंकर प्रसाद ने एक वीडियो पोस्ट किया था जो 1971 के दौरान अपने प्राणों की आहुति देने वालों के लिए एक श्रद्धांजलि थी। इस युद्ध में भारत ने पाकिस्तान को हराया और बांग्लादेश एक स्वतंत्र देश के रूप में अस्तित्व में आया था। उस वीडियो के बैकग्राउंड म्यूजिक में ‘माँ तुझे सलाम’ था जिसे एआर रहमान ने गाया था और सोनी म्यूजिक ने प्रोड्यूस किया था।

रविशंकर प्रसाद द्वारा किया गया ट्वीट

यह जानकारी तब सामने आई जब ट्विटर ने लुमेन डेटा प्रकाशित किया जहाँ यह स्पष्ट रूप से बताया गया कि इसी पोस्ट के कारण रविशंकर प्रसाद के ट्विटर हैंडल को ब्लॉक कर दिया गया था।

ट्विटर द्वारा प्रकाशित लुमेन का डाटा

डिजिटल मिलेनियम कॉपीराइट एक्ट (DMCA) 1998 का ​​संयुक्त राज्य अमेरिका का कॉपीराइट कानून है जो विश्व बौद्धिक संपदा संगठन की 1996 की दो संधियों को लागू करता है।

रविशंकर प्रसाद की पोस्ट, जिसमें बैकग्राउंड म्यूजिक के रूप में माँ तुझे सलाम का इस्तेमाल किया गया था, को इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ फोनोग्राफिक इंडस्ट्री (आईएफपीआई) द्वारा कॉपीराइट उल्लंघन के रूप में चिह्नित किया गया था, जैसा कि डीएमसीए नोटिस पर ‘सेंडर’ की जानकारी से देखा जा सकता है।

सोनी म्यूजिक एंटरटेनमेंट द्वारा पोस्ट को रिपोर्ट किया गया था हालांकि यह ध्यान रखना उचित है कि DMCA का कई तत्वों द्वारा दुरुपयोग किया जा सकता है। कई YouTube ग्राहकों को भी कानून के कारण नुकसान उठाना पड़ा है खासकर जब से DMCA कोई समय सीमा नहीं देता है, जिसके भीतर कथित कॉपीराइट उल्लंघन की रिपोर्ट की जानी है।

इंटरनेशनल फेडरेशन ऑफ द फोनोग्राफिक इंडस्ट्री एक ऐसा संगठन है जो दुनिया भर में रिकॉर्डिंग उद्योग के हितों का प्रतिनिधित्व करता है। यह एक गैर-लाभकारी सदस्यों का संगठन है जो स्विट्जरलैंड में पंजीकृत है और 1933 में इटली में स्थापित किया गया था।

नवंबर 2020 में ट्विटर ने केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के एकाउंट का डिस्प्ले पिक्चर यह कहते हुए हटा दिया था कि डिस्प्ले पिक्चर की कॉपीराइट होल्डर द्वारा रिपोर्ट की गई है। ट्विटर ने शाह के एकाउंट को लॉक भी कर दिया था। हालाँकि बाद में ट्विटर ने अपनी इस एकपक्षीय कार्रवाई की सफाई देते हुए इसे एक गलती बताया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

सबा नकवी ने एटॉमिक रिएक्टर को बता दिया शिवलिंग, विरोध होने पर डिलीट कर माँगी माफ़ी: लोग बोल रहे – FIR करो

सबा नकवी ने मजाक उड़ाते हुए कहा कि भाभा एटॉमिक रिसर्च सेंटर में सबसे बड़े शिवलिंग की खोज हुई। व्हाट्सएप्प फॉरवर्ड बता कर किया शेयर।

गुजरात में बुरी तरह फेल हुई AAP की ‘परिवर्तन यात्रा’, पंजाब से बुलाई गाड़ियाँ और लोग: खाली जगह की ओर हाथ हिलाते रहे नेता

AAP नेता और पूर्व पत्रकार इसुदान गढ़वी रैली में हाथ दिखाकर थक चुके थे लेकिन सामने कोई उनकी बात का जवाब नहीं दे रहा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
186,677FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe