Wednesday, June 19, 2024
Homeसोशल ट्रेंडरवीन्द्र जडेजा ने शेयर किया तलवारबाजी स्किल का वीडियो: लिबरल्स ने राजपूतों के खिलाफ...

रवीन्द्र जडेजा ने शेयर किया तलवारबाजी स्किल का वीडियो: लिबरल्स ने राजपूतों के खिलाफ नफरत भरे ट्वीट्स की झड़ी लगा दी

क्रिकेटर रवीन्द्र सिंह जडेजा ने रविवार को ट्विटर पर अपनी तलवार बाजी स्किल्स का प्रदर्शन किया।

हालाँकि, जैसे ही जडेजा ने यह वीडियो शेयर किया, लिबरल्स और इस्लामिस्ट्स ने न केवल उनकी तलवारबाजी स्किल का मजाक बनाना शुरू कर दिया बल्कि राजपूत समुदाय को गाली देना भी शुरू कर दिया।

जेएनयूएसयू के पदाधिकारी जैसे इस्लामिस्ट्स को भी राजपूतों के खिलाफ इस घृणा में शामिल होते देर नहीं लगी।

शेखर गुप्ता के द प्रिंट में कॉलम लिखने वाले ने भी राजपूत समुदाय का मजाक उड़ाने वाली कतार में शामिल होने में देर नहीं की।

स्वघोषित लिबरल्स ने भी memes शेयर कर यह दर्शाने की कोशिश की कि राजपूतों ने इतिहास में कभी कोई महत्त्वपूर्ण लड़ाई नहीं जीती।

इस तरह के शर्मसार कर देने वाले ट्वीट्स और लोगों ने भी किए।

हालाँकि, इस सारी नफरत के बीच कुछ स्वस्थ मजाक भी हुआ, क्रिकेट खिलाड़ी जडेजा की हौसला अफजाई करते दिखे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

कनाडा का आतंकी प्रेम देख भारत ने याद दिलाया कनिष्क ब्लास्ट, 23 जून को पीड़ितों को दी जाएगी श्रद्धांजलि: जानिए कैसे गई थी 329...

भारत ने एयर इंडिया के विमान कनिष्क को बम से उड़ाने की बरसी याद दिलाते हुए कनाडा में वर्षों से पल रहे आतंकवाद को निशाने पर लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -