Wednesday, July 28, 2021
Homeसोशल ट्रेंडशशि थरूर की इस तस्वीर में लोगों ने एक ख़ास बात पकड़ ली, जानिए...

शशि थरूर की इस तस्वीर में लोगों ने एक ख़ास बात पकड़ ली, जानिए क्या है वो बात

दरअसल, सोशल मीडिया पर युवाओं के बीच शशि थरूर की तस्वीरों को लेकर खासा दिलचस्पी रहती है। अक्सर उनकी महिलाओं के साथ खिंची गई तस्वीरों को लोग शेयर करचुटकुले बनाते हुए देखे जाते हैं। ऐसे में आज जनता कर्फ्यू के दौरान उनके अकेले की तस्वीर देख लोगों ने उन्हें धर लिया।

देशभर में जारी जनता कर्फ्यू के दौरान सभी लोग सोशल मीडिया पर सक्रिय रूप से अपने-अपने शहर का हाल बयाँ कर रहे हैं। तस्वीरें पोस्ट कर रहे हैं। इन्हीं में से एक हैं कॉन्ग्रेस सांसद शशि थरूर। उन्होंने भी सोशल मीडिया पर अपनी एक तस्वीर डाली है। लेकिन पोस्ट करते ही सोशल मीडिया यूजर्स ने तुरंत उनकी तस्वीर में एक कमी तलाश ली!

शशि थरूर ने ट्विटर पर अपनी तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा, “मैं जनता कर्फ्यू के समर्थन में दिल्ली स्थित अपने आवास पर हूँ। इस बहाने आधे घंटे तक ट्रेडमिल पर पसीना बहाने का अवसर मिला। खुद को स्वस्थ रखकर और कभी न थकने वाले हमारे स्वास्थ्यकर्मियों का बोझ न बढ़ाकर हम उन्हें धन्यवाद दे सकते हैं!”

शशि थरूर के इस ट्वीट को भाजपा नेता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने रिट्वीट करते हुए लिखा, “सर आज पहली बार आपको अकेले देखा।”

@YadavAnja ने शशि थरूर की तस्वीर पर कमेंट करते हुए लिखा, “#JantaCurfew के चलते आज अकेला मंडरा रहा है भंवरा।”

@FunMauji ने लिखा, “आज कोई मिली नहीं सेल्फी के लिए?”

दरअसल, सोशल मीडिया पर युवाओं के बीच शशि थरूर की तस्वीरों को लेकर खासा दिलचस्पी रहती है। अक्सर उनकी महिलाओं के साथ खिंची गई तस्वीरों को लोग शेयर करचुटकुले बनाते हुए देखे जाते हैं। ऐसे में आज जनता कर्फ्यू के दौरान उनके अकेले की तस्वीर देख लोगों ने उन्हें धर लिया।

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के संक्रमण का प्रसार रोकने के लिए पूरे देश में आज पीएम नरेंद्र मोदी की अपील पर जनता कर्फ्यू है। सड़कों पर सन्नाटा पसरा है और लोग अपने घरों में हैं। इस बीच, कई राज्यों ने 31 मार्च तक पूरी तरह लॉकडाउन का फैसला किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बद्रीनाथ नहीं, वो बदरुद्दीन शाह हैं…मुस्लिमों का तीर्थ स्थल’: देवबंदी मौलाना पर उत्तराखंड में FIR, कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी

मौलाना के खिलाफ़ आईपीसी की धारा 153ए, 505, और आईटी एक्ट की धारा 66F के तहत केस किया गया है। शिकायतकर्ता का आरोप है कि उसके बयान से हिंदू भावनाएँ आहत हुईं।

बसवराज बोम्मई होंगे कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री: पिता भी थे CM, राजीव गाँधी के जमाने में गवर्नर ने छीन ली थी कुर्सी

बसवराज बोम्मई के पिता एस आर बोम्मई भी राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं, जबकि बसवराज ने भाजपा 2008 में ज्वाइन की थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,573FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe