Friday, July 19, 2024
Homeसोशल ट्रेंडउत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती में 3 वर्ष बढ़ाई गई आयु सीमा: CM योगी ने...

उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती में 3 वर्ष बढ़ाई गई आयु सीमा: CM योगी ने लिया निर्णय, सोशल मीडिया पर उठी थी आवाज

"युवाओं के हितों एवं उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए आपकी सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है। उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती में आरक्षी नागरिक पुलिस के पद पर भर्ती हेतु जारी प्रक्रिया में सभी वर्गों के अभ्यर्थियों के लिए उच्चतम आयु सीमा में तीन वर्ष की छूट देने का निर्णय लिया गया है।"

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने युवाओं की माँग को मानते हुए पुलिस भर्ती में आयु सीमा को लेकर 3 वर्ष की छूट प्रदान की है। पहले इस भर्ती में आयु सीमा 22 वर्ष थी, जिसे अब बढ़ा कर 25 वर्ष कर दिया गया है। उत्तर प्रदेश के युवाओं ने इस काम के लिए मुख्यमंत्री योगी को धन्यवाद दिया है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने एक्स (पहले ट्विटर) पर लिखा, “युवाओं के हितों एवं उनके उज्ज्वल भविष्य के लिए आपकी सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है। इसी क्रम में उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती में आरक्षी नागरिक पुलिस के पद पर भर्ती हेतु जारी प्रक्रिया में सभी वर्गों के अभ्यर्थियों के लिए उच्चतम आयु सीमा में तीन वर्ष की छूट देने का निर्णय लिया गया है।”

दरअसल, 22 दिसम्बर 2023 को उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड उत्तर प्रदेश पुलिस में कॉन्स्टेबल पदों के लिए 60,244 भर्तियाँ निकाली थीं। इसमें पुरुष अभ्यर्थियों के लिए आयु की उच्चतम सीमा 22 वर्ष जबकि महिला अभ्यर्थियों के लिए यह सीमा 25 वर्ष रखी गई थी।

इस भर्ती में आयु सीमा के कारण सामान्य वर्ग के युवाओं में काफी रोष था। दरअसल, सामान्य वर्ग के युवाओं को 22 वर्ष की ही आयु सीमा का पालन करना था जबकि अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जाति/जनजाति को इसमें 5 वर्षों तक की छूट थी।

सामान्य वर्ग के युवाओं का कहना था कि 22 वर्ष से ऊपर हो चुके युवाओं को एक भी मौका उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती का नहीं मिला है क्योंकि पिछली बार 2018 में पुलिस भर्ती लाई गई थी तब वह अंडरएज (वांछित आयु से कम) थे और अब उन्हें ओवरएज (वांछित आयु से अधिक) घोषित कर दिया गया है।

इस भर्ती में पहले 2 जुलाई 2001 के बाद जन्मे सामान्य वर्ग के अभ्यर्थी ही हिस्सा ले सकते थे। अब यह तिथि 2 जुलाई 1998 हो गई है। इससे अब 2018 वाली भर्ती से वंचित युवाओं को भी इसमें हिस्सा लेने का मौका मिलेगा। सामान्य वर्ग के युवाओं का कहना था कि यह भर्ती 2021 में ही आनी थी, जिससे इन्हें मौका मिल जाता लेकिन कोविड और अन्य कारणों से देर हुई, जिसके कारण यह बाहर हो गए। इसी को लेकर उत्तर प्रदेश में युवाओं ने ट्विटर समेत ज्ञापन अभियान चला कर सरकार से भर्ती में आयु सीमा में छूट देने की माँग की थी।

युवाओं ने इसको लेकर सत्तापक्ष के विधायकों से भी अपनी माँग मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तक पहुँचाई थी। इसी को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 26 दिसम्बर 2023 को इसमें 3 वर्षों की छूट सभी वर्ग के युवाओं को देने का निर्णय लिया है।

आयु सीमा में छूट को लेकर उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड ने आधिकारिक सूचना भी जारी कर दी है। इस भर्ती के लिए आवेदन 27 दिसम्बर 2023 से चालू होकर 16 जनवरी 2024 तक लिए जाएँगे। फरवरी 2024 में इसके लिए परीक्षा करवाए जाने की संभावना जताई जा रही है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जहाँ सब हैं भोले के भक्त, बोल बम की सेवा जहाँ सबका धर्म… वहाँ अस्पृश्यता की राजनीति मत ठूँसिए नकवी साब!

मुख्तार अब्बास नकवी ने लिखा कि आस्था का सम्मान होना ही चाहिए,पर अस्पृश्यता का संरक्षण नहीं होना चाहिए।

अजमेर दरगाह के सामने ‘सर तन से जुदा’ मामले की जाँच में लापरवाही! कई खामियाँ आईं सामने: कॉन्ग्रेस सरकार ने कराई थी जाँच, खादिम...

सर तन से जुदा नारे लगाने के मामले में अजमेर दरगाह के खादिम गौहर चिश्ती की जाँच में लापरवाही को लेकर कोर्ट ने इंगित किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -