Friday, June 25, 2021

विषय

गोवंश

बुलंदशहर हिंसा मामले में 44 अभियुक्तों पर चलेगा राजद्रोह का मुकदमा

मामले की जाँच कर रहे अधिकारी राघवेंद्र मिश्रा के अनुसार, उन्हे स्याना हिंसा के 44 आरोपितों के ख़िलाफ़ भारतीय दंड संहिता की धारा 124-ए के तहत राजद्रोह लगाने की मंज़ूरी मिल गई है।

गौ तस्करों ने गौशाला पर किया हमला, महंत की पिटाई के बाद 3 गाय लेकर हुए फ़रार

इससे पहले की एक घटना में, अलवर ज़िले के तिजारा क्षेत्र में, जो मेवात के अंतर्गत आता है, पुलिस ने अरंडका गाँव में निषाद नाम के एक व्यक्ति के घर पर छापा मारा था और गायों का माँस और खाल बरामद की थी। पुलिस ने पास के खेत में 4-5 संदिग्धों को हिरासत में लिया था।

गौ तस्करी मामले में इरफ़ान, असरफ़ गिरफ़्तार, रियासत अली और अरशद फ़रार, पुलिस पर चढ़ा दी गाड़ी

महिन्द्रा पिकअप और उसमें लदे छह बछड़ों को पुलिस ने अपने क़ब्जे में ले लिया है। बता दें कि पिकअप में लदे छह बछड़ों को नशीली दवा पिलाई गई थी जिससे वो शोर न मचा सकें। फ़िलहाल पुलिस ने मामले की जाँच शुरू कर दी है।

बंग्लादेश में गुस्साई भीड़ ने मंगलवार को दो गाय चोरों को मौत के घाट उतार दिया

भारत में यदि यह घटना घटी होती तो लोग इस घटना को भी सांप्रदायिक बनाने में लग जाते, ऐसे लोगों को बंग्लादेश के इस घटना से समझने की ज़रूरत है कि गायों की रक्षा के लिए सिर्फ़ भारत में ही नहीं बल्कि बंग्लादेश जैसे मुस्लिम देश में भी गौरक्षक हैं।

1500+ गाय, 52 नेत्रहीन, 350 अपाहिज: गौसेवा की अनुपम मिसाल के लिए जर्मन महिला को पद्मश्री

बीमार और असहाय गायों की सेवा करने के कारण उन्हें 'गायों की मदर टेरेसा' भी कहा जाता है। उनके गोशाला में 1,500 से भी अधिक गायें हैं। सारे ख़र्च वह खुद उठातीं हैं।

अलीगढ में दर्जन भर गायों को दफनाने का मामला; नाराज ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

अलीगढ के इगलास थाना इलाके में मथुरा रोड पर अज्ञात लोगों ने नहर किनारे एक गड्ढे में जिंदा गायों को दफन करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने मृत गायों को पोस्टमोर्टेम के लिए अस्पताल भेज दिया है।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
105,782FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe