विषय: बजट2019

निर्मला सीतारमण

मोदी 2.0 का पहला बजट: गाँव, गरीब और किसान पर फोकस

मोदी सरकार की दो प्रमुख योजनाओं उज्जवला और सौभाग्य योजना के कारण ग्रामीण परिवारों के जीवन में नाटकीय बदलाव आया है और उनका जीवन आसान हुआ है। बीते पाँच साल में सात करोड़ परिवारों को एलपीजी कनेक्शन मिले हैं। प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के तहत सरकार का लक्ष्य 2022 तक सभी को घर मुहैया कराना है। शौचालय, बिजली और एलपीजी कनेक्शन के साथ उपलब्ध कराए जा रहे ऐसे 1.54 करोड़ घर गॉंवों में बनाए गए हैं। इस योजना के दूसरे चरण में 2022 तक 1.95 करोड़ और घर बनाए जाएँगे।
बिहार विधानसभा में उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने बजट 2019-20 पेश किया।

बिहार बजट: 11 मेडिकल कॉलेज के साथ किसानों को 1420 करोड़ रुपए का अनुदान

सरकार की तरफ़ से उपमुख्यमंत्री ने कुल 2 लाख 501 करोड़ रुपए का बजट पेश किया है।
भारतीय किसान

अंतरिम बजट में सरकार किसानों को दे सकती है राहत

बजट में सरकार किसानों के साथ उनके परिवारों को भी लाभान्वित करने पर विचार कर रही है। इसमें किसानों के साथ-साथ आर्थिक रूप से पिछड़े हुए परिवारों को भी मदद पहुँचाने के लिए योजना बनाई जा रही है।
Budget

31 जनवरी को पेश करेगी मोदी सरकार इस लोकसभा का अंतिम बजट

यह बजट महत्वपूर्ण होगा क्योंकि अप्रैल-मई में आम चुनाव होने के कारण यह वर्तमान लोकसभा के लिए आखिरी बजट सत्र है

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

82,036फैंसलाइक करें
11,531फॉलोवर्सफॉलो करें
89,260सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें